चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Friday, March 18, 2011

"धूम मचाती होली आई " (चर्चा मंच-458)


मित्रों!
कल होली है,
डॉ. नूतन गैरौला जी का नेट चल नहीं रहा है,
ऐसे में चर्चा करने की मेरी नैतिक जिम्मेदारी है।
इसलिए आज प्रस्तुत है
प्यार के रंग,
मस्ती के ढंग
और साथियों के संग
होली खेलने  का चर्चा मंच!
------
सबसे पहले बधाई दीजिए-
 आज 18 मार्च को 
यह मैं  हूँ
------------------------
अब देखिए
गोकुल के घनश्याम मीरा के बनवारी 
हर रूप में तुहारी छवि अति प्यारी 
मुरली बजाके रास -रचाए | 
--------------------
--------------
--------------

Unmanaa पर श्रीमती साधना वैद्य जी लेकर आयीं है
अपनी माँ श्रीमती ज्ञनवती सक्सेना की कविताओं के संकलन से 
यह बेमिसाल रचना 
जिनकी रचनाएं वर्तमान परिप्रेक्ष्य में भी कितनी प्रासंगिक होती हैं ...
---------
========
*वतन में अमन की, जागर जगाने की "जरूरत है" , * 
*जहाँ में प्यार का सागर, बहाने की "जरूरत है" । * 
*मिलन मोहताज कब है, ईद, होली और क्रिसमस का-* 
*दिलों में प्रीत की गागर सजाने की "जरूरत है"  ...
----------
------------
------------
अब देखिए कुछ और हलचल
ओम कश्यप जी लाए हैं-
आग लगी तन-मन पिया आन मिलो आँगन , 
सूना आज आँगन बिन तेरे मोरे साजन ! 
कुछ तो दे दो आने की खबरिया , 
दिल तडपे ऐसे जैसे बिन पानी के मछलिया 
---
 ललित शर्मा बता रहे हैं- 
छत्तीसगढ सरकार ने बालिकाओं को शिक्षा के प्रति आकर्षित करने के उद्देश्य से सरस्वती सायकल प्रदाय योजना चलाई है।
--------------
इससे पहले कि सब के साथ हम भी होली के रंग में रंग जाएँ , आज प्रस्तुत हैं 
------------------------------ 
तकनीकी पोस्ट
नवीन प्रकाश जी बता रहे हैं-
प्रोग्रामिंग सीखिए
आप अगर कंप्यूटर प्रोग्रामिंग सीखना चाहते है 
और आपको इस बारे में जयादा जानकारी नही है 
तो शुरुआत के लिए ये आसान कदम उठाइए 
माइक्रोसॉफ्ट ने प्रोग्रामिंग को आसान बनाने के लिए 
नया सॉफ्टवेयर बनाया है 
Small Basic V0.6। शायद आपके काम आए ।
रपट छपी है-
*पिछले दिनों 25 और 26 फरवरी 2011 को ग्वालियर में संपन्न
बहुत मजा आता है किसी को जीभ निकालकर चिढाने में।
*मट्ठे वाले सुपाचक बड़े*
mun ke - manke में
सजा है
*होली है होली है , 
रँगों की हमजोली है 
ढोल नगाड़े मस्त बजाओ , 
टेसू फूले फागुन बोले , 
अमुवा के बौरों से खेले 
रँगों की चादर ओढ़ाओ , ...
चलो, दुःख को नहला दें खुशियों के रंग से, 
चलो, भूख पर उलीच दें रोटी की खुशबू, 
चलो, हताशाओं को सराबोर करें उम्मीदों के गाढ़े रंग से, 
चलो इस होली... में!
होली को तीन दिन बचे है...अब तक ब्लॉग जगत पर भी होली का खुमार तारी होने लगा होगा...मैंने तो रंगों की फ्लर्टी फुहार कल ही अपनी पोस्ट पर शुरू कर दी थी...
समीर जी की कूउउउउउउ, इरफ़ान के कार्टून, बोलो सारा..रा...खुशदीप
 
अमन का पैग़ाम में पढ़िए
 अजब रंग रंगों में है रंगे-होली, की बूढ़े-जवां कर रहे हैं ठिठोली. 
न बच कर निकल पाओगे इस गली से, जो कल तक थ...
यहाँ....! 
कुछ उथल-पुथल है, 
कुछ ऊबड़-खाबड़, कुछ झटके हैं, 
और कुछ हिचकोले, 
कभी शान्ति, तो कभी अपनापन, 
कभी प्रेम, और कभी रीता जीवन,
बेचैन आत्मा में पढ़िए-
यह रचना!
छाना राजा भांग-मुनक्का ! 
इहाँ कहाँ सुनामी आयल 
काहे हौवा तू घबड़ायल 
कल फिर उठिहैं सीना ताने 
आज भले जापानी घायल देखा
ये सबा चलती है मुझको रुला देती है 
वो भी तड़पती है हिज्र में कहीं बहुत 
मेरे बाद जाने किस को सदा देती है.. 
-अजय ब्रह्मात्‍मज पिछले रविवार को डॉ. चद्रप्रकाश द्विवेदी की फिल्म 
'मोहल्ला अस्सी' की शूटिंग पूरी हो गई
ZEAL में
डॉ.दिव्या बता रहीं है कि 
2 साल और बचे हैं मौज-मस्ती के लिए!
Roorkee IIT से BE , श्री अशोक घई ने ये भविष्यवाणी कि है कि 
सन २०१३ के अंत तक महाप्रलय हो जायेगी।
मगर चिन्ता मत कीजिए
उम्मीद पर दुनिया क़ायम है-
----------------
*मेरे बिरज मे ना हुई बरजोरी रे रसिया* 
*मै भी प्रेम रंग घोल के बैठी* 
*श्याम मिलन की आस मे बैठी* 
*मुझ संग हुई ना ठिठोली रे रसिया...
--------------------
मजनूँ कहीं का 
ताऊ तरही कम गरही कवि सम्मेलन में : कवि शिरोमणी श्री विजय कुमार सप्पात्ति प्यारे श्रोताओं, मैं रामप्यारे ताऊ तरही कम गरही सम्मेलन में आप सबका स्वागत करता हुं. ताऊ गरही मुशायरे में अभी तक आप महाकवि ताऊ जी महाराज
 डा. नागेश पांडेय का 
बालगीत :
---------------------
आज *शुक्रवार 18 मार्च 2011* को हमारे पोते 
*मास्टर हर्षल (हनी)* का 3राजन्मदिन है. 
*आप भी बालक के जन्मदिन की पार्टी में शाम 5 बजे से* *
मैं आँखें मूँदें सुनूँ और तुम गाओ
मैं अपलक रूप निहारूँ तुम मुस्काओ..
रंग तो प्रिय .........
नीला -काला -बैगनी,  रंग न ये तुम लगाना , 
ये तो सारे अंधियारा लाते ! 
लाल-गुलाबी-हरा औ पीला  ये ही सब मनभाते 
हैं  सबके  शगुन बन  खुशियाँ फैला जाते हैं  ........              निवेदिता
और यह पूरी पोस्ट यहीं पर पढ़ लीजिए
मगर टिप्पणी वहीं जाकर करना!

श्री अलबेला खत्री आज रांची में (कार्टून धमाका)

मशहूर हास्य कवि श्री अलबेला खत्री रांची आ रहे हैं यह खबर मुझे ब्लोगर मित्र श्री ललित शर्मा ने दीऔर उनका मोबाइल नंबर भी उपलब्ध कराया ,मैंने अलबेलाजी से संपर्क साधा और कहा -रांची आकर मुझसे बिना मिले चले गए तो नाराज हो जाउंगा, उन्होंने कहा -रांची आकर सोचेंगे , और आज दोपहर उनका फ़ोन आ गया और उन्होंने होटल का पता दिया और मुझसे मिलने को 
कहा . एक घंटे बाद मैं उनके सामने था , उन्होंने लपक कर मुझे जोर से गले लगा लिया कुछ इस तरह से जैसे बचपन का बिछड़ा अचानक सामने आ गया हो , इतने 
मशहूर कवि छोटे परदे के कलाकार बड़ी हस्ती, फिर भी जरा सा भी अहंकार नहीं कोई बनावटी पन नहीं, मुझे अपने पास बैठाया ,अपनी पूरी टीम से परिचय कराया 
चाय-काफी के बीच बहुत सी बाते हुई कुछ ब्लोगर मित्रों की भी चर्चा हुई जैसे ललित शर्मा,अविनाश वाचस्पति ,समीर लालजी , संगीतापुरी, कार्टूनिस्ट इरफ़ान भाई वैगरह. मेरे एक ब्लॉग "ब्लोगर पहचानो पहेली " की उन्होंने दिल से तारीफ़ की !
****************************
 अबतक शाम होने लगी थी रात 9 बजे उनके हास्य कवि सम्मेनल में भी शामिल होना है यह सोचकर मैंने उनसे विदा ली आगे का आँखों देखा हास्य कवि सम्मलेन का हाल कल इसी ब्लॉग पर प्रस्तुत करूंगा .
अन्त में देखिए-
यह पोस्ट और दो कार्टून
कार्टूनिस्ट इरफान ITNI SI BAAT पर लेकर आये हैं
----------------------------

14 comments:

  1. विस्तृत बेहतरीन चर्चा !

    ReplyDelete
  2. अनिता जी को जन्म दिन की बहुत मुबारकबाद और शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  3. बेहतरीन चर्चा...

    ReplyDelete
  4. विस्तृत बेहतरीन चर्चा.मुझे स्थान दिया,कृतज्ञ हूँ.

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर लिंक्स दी हैं |होली के शुभ अवसर पर अप सब को हार्दिक शुभ कामनाएं

    आशा

    ReplyDelete
  6. शास्त्री जी अनेकानेक रंगों से सजी सुंदर चर्चा प्रस्तुत करने के लिए बधाई|
    http://vaataayan.blogspot.com

    ReplyDelete
  7. बहुत ही सुंदर रंगीन चर्चा...आज की....आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
  8. अभी कुछ ही पोस्ट पढ पायी हूं ,अच्छा चुनाव किया है आपने । बाकी शाम तक पढ कर आती हूं ..
    चर्चा मंच में मुझे भी सम्मिलित करने के लिये आभारी हूं..

    ReplyDelete
  9. अनीता जी को जन्मदिन पर शुभकामनायें ... शास्त्री जी का आभार जिन्होंने मेरी समस्या समझा ... और यह सुन्दर चर्चा हमारे बीच प्रस्तुत की...

    ReplyDelete
  10. विस्तृत और उम्दा लिंक्स से सुसज्जित अच्छी चर्चा ...

    होली की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  11. आज की होलीमय चर्चा बहुत ही बढिया रही……………काफ़ी बढिया लिंक्स मिले……………आभार्।
    होली की हार्दिक शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  12. अनीता जी को बधाई ..व मेरी पोस्ट को शामिल करने के लिए आभार....

    ReplyDelete
  13. सुंदर चर्चा प्रस्तुत करने के लिए बधाई| होली के अवसर पर हार्दिक शुभ कामनाएं

    ReplyDelete
  14. बहुत सुन्दर चर्चा जी बधाई हो...आप सबका स्वागत है चाय पीने जरूर आयें...
    http://mereerachana.blogspot.com/
    यहाँ

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin