चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Friday, March 04, 2011

ब्रोडबेंड या फ्रोडबेंड- चर्चा–४४५ - डॉ नूतन गैरोला


मित्रों !!!  बहुत दुखी हो कर ये शीर्षक लिखा है … ब्रोडबेंड कनेक्सन होने के बाद भी जब कई दिनों कनेक्सन ही ना जुड़े और हमें नेट पर एक्टिव होने के लिए मुबाइल का या किसी अन्य डिवाइस का सहारा लेना पड़े तो क्या कहें ..ब्रोडबेंड के लिए …  नेट भी चलता है तो इतना स्लो कि एक पेज लोड होने में १५ मिनट ..या फिर बार बार कनेक्सन अवरोधित ..जिस से अन्य कार्य बाधित हो जाते हैं…   पिछली चर्चा में भी पोस्ट रात १ बजे जैसे तैसे निबटी तो पोस्ट प्रकाशित होने में पूरा ४ घंटा लगा … मतलब रात १:३० बजे से सुबह ५:३० बजे तक प्रक्रिया चलती रही…

  
अभी शाम के पांच बज रहें है किन्तु ब्रोडबेंड दो दिन से छुट्टी पे है और जिस डिवाइस से मै नेट जोड़ रही हूँ वो भी लचर है …


खैर २ -४ जो भी लिंक मिले उसको में यहाँ पर एकत्रित कर रही हूँ… पूरी कोशिश में हूँ कि अच्छे लिंक्स एकत्र कर पाऊं..            

               


             आप सभी को मेरा हार्दिक अभिनन्दन ..        
 
                        image
                             बुलबुल और गुलाब
Oscar Wilde की कहानी The Nightingale and The Rose 
                           का हिंदी में अनुवाद
                           अनुवादकर्ता -जोगेंदर सिंह जी 
                  ब्लॉग  अनुवादक पन्ना.. Translator..  से  
     
                             image
                                 जोगेंदर सिंह जोगी जी


                               आज का सदविचार            
                  अवसर तो सभी को जिंदगी में मिलते हैं
                 किन्तु उनका सही वक़्त पर सही इस्तेमाल
                   कुछ ही कर पातें हैं …सदा जी

  
                                  युगपुरुष
                           ब्लॉग उड़नतस्तरी से 
              उस रात किसी बड़ी किताब का भव्य समारोह था |
                         image

                             समीर लाल जी 



          manjar

   दिल से आवाज ये आई …
          
           रूप जी

 
  फ़िराक गोरखपूरी की दुर्लभ कहानी "दही का बर्तन "

      ब्लॉग
    
      जानकी पुल
    
                              विश्वगाथा ब्लॉग से 
                            image                      
                        श्रीप्रकाश डिमरी जी की कविता
                                      सांझ



                         ज्योत्सना मैं ... ब्लॉग से 
                            image
                             मैं उसका ख्याल हूँ
  


                    Smart Indian स्मार्ट इन्डियन ब्लॉग से
                      आज हम बिछड़े है तो - शाहीद कबीर 
                            image
                                   अनुराग शर्मा
   

    गज़ल

वीर बहुटी ब्लॉग से

   निर्मला कपिला जी
 
  जीवन की आपाधापी ब्लॉग से
      
       संजय कुमार चौरसिया जी

क्यों करते हैं जिस्मफरोशी का धंधा ? क्या मजबूरी यही कहती है ? या फिर .........>>>

     
                                 उन्मुक्त काव्यांजलि
                                 ब्लॉग से krati ji
                              image
                               कांच की इमारतें से



                         आरक्षण और देश का विकास
                               ब्लॉग ZEAL से 
                             image   
                             डॉ दिव्या श्रीवास्तव



                       छत्तीसगढ़ - एक बुलंद आवाज
                     राजीव रंजन प्रसाद जी की एक पोस्ट

                      image 
     घने जंगल में खूबसूरत फूल: चंद्रू [एक संस्मरण, बस्तर के जंगलों से] – राजीव रंजन प्रसाद


                     



           तेरा नाम

         image  
   
  THE SOUL OF MY POEMS कविताओं के मन से ब्लॉग
       विजयकुमार जी

       क्लोनिंग

  
  image
     अमृता तनमय जी 
  
    AMRITA TANMAY  ब्लॉग से
      
                                       चिम्पू
                                   लोटपोट अंक से 
                       image
                           काजल कुमार जी की प्रस्तुति 

              
 
                     फुलमतिया जी का प्रश्न, खदेरन का जवाब
                                           
                    image
                                हास्य फुहार ब्लॉग से




                       
           
             आहट
   हर दिन की शुरुआत होती है
        रचना दीक्षित जी

    रोहतक ब्लॉग मिलन की कुछ यादें
   राज भाटिया जी
   ब्लॉग पराया देश से
         
                           वक़्त वक़्त की बात है
                             एक प्रयास ब्लॉग से
                            image
                               वंदना गुप्ता जी

 

                             नन्हा दार्शनिक
                        ब्लॉग गीत मेरी अनुभूतियाँ से
                         image
                          संगीता स्वरुप "गीत" जी




        गांधी और गांधीवाद-18 :: राजकोट तथा मुम्बई में वकालत

                                ब्लॉग विचार से
                         image
                               मनोज कुमार जी 
     

                                   साइं कृपा
                            काव्य कल्पना ब्लॉग से
                           image
                             इन्ज..सत्यम शिवम जी


     अध्यात्म पथ क्या है..
        ब्लॉग अध्यात्मप से 
         sagebob जी

     मनसा वाचा कर्मणा
   ब्लॉग से राकेश जी 
   मुद मंगलमय संत समाजु

                          
                               ओम् नमः शिवाय
                         अमृतरस ब्लॉग से मेरी पोस्ट

                          image
                               शिव जी की वंदना                            



                      कैलास पर्वत से धरती तक की यात्रा
                      
                                ब्लॉग रसबतिया से

                                 कुछ पुरानी पोस्ट
 
    Nityanad Gayen ji
         image
    ब्लॉग कुछ विचार ऐसे भी






       जीवन विद्या ब्लॉग से  
       कार्य और व्यवहार
       image
   Mrs Roshani Sahu ji

      एक पुराना सवाल, एक पुराना ख्याल 
    सानिध्य ब्लॉग से 

         image
           vartika ji


            अर्श
   स्वर्णिम घडी का साक्षी
      image
      प्रकाश सिंह "अर्श "

                       टूट रही है भारत की कमर
          ब्लॉग – भड़ास से सूरज सिंह शोलंकी जी की पोस्ट  



         और अंत में रूपचन्द्र शास्त्री जी की इस पोस्ट के साथ
                                 विदा लेती हूँ |

                          हमारा भारत देश महान
                          image
                         रूपचन्द्र शास्त्री जी

        अच्छा तो फिर मिलतें है.. आप अपना ख्याल रखियेगा
                                     बाय 

          जाते हुवे  बता दूँ आज ६ बजेशाम से ब्रोडबेंड चल रहा है…


                      चर्चाकार-डॉ नूतन डिमरी गैरोला 


                                                               

32 comments:

  1. आकर्षक और सार्थक चर्चा ..बेहतर लिनक्स के साथ

    ReplyDelete
  2. अरे इतनी परेशानी में भी इतनी बढ़िया चर्चा...मान गए आपको.आभार.

    ReplyDelete
  3. उत्तम चर्चा.....

    ReplyDelete
  4. आपका श्रम और निष्ठा प्रशंसनीय है!
    आपने तो बहुत बढ़िया चर्चा कर दी!
    आभार!

    ReplyDelete
  5. मुश्किलों में भी अच्छी चर्चा रही ...
    आभार !

    ReplyDelete
  6. बेहतरीन चर्चा.... एक से बढ़कर एक लिंक्स...

    ReplyDelete
  7. shubhprabhaat ...mai blogs pe nahi likh pe jaa kar inform nahi kar paayi... ki ye post maine lee hain... Mai un sabko yahi par dhanyvaad kar rahi hun jinki post maine lee.... aur khuch aik do link aise bhi hain..jinko maine 2-3 din pehle liye aur unko inform kiya kintu sab kuch ulta palta chala link gayab ho gaye to ...un sabhi se maafi chahungi..

    ReplyDelete
  8. बहुत ही सुंदरता से सजाया है आपने आज का चर्चा मंच...ब्राडबैंड की प्रोब्लम के होते हुएँ भी आप मानों काले बादलों को चीर कर निकलते सूर्य की तरह.......बेहतरीन चर्चा प्रस्तुत की है.............आपके ब्राडबैंड के जल्दी ठीक होने हेतु मेरी शुभकामनाएँ....।

    ReplyDelete
  9. aapka bahut bahut dhanywaad nutan ji , mera link shamil karne ke liye ..

    main aabhari hoon

    ReplyDelete
  10. खराब नेट के चलते भी आपने बहुत ही बढ़िया पोस्ट बनायी है.
    आपकी लग्न और मेहनत को सलाम.
    मेरा ब्लॉग शामिल करने के लिए शुक्रिया.

    ReplyDelete
  11. नूतन जी शीर्षक कुछ और तथा चर्चा कुछ और। यह कौन सा फ़्रॉड?

    ReplyDelete
  12. कमाल है!
    ब्रॉड-बैण्ड खराब
    और ये धमाल है!!
    लिंकों के झड़ी
    और चयन बेमिसाल है।

    ReplyDelete
  13. बहुत अच्छी चर्चा ..... नूतनजी आभार

    ReplyDelete
  14. चर्चा मंच पर आकर बहुत अच्छा लगा ,एक 'नूतन'अनुभव हुआ .आपका अथक प्रयास सराहनीय है.आपने मेरे ब्लॉग 'मनसा वाचा कर्मणा' से "मुद् मंगलमय संत समाजू" को चर्चा मंच में शामिल किया इसके लिए आभारी हूँ आपका .

    ReplyDelete
  15. इतनी मुश्किलो के बाद भी इतना सु्न्दर लिंक संयोजन्…………आपके श्रम को नमन्……………सार्थक चर्चा……………आभार्।

    ReplyDelete
  16. ब्रॉड ब्रैंड के परेशान करने पर भी सुन्दर लिंक समायोजन ...बहुत अच्छी चर्चा ...आभार

    ReplyDelete
  17. sachmuch bahut dhairya, sahas aur kadi mehant bhra hai yah kaam... internet broadband kee pareshani ke chalte to kabhi lagta hai chhodo yah sab.. lekin jab aap jaise logon ko itna mehnat karte dekhti hun to phir aana hi padhta hai blog kee duniya mein ....
    charchamanch ko sajne aur bahut saarthak links prasutit ke liye aabhar

    ReplyDelete
  18. फ्राद्बैंद को मात देकर आपने आपने आज की चर्चा अच्छी तरह की है .इसे कहते हैं जहाँ चाह वहां राह.अच्छी सीख भी आपने दे दी है .'क्लोनिंग ' को यहाँ लाने के लिए हार्दिक धन्यवाद .एक से बढ़कर एक लिनक्स..आभार आपको.

    ReplyDelete
  19. अच्छी और सार्थक चर्चा ..बेहतरीन लिन्क्स...वह भी इतनी बाधाओं के होते हुए...
    आभार.

    ReplyDelete
  20. बेहतरीन लिंक्स की सार्थक प्रस्तुति...

    ReplyDelete
  21. वाह यहाँ तो गुलदस्ता हाथ लगा ब्लोगों का ! कमाल के ब्लॉग पढने को मिले आपके सहयोग से ! आपने जिस तरह से तमाम विषय को एक साथ ब्लोग्स के जरिये रखा है वो काबिले तारीफ़ है !
    आप सभी का बहुत बहुत शुक्रिया

    अर्श

    ReplyDelete
  22. नूतन जी ...आपको कोटि कोटि आभार....डॉक्टर वो भी मेडिको ...साहित्य ओर सृजन में इतना सुन्दर योगदान ...आपका हार्दिक अभिनन्दन....

    ReplyDelete
  23. आकर्षक और सार्थक चर्चा ..बेहतर लिनक्स के साथ!

    ReplyDelete
  24. सार्थक चर्चा. अच्छे लिंक्स का संकलन और मुश्किल हालात में भी सुंदर चर्चा प्रस्तुत करने की अद्भुत क्षमता बहुत खूब नूतन जी. बधाई और आभार.

    ReplyDelete
  25. बढिया चर्चा। खुदा आपका ब्रॉडबैंड कनेक्शन सलामत रक्खे!

    ReplyDelete
  26. ▬● नूतन , के सानिध्य में जानकारियों का खजाना....
    परेशानियों के बावजूद इतने खूबसूरत लिंक्स लगे हैं यहाँ कि क्या कहूँ........
    मेरे ट्रांसलेशन को पहली जगह देने के लिए ह्रदय से आभारी हूँ........
    इसी तरह नया किये जाओ और हमें लाभान्वित किये जाओ..........
    ▬● जोगेन्द्र सिंह
    (मेरी लेखनी..मेरे विचार..)

    ReplyDelete
  27. बहुत सुन्दर चर्चा....अव्यवस्था को ठेंगा दिखाती, आपकी कोशिश सार्थक हुई है..बहुत सुन्दर लिंक्स उपलब्ध हैं यहाँ...धन्यवाद!

    ReplyDelete
  28. आप सभी को मेरा ह्रदय से आभार .... आपने यहाँ आ कर मेरा उत्साहवर्धन किया, सादर

    ReplyDelete
  29. ब्राडबैंड का यह दर्द और बेदर्दी से भरा हुआ दर्द आपका अपना ही नहीं है सबका है .. मैंने तो बहुत रोकर इस नामुराद को कटवा ही दिया..अपनों के बीच अब मुद्दतों बाद आना हो रहा है..बहरहाल हैलो हाय नमसकार आदाब!!!!!

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin