चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Friday, April 01, 2011

मूर्खता दिवस पर बधाइयाँ :) चर्चा-४७२


              साथियों मेरा अभिनन्दन स्वीकार करें | 

सच बताऊँ आज मेरा शीर्षक के सिवा एक भी लिंक पोस्ट करने को मन नहीं था - पूछे क्यों -- तो बताती हूँ ---- आज  १ अप्रैल है यानि अप्रैल फूल का दिन है ( मूर्खता दिवस ) …. आज आप सबको अप्रैल फूल बनाना चाहती थी, सिर्फ शीर्षक होता और कोई पोस्ट नहीं मुस्‍कान और अभी तो बचपना गया नहीं - कर भी देती पोस्ट| किन्तु फिर गंभीर होना पड़ता है ना - बच्चों के माँ बाप हैं और बचकानी हरकतें करें -किसी तरह
     खुद को, आप लोगो को अप्रैल फूल बनाने से रोका      
 
                           मुस्‍कानमुस्‍कानमुस्‍कान
       किन्तु एक चित्र आज अप्रैल फूल पर आप लोगो की भेंट -

अप्रैल फूल

तो हमारे टौमी ने कैसा मनाया अप्रैल फूल - कुछ सीखिए, टौमी से  कुछ सीखिए -अप्रैल फूल बनाइयेमुस्‍कान बनिए भी  जीभ चिढ़ाते हुए मुस्‍कुराना
                                               पर  बुरा ना मानियेगा आपे से बाहर होना

    चलिये अब चर्चा शुरू करते हैं एक सुन्दर स्वागत गीत के साथ 

  
                *   स्वागत गीत
         कैसा लगा स्वागत गीत जरूर बताइयेगा


 
 
 
                          अप्रैल फूल हमारा फेमिली फेस्टिवल

            image

                             yo – mantra से


क्या मुझे आप सबको ऐसी सलाह मशवरा देनी चाहिए कि अप्रैल फूल मानिए| 
जानना चाहेंगे आपकी राय
ब्लॉग विचार से मनोज जी की पोस्ट



क्यों गुलमोहर का भ्रम तोड़ दिया ?
जिंदगी - एक खामोश सफर से
वंदना गुप्ता जी की एक पोस्ट




न यूँ होता
अमृतरस ब्लॉग से

image 



हसरत
बिखरे मोती ब्लॉग से
संगीता स्वरुप “गीत” जी की एक पोस्ट 
  image

                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                  आज फिर उदासी है तुम बिन                                                 image
सत्यम शिवम जी की एक पोस्ट






एक

संस्मरण
 
एक राह ये भी
ब्लॉग उद्धव जी से
इन्दुपुरी गोस्वामी जी की एक पोस्ट.




दो क्षणिकाएं

जीवन की किताब और दर्द के पन्ने !
ब्लॉग से आनंद द्विवेदी जी की image
दो क्षणिकाएं
१) मेरा प्यार
२) कभी सोचा है ?



तीन
नवगीत

एक गज़ल और तीन नवगीत: कवि-अमरनाथ श्रीवास्तव
कवि अमरनाथ जी का परिचय और उनके गीत
ब्लॉग सुनहरी कलम से से



चार
कवितायें
रविप्रकाश की चार कविताएँ
ब्लॉग मृत्युबोध से




पांच कवितायें
पांच कविताएं -कवि -श्रीरंग







आभासी दुनियाँ
वटवृक्ष ब्लॉग से
देवेन्द्र पाण्डेय जी की रचना, राशनि जी की पोस्ट
image

भूलभुलैया में उलझकर सच्चे मोती नहीं

मिलते

आशंकाओं में ज़िन्दगी के हल नहीं मिलते

संभावनाओं के आकाश में शक के बादल

आखिर क्यूँ !

एक दिन तो चले ही जाना है ...............

रश्मि प्रभा जी 






शहर मे अजनबी हूँ
ब्लॉग से ओवर टाइम



टीस अब बहने लगी है




तन्हा सी जिंदगी
ब्लॉग बांवरा मन से
सुमन ‘मीत’ जी




विश्वगाथा ब्लॉग से
कदमों के निशाँ - पंकज त्रिवेदी







देश की अखंडता बचाइए
सुरेंदर सिंह “झंझट” जी की पोस्ट




किसान , किसान नहीं हमारा भगवान् है ......>>> संजय कुमार
संजय कुमार चौरसिया जी की एक पोस्ट
image




हासिल
आशा जोगले कर जी की पोस्ट
उनके ब्लॉग स्वप्न रंजिता से




एक पुरानी पोस्ट
मेरी होली मजेदार रही , और आपकी ?
aruna kapoor जी की पोस्ट




बच्चों के लिए - अभिनव बाल मन पत्रिका
कथा चक्र से
image


                                                                                        बचपन 

   image
कैलाश चन्द्र शर्मा जी की पोस्ट


क्रिकेट बुखार



भारत विश्‍व कप का विजेता हो इस शुभकामना के साथ यह काव्‍य
भड़ास ब्लॉग से
एक बहुत सुन्दर काव्य रचना
जरूर पढियेगा|




क्रिकेटिया पोस्ट - पार्ट २

image
अभिषेक कुमार जी पटना से
ब्लॉग मेरी बातें से




यह होगा सबसे रोचक मैच
भारतीय ब्लॉग लेखक मंच से यह पोस्ट




कौन जीतेगा कौन हारेगा - एक सवाल मित्रों से
ललित डॉट कॉम से 
ललित शर्मा जी की पोस्ट




थैंक्स पाकिस्तान कुछ मीठा हो जाए !
ब्लॉग M.K.TV Films से




सौहार्द
ब्लॉग akanksha से
आशा जी की बहुत प्यारी पोस्ट
image




क्रिकेट में भारत की जीत की घोषणा नुक्‍कड़डॉटकॉम पर आज दोपहर में खेल शुरू होने से पहले ही कर दी गई थी
नुक्कड़ से




शुभकामनाएं
उच्चारण ब्लॉग से 
रूपचन्द्र शास्त्री जी की पोस्ट


जाते जाते --
"श्वाँसों की सरगम" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक") 
उच्चारण ब्लॉग से
श्वांशों का सरगम के धारा हमसे क्या कहती है ?



अच्छा अब हम जाते हैं… एक अच्छे दिन की शुभकामनाओं के साथ

             april-fools-23

                चर्चाकार डॉ नूतन डिमरी गैरोला "नीति"

     एक बात और शुभकामनाओं के साथ मैंने अपनी तस्वीर भी लगा  
         दी है…. अप्रैल फूल मुबारक हो आप सब को…..


30 comments:

  1. टौमी ने तो गज़ब मनाया अप्रैल फूल....हा हा!!!

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन चर्चा.....हा हा, अप्रेल फूल बनाया... :)

    ReplyDelete
  3. अच्छी कई लिंक्स समेटे चर्चा |बहुत अच्छा लगा अप्रेल फूल बनाने का अंदाज |ब्लॉग पर अपनी रचना देखी और देखा आपका प्रस्तुति का अंदाज |
    आभार |अप्रेल फूल का आनंद उठाइये आज |
    आशा

    ReplyDelete
  4. इनसान तो इनसान अब टॉमी भी मक्खन को बनाने लगे...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
  5. बढ़िया लिंक्स.

    ReplyDelete
  6. बढ़िया रही चर्चा.....
    CHARCHAMANCH PAR MERI POST LAANE KE LIYE BAHUT BAHUT DHNYVAAD

    ReplyDelete
  7. अप्रेल फूल बनाते रहिए और खुश रहिए।

    ReplyDelete
  8. आपने क्या लिंक दिए हैं?
    एक भी नहीं खुल रहा?

    ReplyDelete
  9. नूतन जी
    मुझे भी यही लग रहा था चर्चा मंच खोलते हुये कि आज मूर्ख दिवस है और पता चले सिवाय शीर्षक के कोई पोस्ट ही नही है और आपने मेरे दिल की बात ही कह दी…………अरे भाई(हा हा हा……लिंग नही बदल रही)सभी के दिल मे वो बच्चा रहता है और यदि आप बन जातीं तो और भी अच्छा लगता ………अपने अन्दर के बच्चे को हमेशा ज़िन्दा रखना चाहिये…………बहुत ही सुन्दर और सार्थक चर्चा की है………आभार्।

    ReplyDelete
  10. धन्यवाद समीर जी, मोनिका जी , आशा जी , लक्ष्मी नारायण जी ... शुभदिवस

    ReplyDelete
  11. खुशदीप जी , संजय जी
    अजित जी
    कुंवर जी
    सादर शुक्रिया ..शुभदिवस

    ReplyDelete
  12. मनोज जी..... समझ रही हूँ.... लिंक नहीं खुल रहे है ..ये भी आप मुझे अप्रैल फूल बनाने का प्रयाश कर रहे है... :))) पकड़ लिया...

    ReplyDelete
  13. वंदना जी .... सभी के अंदर बच्चा विद्वमान होता है... उसे बचाए रखना चाहिए... :))
    वैसे में सोच ही रही थी कि इसे सिर्फ शीर्षक के साथ पोस्ट करती हूँ... :)))

    ReplyDelete
  14. नूतन जी..नमस्कार.....बहुत ही सुंदर चर्चा आज की..सारे रंगों को समेट लिया आपने...क्रिकेट की खुमारी,अप्रैल फूल....वाह....."मै आज आप ही के शहर में हूँ,सोचा क्यों ना आपसे मिल लूँ.....दरवाजा तो खोलिये........"
    -
    -
    हा..हा..हा..हा...
    अप्रैल फूल............
    मै तो अपने कालेज में हूँ...........धन्यवाद।
    साथ ही "गद्य सर्जना" से मेरी पोस्ट लेने हेतु बहुत बहुत आभार।

    ReplyDelete
  15. satyam ji... achha april Fool banayaa aapne.... maine to aapke liye Chaay bhi bana dee thee ..... :)))

    ReplyDelete
  16. टॉमी ने मालिक को मस्त अप्रैल फूल बनाया

    बढ़िया चर्चा ...मेरी प्रविष्टी को लेने के लिए आभार

    ReplyDelete
  17. टोमी और चर्चा दोनों मस्त हैं.

    ReplyDelete
  18. डॉ. नूतन जी!
    आपने तो मूर्ख-दिवस पर बुद्धमानी की चर्चा की है!
    :) :)

    ReplyDelete
  19. @ नूतन जी,
    जब आप समझ ही गई हैं ... तो यह भी समझ ही लीजिए कि आज की चर्चा आपने लाजवाब, शानदार और बेमिसाल लगाई है।
    (अब इस बार भी ये न कहिएगा कि अप्रैल फूल बना रहा हूं!)

    ReplyDelete
  20. 1st एप्रिल को ऐसे सुंदर ढंग से मनाया जा सकता है!...आपने यहां दिखा दिया है डॉ.नूतन!....आपने यहां शामिल किए हुए सभी ब्लॉग एक से बढ कर एक है!...सभी रचनाकारों को मेरी हार्दिक बधाई!....मेरा भी ब्लॉग आपने शामिल किया हुआ है..तहे दिल से धन्यवाद!...आपका ब्लॉग तो मै खूब पसंद करती हूं...लेकिन आपका नाम 'नूतन' भी मुझे बेहद पसंद है!...गलती से यह मत समझ लेना कि मै एप्रिलफूल बना रही हूं!

    ReplyDelete
  21. लाज़वाब चर्चा...सुन्दर लिंक्स..मेरी रचना को चर्चा में शामिल करने के लिये धन्यवाद...आभार

    ReplyDelete
  22. एप्रिल फूल की शुभकामनायें आपको।

    ReplyDelete
  23. आदरणीय सुश्रीडॉ. नूतनजी,

    चर्चामंच के विद्वान साहित्यकार दोस्तों में, मेरे ब्लॉग को सामिल करने की दातृता दर्शाने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

    मार्कण्ड दवे।

    ReplyDelete
  24. bahut sundar...aapko b bahut bahut badhai ji....ha ha

    meri rachna ko shamil karne ke liye shukriya...

    ReplyDelete
  25. नूतन जी,
    समय पे यहाँ आ नहीं पाया..लेकिन मेरी पोस्ट को चर्चा में शामिल करने के लिए धन्यवाद!! :)

    ReplyDelete
  26. अच्छी लिंक्स । अप्रेल फूल के कार्टून्स भी जोरदार । देर में आने के लिये क्षमा प्रार्थी हूँ ।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin