चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Monday, December 12, 2011

मेरे हमसफर उदास न हो (सोमवारीय चर्चामंच-726)

दोस्तों मैं चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ आप लोगों से मुख़ातिब हूँ  सोमवारीय चर्चामंच पर और शुरू करता हूँ आज की चर्चा-
 नं. 1-
_______________________
2-
देखिए रजनीश के ब्लॉग से चन्द्रग्रहण 
My Photo
_______________________
3-
_______________________
4-
_______________________
_______________________
6-
अंदाज ए मेरा- सिब्‍बल बनाम रमन...!!!
मेरा फोटो
_______________________
_______________________
8-
_______________________
9-
शाश्वत शिल्प- क्षणिकाएँ
My Photo
_______________________
10-
_______________________
11-
_______________________
12-
_______________________
13-
_______________________
_______________________
15-
मनीष सिंह निराला का उपेक्षित प्रेम
My Photo
_______________________
16-
anupama's sukrity.
_______________________
17-
_______________________
18-
_______________________
19-
_______________________
20-

...प्रेरणा....


My Photo
_______________________
21-
_______________________
22-
_______________________
23-
_______________________
24-
My Photo
_______________________
25-
प्रस्तुत है अरुण कुमार निगम जी की गाजर 
My Photo
_______________________
26-
यह है आकांक्षा का अनूठा सौन्दर्य

_______________________
27-
झीना-झीना उजियारा -डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'
उच्चारण
_______________________
28-
तीखी कलम से अभिशप्त लोकतन्त्र 
मेरा फोटो
_______________________
और अन्त में
________________________
आज के लिए इतना ही, फिर मिलने तक नमस्कार!

15 comments:

  1. बहुत उम्दा चर्चा की है आपने।
    ब्लॉगर्स मीट वीकली की 21 वीं महफ़िल में भी तशरीफ़ लायें
    क्योंकि वहां है आपके लिए कुछ ख़ास पसंदीदा लेख
    आपके स्टार ब्लॉगर्स के ।

    ब्लॉगर्स मीट वीकली (21) Save Girl Child

    ReplyDelete
  2. परिश्रम से सजाया है आपने चर्चा मंच की चर्चाओं को!
    सभी लिंक बहुत अच्छे दिये है आज पढ़ने के लिए।

    ReplyDelete
  3. सुंदर सजी-धजी चर्चा।
    आभार आपका।

    ReplyDelete
  4. चंद्र भूषण मिश्र 'गफिल' चर्चा मंच पर आज
    हिंदी का सुर एक है , अलग-अलग है साज
    अलग-अलग है साज , मंच है देश सरीखा
    इक थाली में मीठा , खारा, चटपटा , तीखा
    मंच - दुल्हन के तन पर हैं उन्तीस आभूषण
    धन्य ! सजानेवाले कविवर "चंद्र भूषण"

    ReplyDelete
  5. उम्दा चर्चा--
    सुंदर चर्चा।
    आभार |।

    ReplyDelete
  6. bahut achche link mile hain meri selular jail ko shamil karne ke liye bahut shukriya.

    ReplyDelete
  7. बढिया लिंक्‍स के साथ सुंदर चर्चा।
    आभार मेरे ब्‍लाग को शामिल करने के लिए।

    ReplyDelete
  8. अच्छी सार्थक चर्चा के लिए बधाई |
    मेरी रचना शामिल करने के लिये आभार |
    आशा

    ReplyDelete
  9. पोस्ट की प्रस्तुति अधिक स्थान लेकर करने के कारण पोस्ट पर जाने की उत्सुकता बढ़ती है।

    ReplyDelete
  10. सुन्दर लिंक से सजाया गया आज का चर्चा मंच अच्छा लगा ! सभी लिंक पे जाने का प्रयास रहेगा !मेरे ब्लॉग को लिंक देने के लिये बहुत - बहुत शुक्रिया !

    ReplyDelete
  11. क्या कहने, एक एक लिंक्स कहां कहां से तलाश कर लाए हैं। बहुत सुंदर

    ReplyDelete
  12. सुंदर लिंक्स से सजी रोचक चर्चा...आभार

    ReplyDelete
  13. सुंदर चित्रमयी चर्चा
    आभार

    ReplyDelete
  14. सुन्दर चर्चा!
    अनुशील को शामिल करने के लिए आभार!

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin