Followers

Friday, February 18, 2011

उतरा चाँद मेरे आँगन में (चर्चा-४३१)- द्वारा - डॉ नूतन डिमरी गैरोला



            सभी को नूतन का अभिवादन!!

          आज मै बहुत खुश हूँ .. अचानक मेरी नजर एक ब्लॉग पोस्ट पर पडी … कल क्यों ना पड़ी .. बहुत खुशीयाँ ले कर आयी वह पोस्ट ..
हमारी साथी चर्चाकार  संगीता स्वरुप जी दादी बन गयी हैं इसी लिए कुछ चर्चाओं में और ब्लॉग में इन दिनों वह सक्रीय नहीं थी ….
                                 वो बताती हैं 

                          उतरा चाँद मेरे आँगन में   

                        image                      संगीता जी और नवजात भोला नन्हां बेटू   
                 बेटू को और संगीता जी को ढेरों शुभकामनायें |                बेटू के स्वस्थ सफल जीवन के लिए मंगलकामनाएँ!



                         अब करतें हैं चर्चा शुरू

                           कविताएँ 
 


                             प्रेम दिवस                               anubhav से

                     image
                 श्री ओमप्रकाश नौटियाल जी कहते हैं 

            इस देश में पहले ही हर दिन प्यार की रूत थी 
            है उस जमाने की बात जब फुर्सत ही फुर्सत थी |
   



            हे महाप्राण..विराट व्यक्तित्व......निराला                     झंझट के झंझट ब्लॉग से

                      image
                          सुरेन्द्र सिंह “झंझट” जी
                           हे महाप्राण                            विराट व्यक्तित्व                             निराला !!

                आओ ना मितवा अभी मन है प्यासा
               हरी शर्मा - नगरी नगरी द्वारे द्वारे ब्लॉग से
                         image
                            हरी शर्मा जी  
              आओ ना मितवा अभी मन है प्यासा
              रुको जब तक हलचल है, जीवित है आशा


 
                                बगावत
                         rahgeer ब्लॉग से
                        ताबिश “शोहदा” जावेद जी की रचना 

                         एक शमां जली हैं कहीं
                         भडकी कहीं एक चिंगारी है 
                         कुछ सरगर्मी सी नुमाया है
                         एक बड़ी आग की तैयारी है



        
      जिसके घर में, कदम पड़ते ही  
                                                                                          रजनी नैय्यर मल्होत्रा जी
       
        image



                           ऐसी हो अपनी पूजा
                           श्रद्धा सुमन ब्लॉग से 
                      image
                             अनीता जी


 
                       अफ़सोस हुवा मुझे कुछ ज्यादा                          *काव्य-कल्पना* ब्लॉग से
                           image
                            सत्यम शिवम जी



 
           कवि की संगत कविता के साथ : १० : मोहन राणा
                               सबद... ब्लॉग से 
      
                            image
                              अनुराग वत्स जी 
        
                    
              बच्चों की कविता



                    "काँव-काँवकर, चिल्लाया है कौआ"
                                नन्हें सुमन
                      image
                          डॉ रूपचन्द्र शास्त्री जी

                        काले रंग का चतुर चपल 
                        पंछी है सबसे न्यारा,
                        डाली पर बैठे जोड़ो का
                        जोड़ा कितना प्यारा |


  
                         “पंख अगर मेरे होते तो

                            बच्चों का कोना
                       image
                         कैलाश चन्द्र शर्मा जी

                      पंख अगर मेरे होते तो
                      जब मन करता उड़ जाता मैं
                      सुबह नाश्ता घर पर करता
                      नानी के घर खाता      
                  छंद,दोहे, क्षणिकाएं आदि
                                    छंद –१
                               लाल कलम से
                             दीप कुमार पाण्डेय 
          
                         image 
  


                                  एक छंद

                          निनाद गाथा ब्लॉग से 
                           image
                           अभिनव शुक्ला जी



      चौपाई -छंद , आचार्य श्री संजीव वर्मा सलिल जी

                     समस्या पूर्ति ब्लॉग से


          
                    छन्‍द - अमृत ध्वनि - बैरी संशय
                          ब्लॉग ठाले बैठे से




                                  कुछ दोहें              
                              उच्चारण ब्लॉग से 
                        image 
                           डॉ रूपचन्द्र शास्त्री जी

                 स्वस्थ रहें सब जगत में, दाता दो वरदान                   
                  गर्मी,  वर्षा-शीत में, दुखी ना हो इंसान ||


                                   दोहे               सुखनवर - शेरो शायरी का एक दीवाना ब्लॉग से
                              हिमांशु मोहन जी
                         image

                                  गज़ल 


              सर्वप्रथम मैं अब की बार हिंद-युग्म (जनवरी २०११)
              में यूनिकविता प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर रही
                                     गज़ल
                 बहेलिया फिर टाक में बैठे मचानों पर
                       
                         image            
                          नवीन सी चतुर्वेदी 
                       
                  गगनचरों को दे बुलावा चार दानों पर
                  बहेलिया फिर टाक में बैठे मचानो पर
  
   
 जनवरी २०११ का यूनिकवि का परिणाम नवीन जी के नाम
 


                                 गज़ल     
                     image
                               महेंद्र वर्मा जी 
                          ब्लॉग शाश्वत शिल्प से  
  
                         एक दिया तो जल जाने दे 
                         सूरज को कुछ सुस्ताने दे ….
                         बादल हूँ बरसूँगा, पहले
                         पर्वत से तो टकराने दे ||

    आप हिंदयुग्म में सितम्बर माह के यूनिकवि भी रहे |
  



                                
 "ग़ज़ल-आशा शैली हिमाचली" (प्रस्तोता-डॉ. रूपचन्द्र   शास्त्री "मयंक")
                           image
                            श्रीमति आशा शैली 
                            उच्चारण ब्लॉग से
         
                जरा रुको तो कोई जिंदगी की बात करें,
                फिर एक बार मुलाक़ात अपने साथ करें |
           




        
          यहाँ हर सिम्त रिश्ते हैं जो अब मुश्किल निभाना है
  
                              हिमांशु मोहन जी


                                      प्यार
                         afsarpathan ji की एक गज़ल


                
                              पतंगों की जवानी
                            image 
                                डॉ संजय दानी
       
                   तू मेरे सुर्ख गुलशन को हरा कर दे
                   जमीं से आसमां का फासला कर दे ……..
               … भटकना गलियों में मुझे आता नहीं
                   दिले-आशिक को दानी बावरा कर दे



 
                          ऐ दर्द ना सता मुझे ...
                    दिलबाग विर्क जी कि एक गजल
                          हिंदी साहित्य मंच से

               कुछ सुन्दर रचनाएं


               हिन्दी : डॉ.उमाशंकर चतुर्वेदी 'कंचन' ब्लॉग से                              image
                    डॉ उमाशंकर चतुर्वेदी जी

             शुभकामनायें सभी को - संजीव "सलिल"
                      
                          वास्तु नंदिनी ब्लॉग से



                      
                                दैदीप्यमान
                       image  
                             उदय पन्त जी  
                             अपने ब्लॉग से      


                           जब बसेरा थी गुफा
                           नीरज गोस्वामी  जी  
                           image
                              नीरज ब्लॉग से    

                              कथा  




                              सीख मिल गयी
                             हिंदी साहित्य मंच से  
                     डॉ.कुमारेन्द्र सिंह सेंगर जी की कथा

                                    
                                दोहरे मापदंड
                             वीर बहुटी  ब्लॉग से
                             निर्मला कपिला जी 
                         image    

      
                                       दीपा 
                    BIKHARE SITARE ब्लॉग से 
           Kahma jaan जी की कथा दीपा की दसवीं कड़ी

 
                     कौन कहाँ से कहाँ (१५) पंद्रहंवी किस्त                            कथा सागर ब्लॉग से
                            रेखा श्रीवास्तव जी
                          image


 
                 एस के पाण्डेय की लघुकथा – अंधेर
                            रचनाकार ब्लॉग से 
  
                                
                            
          विचार/लेख /परिचय/संस्मरण        


         अच्च्क्के ई पोस्ट पर नज़र पड़ गई.....हाँ नहीं तो...!!                            काव्य मंजूषा से
                               अदा जी
                        image

                अदा जी के बारे में बताती हुवी ये पोस्ट
                             लेखक
                         बालेंदु शर्मा दाधीच
                       राजस्थान पत्रिका से


 क्या भारतीय बहसी होते हैं ? -- The argumentative Indian                          Zeal ब्लॉग से
                        image
                         डॉ दिव्या श्रीवास्तव



                    संकल्पों और विकल्पों का द्वन्द                        परवाज.... शब्दों के पंख से

                          image


  
                             दानवीर कंजूस                            नजरिया ब्लॉग से
                          image
                         सुशील बाकलीवाल जी


 
                               मुहब्बत
                           अंदाज ए मेरा से
                     image
                        अतुल श्रीवास्तव जी

        
                         संगीता स्वरुप "गीत "
                      BLOG WORLD.COM से
                       image 
             बेहद मधुर मुस्कान .. सौम्य मुखमंडल वाली
                             संगीता जी

 
                         ऋचा वेड्स अंशुमान – २                     शादी के रस्मों रिवाज भी जानिये  
                          image                 
                           अभिषेक कुमार जी
                           ब्लॉग मेरी बातें से |

                  
                               ताऊ मिलन समारोह
                          कवि योगेन्द्र मौदगिल ब्लॉग से
                              image
               
              अच्छा तो हम चलतें हैं … फिर मिलेंगे .. 

             चर्चाकार - डॉ नूतन डिमरी गैरोला
           

32 comments:

  1. sarvpratham sangeeta ji ko badhai .aapke dwara prastut charcha hamesha ki tarah sateek-sundar-suvyavasthit rahi .aabhar.

    ReplyDelete
  2. सब से पहले संगीता जी और उनके परिवार में सभी को बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं ! नन्हे बेटू को बहुत बहुत बहुत स्नेहाशीष ! आपका बहुत बहुत आभार कि आपने इतनी बड़ी खबर हम सब के साथ साँझा की !

    चर्चा भी बेहद उम्दा लिंक्स से सजी है ... पर क्या करें आपने चर्चा के पहले ही इतनी बढ़िया खबर सुना दी कि फिलहाल केवल एक सरसरी निगाह ही डाले जा रहे है !

    ReplyDelete
  3. sabse pahle sangeeta ji ko nanhe betu ke liye bahut bahut badhai .
    behad khubsurat charcha poore man se lagai hai aapne.
    bahut badhai aapko nutan ji!

    ReplyDelete
  4. बहुत सुंदर सारगर्भित चर्चा है नूतन जी..... आभार मुझे शामिल करने का......

    ReplyDelete
  5. बहुत उम्दा लिंक उपलब्ध करा दिया, अति आभार. लगभग सभी पर जाना शेष था.

    ReplyDelete
  6. सार्थक और सुन्दर बेहतरीन चर्चा के लिये । आभार नूतन जी ।

    ReplyDelete
  7. अच्छे लिंक ,अच्छी चर्चा

    ReplyDelete
  8. charcha ki shruaat me hi ek nayee zindgi ke aagman ki aapne soochna dee bahut achchha laga.sangeeta ji ko bahut bahut badhai .charcha kai rang samete hai sabhi rang gahrai taq prabhavit kar rahe hain.bahut sundar charcha.badhai.

    ReplyDelete
  9. डॉ. नूतन जी चर्चा मंच को करीने से परोसनें के लिए आपका आभार!

    ReplyDelete
  10. संगीता जी के परिवार में नवागंतुक के आगमन के समाचार ने बहुत हर्षित किया है ! नन्हें 'बेटूजी' को ढेर सारा आशीर्वाद तथा शुभकामनायें एवं संगीताजी को ढेर सारी बधाइयाँ ! चर्चा बहुत ही व्यवस्थित एवं आकर्षक है ! आपने सभी महत्वपूर्ण लिंक्स को समेटा है ! धन्यवाद एवं आभार !

    ReplyDelete
  11. नूतन जी
    सादर अभिवादन
    एक बार फिर से इतना सारा स्नेह उँडेलने के लिए मैं बहुत बहुत अभारी हूँ
    समस्या पूर्ति ब्लॉग को स्थान दे कर आपने हम लोगों के साहित्यिक प्रयासों को और नयी ऊर्जा प्रदान कर दी है
    बाद में बैठ कर बाकी की लिंक्स को भी पढ़ता हूँ

    एक और सुंदर चर्चा प्रस्तुत करने के लिए सहृदय आभार

    आदरणीया संगीता जी को दादी जी बनने पर बहुत बहुत शुभ कामनाएँ
    ईश्वर नवजात शिशु के जीवन में आनंद ही आनंद भर दें

    ReplyDelete
  12. नूतन जी ,

    आज तो आपने मेरा दिन ही बना दिया ....खुशगवार बीतेगा पूरा दिन ..सबकी शुभकामनाओं के साथ ..

    सुगठित और व्यवस्थित चर्चा ....आज कल ब्लोग्स पर जाना कम हो पा रहा है लेकिन फिर भी इस चर्चामंच के माध्यम से कुछ तक तो पहुँच ही जाउंगी ...आभार

    ReplyDelete
  13. सर्वप्रथम संगीता जी को बहुत बहुत बधाई.........नूनत जी बहुत ही आकर्षक ढ़ंग से सजाया है आपने आज का चर्चा मंच....बहुत अच्छे लिंक्स मिले........मेरी कविता "अफसोस हुआ मुझे कुछ ज्यादा" को लेने के लिए आभार।

    ReplyDelete
  14. सब से पहले संगीता जी और उनके परिवार में सभी को बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं ! नन्हे बेटू को बहुत बहुत प्यार्……………बहुत ही सुन्दर लिंक्स लगाये हैं………सार्थक चर्चा…………आभार्।

    ReplyDelete
  15. बहुत सारगर्भित चर्चा..सुन्दर लिंक्स के लिए आभार..मेरी बच्चों के लिए रचना चर्चा में शामिल करने के लिए धन्यवाद..

    ReplyDelete
  16. Sangeeta ji ko phir ekbaar badhayi detee hun!
    Bahut achhe links mil gaye yahan! Links dekhte,dekhte beech hee me ruk tippanee denekee sochee!

    ReplyDelete
  17. संगीता जी को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

    चर्चामंच के लिए चयनित सभी रचनाएं बार-बार पठनीय है।
    मेरी रचना को भी सम्मिलित करने के लिए धन्यवाद एवं आभार।

    ReplyDelete
  18. behad manoranjak aur gyan bardhak link, collection bahut hi umda tha

    ReplyDelete
  19. ये पोस्ट चर्चा तो चिठ्ठाजगत की कमी पूरा कर रही है, बहुत आभार.

    रामराम.

    ReplyDelete
  20. bouth he aacha post kiya ha aapne.....

    Everyday Visit Plz.....Thanx
    Lyrics Mantra
    Music Bol

    ReplyDelete
  21. आपका आभार डॉ. नूतन जी आपने चर्चा मंच पर मेरी रचना लाकर मेरा मान बढ़ा दिया.. कुछ सामाजिक व्यवस्थाएं व् आचार विचार मन को आंदोलित करती हैं , कुछ तो कल्पना हैं और कुछ बिल्कुल आँखों देखी कानो सुनी सच्चाई जिससे प्रेरित होकर कलम बोल पड़ते हैं..........साथ ही साथ आप सभी ब्लोगर्स साथियों का भी आभार जिन्होंने स्नेह दिया है.. नेटवर्क की कठिनाई की वजह से देर से आई ..........आपसभी का स्नेह मिलता रहे .......

    ReplyDelete
  22. डॉ नूतन , बेहतरीन चर्चा एवं लिंक्स के लिए आभार ।

    ReplyDelete
  23. कवितायें, संस्मरण, लेख...वाह इतना कुछ एक ही चर्चा में...:)

    चर्चा में मुझे शामिल करने के लिए आभार :)

    संगीता जी को बहुत बधाई... :)

    ReplyDelete
  24. आप सभी को नूतन का पुनः अभिनन्दन और धन्यवाद ... चर्चा में शामिल हो कर आपने ना सिर्फ हौशला अफजाई की बल्कि एक दूसरे को बेहतर पहचानने, ब्लॉग को जानने और सुन्दर साहित्य से जुडी रचनाओ को आपस में शेयर कर पढ़ने के लिए एक कदम आगे बदाया ..ये हम सबके लिए हितकर ही होगा ..ऐसा मेरा मानना है ... आप सभी का आभार ...

    ReplyDelete
  25. संगीता जी और उनके परिवार में सभी को बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

    नन्हें 'बेटूजी' को ढेर सारा आशीर्वाद ...

    सभी लिंक्स दिलचस्प हैं...सचमुच आपने बहुत मेहनत की है.... आपको हार्दिक धन्यवाद एवं शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  26. डॉ. नूतन जी ,
    चर्चा मंच पर मेरी कविता के माध्यम से आपने मेरा तथा मेरे ब्लाग का परिचय पाठकों से करवाया इस, सम्मान के लिए मैं हदय से आपका आभारी हूं । चर्चा मंच ब्लाग द्वारा आप साहित्य सेवा के क्षेत्र में बहुत सराहनीय कार्य कर रही हैं ।मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं ।साथ ही मैं उन सभी साथियों का भी आभार प्रकट करना चाहता हूं जिन्होने समय निकाल कर मेरी रचनायें पढ़ी ।
    नियति कलम की तो केवल चलते रहना है,
    कोई ’नूतन’सहारा हो,वक्त बेवक्त चलती है।
    धन्यवाद
    ओंम प्रकाश नौटियाल
    www.ompnautiyal.blogspot.com

    ReplyDelete
  27. नूतन जी
    नए कलेवर में चर्चा मंच अति सुंदर लगा और मेरी कहानी को शामिल करने के लिए धन्यवाद.
    साहित्य के वर्ग के अनुसार जो विभाजन किया है उसमें एक नयापन लगाने लगा है .

    ReplyDelete
  28. सुंदर चर्चा।
    अच्छे लिंक्स।

    ReplyDelete
  29. MERI RACHNA CHARCHA MANCH PAR DENE KE LIYE BAHUT-BAHUT DHANYVAD .AJ MAIN CHARCHAMANCH PAR KAI DINO KE PRAYAS KE BAD PAHUNCH PAYA HOON KYONKI CHARCHAMANCH.UCHHARAN PAR KHUL HI NAHI RAHA THA .AJ BLOGPOST .COM PAR AA PAYA.

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"रंग जिंदगी के" (चर्चा अंक-2818)

मित्रों! शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')   -- ...