चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Saturday, March 05, 2011

एक आहट सी आ रही है अभी:-(शनिवासरीय चर्चा)....Er. सत्यम शिवम

ॐ साई राम
              मै देखती हूँ "सपनों का हरा जंगल" 
                 अब भी "वासंती रातों में"
                        बन गई है।
          और "दुख मेरे आंगन की बेरी" सी हो गई है।
             चाहत है बस तुमसे "अपनापन मुट्ठी भर"
                                    "दुआएँ लाना"
                         इस बार....
                   -----सत्यम शिवम------
"स्पेशल काव्यमयी चर्चा"
ब्लॉग:-"Varsha Singh"
 ब्लॉगर:-"वर्षा सिंह जी"
नमस्कार दोस्तों मै सत्यम शिवम आज फिर उपस्थित हूँ,"स्पेशल काव्यमयी चर्चा" लेकर......
साथ ही सतरंगी रसभरी चर्चा भी है आपके समक्ष...

आज है "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" "वर्षा सिंह जी" के ब्लाग के दस पोस्टों की....


"स्पेशल काव्यमयी चर्चा" के बारे में अधिक जानकारी हेतु इस लिंक पर जाये...

आप भी अपनी काव्यमयी प्रस्तुति आज ही मुझे भेज दे....
मेरा ईमेल है :-satyamshivam95@gmail.com
अब शुरु करते है आज की शनिवासरीय चर्चा....
सर्वप्रथम कुछ सुंदर कविताओं की बारी.....
*काव्य-रस*
1.)वंदना जी को "जख्म....जो फूलों ने दिये!" 
2.)प्रियंका राठौड़ जी के "विचार प्रवाह" से
3.)अदा जी के "काव्य मंजूषा" पर
4.)मुदिता जी के "एहसास अंतर्मन के" है
5.)मृदुला प्रधान जी के "MRIDULA'S BLOG" अब
6.)मीनाक्षी पंत जी के "दुनिया रंग रंगीली" से
7.)पं.डी.के.शर्मा"वत्स" के "कुछ इधर की, कुछ उधर की" से गुहार
8.)Mahesh Barmate के "माही...." पे
9.)सिराज फ़ैसल ख़ान जी लाये है "साहित्य शिल्पी" पर










10.)आशा जी के "अकांक्षा" पर
















                  11.)ब्लॉगाकाश में एक नये सूरज का उदय
(आप भी आये और अपना साहित्यीक योगदान दे)
12.)मेरी "काव्य कल्पना" पर है
13.)अनिता जी के "श्रद्धा सुमन" पर
14.)"रचनाकार" पर पढ़िएँ
15.)रश्मि प्रभा जी की "मेरी भावनायें" पर
16.)यशवंत माथुर जी के "जो मेरा मन कहे" से
17.)गिरीश पंकज जी के ''सद्भावना दर्पण" पर
18.)सुनील कुमार जी के "दिल के बातें" से
19.)देवदत प्रसून जी के "प्रसून" पर एक सुंदर कविता








20.)"उच्चारण" पर बहुत सुंदर होली का स्वागत गीत









                   21.)स्वराज्य करुण जी के "दिल की बात" से
22.)विवेक रस्तोगी जी के "कल्पतरु" से
अब कुछ लेखों की बारी...
*गद्य-रस*
23.)
देवेन्द्र पाण्डेय जी के "बेचैन आत्मा" ने पूछा

24.)

क्षमा जी के "बिखरे सितारे" पर
25.)
पूजा उपाध्याय जी के "लहरें" से
26.)ललित शर्मा जी के "ललित डाट काम" पर हुआ
27.)दिपीका जी के "तुम्हारे साथ" पर सुंदर आलेख
28.)मनोज जी द्वारा "राजभाषा हिन्दी" पर 
29.)सुशील बाकलीवाल जी के "नजरिया" पर
30.)"मनोज" पर आचार्य परशुराम राय जी का ज्ञानवर्धक लेख
31.)मेरी "गद्य सर्जना" पर
अब कुछ हँसना हो जाये....
*हास्य-रस*
32.)"हास्य फुहार" पर हुआ
33.)सुरेश शर्मा कार्टूनिस्ट जी के "कार्टून धमाका" पर रहे
नन्हे मुन्ने की गली...
*बाल-रस*
34.)"पंखुरी Times ...!" पर 
35.)"माधव" पर
(हमारी ओर से भी उन्हें भावभीमि श्रद्धांजलि)
अब कुछ खाद्य सामग्री....

*स्वाद-रस*

36.)सिंघानीता जी के "स्वाद का सफर" पर
37.)निवेदीता जी के "जायका" से
अब कुछ तकनीकि ज्ञान....
अब कुछ तकनीकि ज्ञान....
*तकनीक-रस*
38.)नवीन प्रकाश जी के "Hindi Tech - तकनीक हिंदी में" पर
अंत में कुछ अध्यात्म ज्ञान....
*अध्यात्म-रस*
39.)सदा जी के "सदविचार" पर
40.)राजीव कुमार कुलश्रेष्ठ जी के "सत्यकीखोज" पर एक ज्ञान
41.)संगीता जी लेकर आयी है "आज का राशि फल"

हो गयी पूरी आज की चर्चा,आप शुरु कर दे आज से ही अपने पोस्ट भेजना अगले हफ्ते के "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" के लिएँ....


नोट:- किसी भी रस में लिखने वाले भी अपने पोस्टों की "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" करा सकते है,बस उन्हें एक कवितानुमा शैली में सजा कर मुझे भेज दे....


चलता हूँ,फिर मिलेंगे अगले शनिवार को.....धन्यवाद!!




                          -----सत्यम शिवम-------


33 comments:

  1. बहुत सुंदर ढंग से सजाई गयी चर्चा ..इतने लिंक से परिचय करवाने के लिए आपका आभार

    ReplyDelete
  2. सुंदर चर्चा सत्यम जी ..... आभार

    ReplyDelete
  3. सत्यम जी सुंदर चर्चा रही आज की. कुछ नए लिंक भी मिले मुझे. धन्यवाद.

    ReplyDelete
  4. कई भाव लिए बहुत सी लिंक्स के लिए आभार |
    काव्य मय चर्चा में बहुत आनंद आया |इस हेतु बधाई |मेरी कविता शामिल करने के लिए धन्यवाद |
    आशा

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर चर्चा!
    दो पोस्टों के बीत में काफी गैप आ रहा है!
    यदि वह कम हो जाता तो बहुत अच्छा रहता!

    ReplyDelete
  6. वाह! काफ़ी सारे लिंक है,
    अब तो आप मंजे हुए चर्चाकार हो गए।

    आभार

    ReplyDelete
  7. बहुत सुंदर चर्चा सत्यम जी !

    ReplyDelete
  8. बहुत सारे और बहुत खुबसूरत लिंक्स बिल्कुल होली के विविध रंगों की तरह बच्चे , युवावर्ग और बड़े - बूढ़े सब हैं यहाँ पर बहुत अच्छा लगा दोस्त आपकी मेहनत सच में रंग लाई है | हमे भी यहाँ तक लाने के लिए आपका बहुत - बहुत शुक्रिया |

    ReplyDelete
  9. सुन्दर चर्चा, बेहतरीन लिंक्स.
    मेरी पोस्ट भी इस चर्चा में लेने के लिये आभार आपका...

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्दर और मेहनत से की गयी चर्चा…………सभी लिंक्स शानदार्…………आभार्।

    ReplyDelete
  11. चर्चा मंच पर आज की इस बेहतरीन प्रस्तुति के लिए बहुत-बहुत बधाई और आभार .

    ReplyDelete
  12. सत्यम जी, इस बार चर्चा मंच को बड़े मन से आपने रचा है। चर्चा मंच पर शिवस्वरोदय-33 को लाने के लिए हार्दिक आभार।

    ReplyDelete
  13. आपकी प्रस्तुति काबिलेतारीफ़ है । आपको दिल से बधाई ।

    ReplyDelete
  14. इंजीनियर सत्यम शिवम जी,
    मैं समझ नहीं पा रही हूं कि किन शब्दों में आपको धन्यवाद दूं........आपका आभार प्रकट करूं.......
    आपकी इस उदारता ने मुझे भावविभोर कर दिया है. मैं तो सोच भी नहीं सकती थी कि इस स्पेशल काव्यमयी चर्चा में मेरे ब्लाग के पोस्टों को भी स्थान मिलेगा. मेरी पोस्टों को इस तरह प्रस्तुत करने के लिए आपको अत्यंत विनम्रतापूर्वक मेरा नमन........
    आज के चर्चा मंच में भी आपने हमेशा की तरह बखूबी विभिन्न आयामों की अत्यधिक रुचिकर पठन सामग्री प्रस्तुत की है। बहुत उत्कृष्ट चयन है आपका। इंजीनियर सत्यम शिवम जी, लिटेररी इंजीनियरिंग ( Literary Engineering ) में भी आपका जवाब नहीं..........

    ReplyDelete
  15. @varsha ji...aapka swagat hai.."aapke posto ki spl kaavyamayi charcha kar ke bhut acha laga"....bas yuhi apna sneh mujhpar banaye rakhe..

    ReplyDelete
  16. @shastri ji...namaskaar,mai kal raat se hi bhut pareshan hu...raat 2 baje ke karib jab meri charcha ban kar puri taiyar ho gayi thi,tabhi na jane kis fault ke karan puri charcha ud gayi,saara mehanat barbaad ho gaya..."par phir v himmat kar ke phir se charcha sajaya aur 5 baje ja kar so paya hu.,""jaldbaji me jo v trutiya rah gayi ho kshama chahta hu,bahut hi hatosahit man se maine phir se charcha sajayi hai."...aur laptop v pura discharge ho gaya hai,so mobile se hi comment bhej raha hu"..aabhar.

    ReplyDelete
  17. wah. manoranjan se bharpoor.bahut achcha laga.

    ReplyDelete
  18. mujhe shamil karne ke liye alag se dhanybad.

    ReplyDelete
  19. इंजी. सत्यम शिवम जी,
    स्पेशल काव्यमयी चर्चा के लिंक से ले कर पूरे 41 लिंक्स आकर्षक और रोचक एवं बहुरंगी सामग्री से युक्त हैं। कुछ पढ लिये है बाकी बाद में..... आज का दिन बेहद सार्थक लग रहा है। इतनी लाजवाब और बेहतरीन पोस्टों की लिंक्स का संचयन आपने एक स्थान ......यानी इस शनिवासरीय चर्चा मंच पर प्रस्तुत कर अत्यंत श्लाघनीय एवं स्तुत्य कार्य किया है। इस हेतु आपको अनेक धन्यवाद एवं कोटिशः मंगलकामनाएं!

    ReplyDelete
  20. सुंदर मनोहारी चर्चा सत्यम जी....
    आभार्!

    ReplyDelete
  21. नमस्कार...आप सभी को.......सच में बड़ा ही कष्टदायी होता है,मेहनत का फल व्यर्थ होना...कल मेरे साथ भी कूछ वैसा ही हुआ।काफी मस्सकत से जब पूरा चर्चा सजा लिया....तो न जाने किस कारण पूरी पोस्ट ही उड़ गयी....मै बहुत हतोत्साहीत हो गया...फिर भी ये आप लोगों का प्यार और स्नेह ही है,कि मैने सुबह पाँच बजे तक जाग कर भी अपनी चर्चा फिर से तैयार की.......चर्चा सजाने में मेहनत तो होती ही है,पर इस बार कुछ ज्यादा ही हो गयी है............
    @वर्षा सिंह जी को बहुत बधाई "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" हेतु.....

    ReplyDelete
  22. satyam ji bhut acchi charcha...meri rachna ko ismei shamil kerne ke liye bhut bhut dhanybad....aabhar

    ReplyDelete
  23. सुंदर चर्चा रही बहुत सारे नए लिंक्स मिले ..... आभार

    ReplyDelete
  24. Behtareen links mile...kayiyon ka follower banna hai!

    ReplyDelete
  25. सत्यम जी ,

    बहुत अच्छी चर्चा ...काफी मेहनत की है ...और दुगनी मेहनत हो गयी आपकी तो ...

    ReplyDelete
  26. बहुत ही अच्‍छे लिंक दिये हैं आपने इस चर्चा में ..आभार इस बेहतरीन प्रस्‍तुति के लिये ।

    ReplyDelete
  27. सत्यम,
    परिश्रम बेशक ज्यादा करना पड़ा तुम्हें लेकिन मुख्य बात यह कि सबने चर्चा पसंद की..
    वर्षा जी को विशेष बधाई..
    और तुम्हें मेरी तरफ से बधाई...एवं आशीष...

    ReplyDelete
  28. उत्कृष्ट लिंक से सजी बेहतरीन चर्चा।

    ReplyDelete
  29. बहुत सुन्दर चर्चा..सुन्दर लिंक्स..

    ReplyDelete
  30. मनभावनी चर्चा, मुझे भी स्थान देने के लिये आभार!

    ReplyDelete
  31. बहुत खूबसूरत चर्चा रही आज की ! वर्षाजी को विशेष रूप से बधाई काव्यमयी चर्चा के लिये ! आपका चयन सदैव बेहतरीन होता है ! इतने सुन्दर लिंक्स को एक मंच पर प्रस्तुत करने के लिये आपका बहुत-बहुत आभार एवं धन्यवाद ! मेरी शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete
  32. हिन्दी - साहित्य की अद्भुत अपूर्व सेवा ...

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin