चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Saturday, June 04, 2011

अब तो मुझे मेरा आईना वापस कर दो तुमः-(शनिवासरीय चर्चा)....Er. सत्यम शिवम

*ॐ साई राम*
मुझे इस अनोखे दिवानापन का,
और ना चाहत के फूल फिर से खिल जाते,
तब ठहरा है हर पल,
क्योंकि आदत सी पड़ चुकी है,
खुद को दर्पण में निहारने की,
शायद कही कभी तुम्हारा साया दिख जाये।
-----सत्यम शिवम----
"स्पेशल काव्यमयी चर्चा"
ब्लॉगः-चाहत
 ब्लॉगरः-आरती झा जी
नमस्कार दोस्तों मै सत्यम शिवम आज शनिवार को फिर आपके समक्ष लेकर आया हूँ......."स्पेशल काव्यमयी चर्चा" और साथ ही अपनी दिनचर्या वाली "शनिवासरीय चर्चा"।

आज की "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" में ब्लाग "चाहत" की सुंदर पोस्टों की चर्चा की जा रही है,आरती झा जी के ब्लाग से।

"स्पेशल काव्यमयी चर्चा" के बारे में अधिक जानकारी हेतु इस लिंक पर जाये...
आप भी अपनी काव्यमयी प्रस्तुति आज ही मुझे भेज दे....
मेरा ईमेल है :-satyamshivam95@gmail.com

चर्चा से पहले "बाबुषा दी" के द्वारा लिखी गयी एक ऐसी "वसीयत" जिसे पढ़ आपका अंतर्मन पूरी तरह झंकृत हो जायेगा..."जीवन का सत्य,कल की इच्छा"....
अब शुरु करते है,आज की शनिवासरीय चर्चा....
सर्वप्रथम कविताओं से महकी अपनी क्यारी....
*काव्य-रस*
1.)कैलाश सी.शर्मा जी के "Kashish - My Poetry" पर उड़ता 
2.)वंदना गुप्ता जी की "जिन्दगी..एक खामोश सफर" पर 
3.)मनीषा जी "वटवृक्ष" की छावँ में लेती है
4.)प्रीति टेलर जी के "जिंदगीःजियो हर पल..." पे मिलेगा
5.)मेरी "काव्य कल्पना" पर अब
6.)निवेदीता जी के "झरोखा" पर प्रतिबंधित है
7.)शिखा कौशिक जी की "प्यारी माँ" सी है
8.)"साहित्य शिल्पी" पर
9.)"सहज साहित्य" पर मंजु मिश्रा जी जोड़ रही है
10.)अमित जी "बस यूँ ही" बहा लेते है
11.)वंदना सिंह जी की "कागज मेरा मीत है,कलम मेरी सहेली...." पर
12.)मुदिता जी के "एहसास अंतर्मन के" से निकला
13.)venus****"ज़ोया" जी की "चाँद की सहेली" पर
14.)श्याम कोरी उदय जी के "कडुवा सच..." पर  
15.)सागर जी की "लेखनी जब फुर्सत पाती है..." तब
16.)राजेन्द्र स्वर्णकार जी के "शस्वरं" पर 
17.)अंजलि माहिल जी की "पहचान" को वो 
18.)पारुल "पुखराज" जी के "चाँद पुखराज का" पर
19.)पूनम जी के "झरोखा" पर उमरते
20.)"साहित्य प्रेमी संघ" पर श्यामल सुमन जी की
21.)मदन मोहन बहेती "घोटू" जी कहते है प्यार से
22.)प्रदीप कुमार जी की "मेरी कविता" में ऐसे है
23.)सुमन जी के "सुरभित सुमन" पर है
24.)प्रेरणा अर्गल जी की "प्रेरणा की कल्पनायें" पर है
25.)पूनम जी की सुंदर रचना
26.)"परावाणी" पर अरविन्द पाण्डेय जी कहते है
27.)बाबुषा जी के "कुछ पन्ने..." से
28.)सुरेन्द्र कुमार शुक्ल "भ्रमर" के "भ्रमर का दर्द और दर्पण" पर
29.)"उच्चारण" पर
अब कुछ उम्दा लेखों वाली पोस्ट....
*गद्य-रस*
30.)"कविता रावत" जी के यहाँ है
31.)"मनोज" पर आचार्य परशुराम राय जी का आलेख
33.)"साहित्य प्रेमी संघ" पर निशा मितल जी का सशक्त आलेख
34.)मनोज कुमार जी के "राजभाषा हिंदी" पर 
35.)मेरी "गद्य सर्जना" पर
36.)शालिनी कौशिक जी की "! कौशल !" पर 
37.)"चला बिहारी ब्लॉगर बनने" पर
38.)"छींटे और बौछारें" पर रवि रत्लामी जी कहते है
39.)"गुनगुनाती धूप" पर अल्पना वर्मा जी कहती है
40.)"मनोज बाजपेयी ब्लाग" पर 
41.)गगन शर्मा जी के "कुछ अलग सा" पर
42.)"अपनी,उनकी,सबकी बातें" पर रश्मि रविजा जी कहती है
43.)ललित शर्मा जी के "ललित डाट काम" पर
44.)"कुछ कहानियाँ,कुछ नज्में" पर सोनल रस्तोगी जी लेकर आयी है
45.)यशवंत माथुर जी के "जो मेरा मन कहे" का 
46.)"खामोश दिल की सुगबुगाहट..." पर शेखर सुमन जी है
47.)Shikha varshney जी के "स्पंदन" पर
48.)"जाट देवता का सफर" पर 
अब लोट पोट होने की बारी....
*हास्य-रस*
49.)"हास्य फुहार" पर 
50.)मनोज जी के "सृजन संसार" पर
कुछ जिह्वा स्वाद की कहानी.... 
*स्वाद-रस*
51.)"खाना मसाला" पर उर्मी चक्रवर्ती जी बना रही है
बाल कोणे की सैर....
*बाल-रस*
52.)"बाल सजग" ज्ञान कुमार की 
53.)"सरस पायस" पर 
54.)"माधव" कर रहा धमाल
55.)"चैतन्य का कोना" पर देखिये
56.)"Little Fingers" पर
अब कुछ तकनीकि जानकारी....
*तकनीक-रस*
57.)"Hindi Tech - तकनीक हिंदी में" पर
58.)"Computer Duniya" पर मयंक भारद्वाज जी बता रहे है
अंत में अवसान की ओर....
*अध्यात्म-रस*
59.)सदा जी के "सद्विचार" पर
60.)"ॐ शिव माँ" पर राज शिवम जी लाये है
61.)"सत्य की खोज...आत्मज्ञान" पर राजीव कुमार कुलश्रेष्ठ जी का 
62.)"आज का राशि फल" पर संगीता पूरी जी बता रही है

चलिए पूरी हुई आज की चर्चा,आप सब आज की चर्चा का आनंद लीजिये.....साथ ही "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" के लिए अपने पोस्ट भेजना मत भूलिए....

फिर मिलते है अगले शनिवार को,आपके विचारों के लिए प्रतीक्षारत रहूँगा.....धन्यवाद।
-----सत्यम शिवम-----

40 comments:

  1. स्पेशल काव्यमयी चर्चा प्रशंसनीय है.

    बहुत-बहुत धन्यवाद!


    जय ब्लॉगजगत, जय ब्लागिंग !!

    ReplyDelete
  2. satyam ji,
    hamesha kee hi tarh bahut sundar v mehnat se prastut kee hai aapne charcha.bahut tarah tarah ke links aapke sanyojan me sammilit hain jo charcha manch kee pramukhta badhate hain.mere blog v khushi ji ka aalekh charcha manch par shamil karne hetu aabhar.

    ReplyDelete
  3. सत्यम् जी बहुत परिश्रम करते हैं आप चर्चा मंच को सजाने में!
    --
    आज दिनभर पढ़ने के लिए बहुत उम्दा लिंक मिले!

    ReplyDelete
  4. सत्यम् शिवम् सुंदरम्!

    ReplyDelete
  5. subah subah aapni post or apne blog ki khashkavaymayi charcha dekh kar man bag bag ho gaya...fir sochti rahi kya is kabil hu main....ki jispe koi khash charcha ki jae....?
    aapki mehant to hamesha dekhti rahi hai...lekin jis tarh se aap post ke shirshak ke saath apne andaz ko lay badh karte hai kabile tarif hoti hai...aapka bahut bahut dhanybad.....badhai

    ReplyDelete
  6. गज़ब की कवरेज....बेहिसाब लिंक्स...मजा आ गया. आभार.

    ReplyDelete
  7. सत्यम जी आभारी हूं …

    लेकिन कल आप मेरे ब्लॉग पर आ'कर गए
    उसके बाद से मेरा ब्लॉग शस्वरं गायब है …
    उसके स्थान पर एक अजीब ही चित्र आ जाता है

    URL भी http://shabdswarrang.blogspot.com अपने आप बदल कर कुछ और हो जाता है ।


    कल से दो-तीन मित्रों ने मेल से इस समस्या की ओर मेरा ध्यान दिलाया

    कल दोपहर से
    देर रात तक मैंने देखा तो समस्या थी ।

    अभी यह कमेंट लिखने के दौरान संभाला तो मेरा ब्लॉग पुनर्प्रगट है …


    पता नहीं क्या समस्या है ???

    ReplyDelete
  8. कृपया ,
    शस्वरं पर आप सब अवश्य visit करें … और मेरे ब्लॉग के लिए दुआ भी … :)

    पुनः आभार चर्चामंच में मुझे सम्मिलित करने के लिए

    ReplyDelete
  9. आपने कितनी सुंदर चर्चा लिखी/जुटायी है.
    बहुत मेहनत करनी पडी होगी, उसी मेहनत को नमस्कार,

    ReplyDelete
  10. बहुत सारे अच्छे लिंक्स, आरती जी के ब्लॉग की काव्य चर्चा अच्छी लगी.
    कुछ पहले ही देख चूका हूँ और कुछ अब देखूंगा.
    मेरे ब्लॉग को भी यहाँ जगह देने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद दोस्त!

    सादर

    ReplyDelete
  11. आपके दिए लिंक भी अच्छे हैं और आपने जो फोटो दिखाए हैं वे भी अच्छे लगे ।
    शुक्रिया ।

    ReplyDelete
  12. प्रिय सत्यम,

    सारे लिनक्स नहीं पढ़ पायी हूँ.शाम तक पूरे हो सकेंगे. जितने भी पढ़े,अच्छे लगे. तुम बड़े मेहनती बच्चे हो.बहुत आशीष !

    और हाँ , 'वसीयत' सब तक पहुंचाने के लिए आभार ! मरने का क्या इंतज़ार..जीते जी सब को मिल जाए इतना तो चैन से दुनिया छोड़ी जाए.

    अस्तु.

    ReplyDelete
  13. बहुत ही मेहनत से संजोये गये लिंक्स्…………शानदार चर्चा।

    ReplyDelete
  14. सत्यम जी,
    पहली बार आपसे परिचित हो रही हूँ !
    चर्चा मंच पर मेरी रचना शामिल करने का
    बहुत बहुत धन्यवाद ! बढ़िया लिंक्स के लिए
    आभार !

    ReplyDelete
  15. बेहद विस्तृत चर्चा। काफ़ी श्रमसाध्य कार्य है यह।

    ReplyDelete
  16. अच्छी संतुलित चर्चा सजायी है ......आभार !
    हमें भी सम्मिलित किया ........:)

    ReplyDelete
  17. बेहद विस्तृत चर्चा। काफ़ी श्रमसाध्य कार्य है यह।

    ReplyDelete
  18. सत्यम् जी,

    चर्चा मंच के माध्यम से ढूंढ ढूंढ कर अच्छे लिंक्स को एक जगह पर उपलब्ध करवाने के लिए धन्यवाद. हर रंग है इस चर्चा मंच में ग़ज़ल, गीत, लेख,, खाना, बच्चों का कोना, हास्य... ग़रज ये कि .. कुछ भी तो नहीं छूटा. सब के लिए कुछ न कुछ है, परिवार में सभी का ख्याल रखा गया है :-) सभी लिंक्स एक से बढ़ कर एक... सार्थक परिश्रम को हार्दिक अभिनन्दन

    ReplyDelete
  19. @राजेन्द्र जी....ये परेशानी मैने भी देखी आपके ब्लाग पे....शुरु में लिंक सेलेक्ट करने के समय तो ठीक था..पर बाद में वो कोई दूसरा पेज खुल जा रहा था..मेरा अंदाज से सेटिंग में कोई दूसरा पेज रिडायरेक्ट तो नहीं हो गया..आप देख ले..और फिर हमे सूचित करे.....धन्यवाद

    ReplyDelete
  20. सुन्दर और विस्तृत चर्चा ... चिन्मयी कि पोस्ट शामिल करने के लिए धन्यवाद ...

    ReplyDelete
  21. आज तो बहुत सारा लिंक्स पढने को मिला,भाव प्रधान तुम्हारा स्वभाव और तुम्हारी रचना उन्हें ही पसन्द आती है जो भाव से युक्त है।पुस्तक और बड़े बड़े डिग्री लेने वाले लोग हमेशा हृदय से दूर बुद्धि प्रधान दुसरे की कमी देखते रहते है,ऐसे लोगो पर ध्यान मत दो। कवि विद्यापति इत्यादि कितने कवि हुए जो सभी भावप्रधान थे।

    ReplyDelete
  22. हरेक विधा के सुन्दर लिंक्स से सजी एक समग्र और सुन्दर चर्चा..मेरी रचना को चर्चा में स्थान देने के लिये शुक्रिया...

    ReplyDelete
  23. kavyamayee charcha ki baat hi kuchh aur hai...bahut mehnat karte ho shivam aap...:)

    ReplyDelete
  24. अच्छे लिंक्स और सुन्दर चर्चा आपके परिश्रम को नमन

    ReplyDelete
  25. सुंदर प्रस्तुती के लिये आभार

    ReplyDelete
  26. बहुत मेहनत से ढूंढ कर लाए हैं आप लिंक्स और बहुत ख़ूबसूरती से सजाये हैं.
    स्पंदन को स्थान देने का आभार .

    ReplyDelete
  27. आपकी मेहनत का जबाब नहीं .. शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  28. bahut hi badiyaa kavyamai charcha padaker anand aa gayaa.bahut bahut dhanyawaad aapne meri rachanaa "samaaj ka der"ko isme shamol kiya aap sabka aashir waad isi tarah meri rachanaon ko milta rahegaa.

    ReplyDelete
  29. बहुत विस्तृत और अच्छी चर्चा ...

    ReplyDelete
  30. satyam ji
    sabse pahle to aap badhai swikaren .aapki mehanat .aapki lagan unhaiyon ki parakashhtha kochume. itni shiddat ke saath aapne sabhi blogo ko sajaya v nikhara hai ki dil se bas dheron shubh-kamnaayen hi nikal rahi hain.
    aapke charcha munch par aakar sach me bhaut hi achha laga bahut se naye v nami -girami logo ke baare me janane ka bhi soubhagy prapt hua
    aur unhe janne ka awsar bhi .mujhe bhi apni charcha me sthan dene ke liye aapko bahut bahut hardik badhai.
    aage bhi isi tarh se aapke blog v charcha munch par achhe v nit sabhi mahan hastiyon se milne ka soubhagy milta rahe aur aapki mehant yun hi apna rang bikherti rahe ,inhi shubh-kamnao ke saath
    hardik badhai swikaren
    poonam

    ReplyDelete
  31. कई महत्वपूर्ण पोस्ट एक साथ संकलित कर आपने इस चर्चा को आकर्षक बना दिया है - आपके प्रयास सराहनीय हैं.

    सादर
    श्यामल सुमन
    +919955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com

    ReplyDelete
  32. सत्यम जी आपकी चर्चा हर समय की तरह उम्दा ...

    ReplyDelete
  33. बहुत सुन्दर और प्रशंग्सनीय चर्चा रहा ! मेरे ब्लॉग को शामिल करने के लिए धन्यवाद!

    ReplyDelete
  34. आरती जी को बहुत बहुत बधाई "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" हेतु.....

    ReplyDelete
  35. आप सभी आंगतुको को बहुत बहुत धन्यवाद।

    ReplyDelete
  36. सर्वप्रथम, मेरी रचना को चर्चा में शामिल करने के लिए धन्यवाद सत्यम जी ।
    पूरी चर्चा बहुत ही अच्छी रही । बहुत ही अच्छे अच्छे लिंक्स उबलब्ध कराये आपने । धन्यवाद साथ ही देर से अपनी टिप्पणी देने के लिए खेद ।

    ReplyDelete
  37. प्रिय सत्यम शिवम् जी बहुत ही मेहनत भरा काम सुन्दर सजा हुआ आप की पतंग उड़ी तो उड़ती ही रही बिभिन्न रंगों ,नाजुक ,मार्मिक, गंभीर, हास्य से भरी हुयी रचनाएँ हम तो सोचे आप शतक मारने की ठान तो नहीं आये- ६२ में बंद हुआ ,इतनी रचनाएँ पढना आप के बस की ही बात है -आप ने हस्त रेखा ज्योतिष तक पहुंचा दिया
    ढेर सारी शुभ कामनाएं आप को-
    और ब्लॉग बनायें हमारे साहित्य को चमकाएं आप के साथ हमारे सभी लेखकों को जिन्हें आप ने उद्धृत किया -ढेर सारी शुभ कामनाएं
    आज सूरज बड़ी देर कुछ आंक निकला हमारे ब्लॉग भ्रमर के दर्द और दर्पण को भी आप ने स्थान दिया हम आप के आभारी हैं
    सुरेन्द्र कुमार शुक्ल "भ्रमर" ५

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin