समर्थक

Thursday, February 14, 2013

युवाओं का विशेष दिन ( चर्चा - 1155 )

 आज  की चर्चा में आप सबका हार्दिक स्वागत है 
युवाओं के लिए यह विशेष दिन है । शायद आप कहेंगे सिर्फ युवकों के लिए क्यों ? प्यार तो सबको चाहिए , प्यार है तो जीवन है , लेकिन जिन अर्थों में प्यार का प्रयोग आजकल होता है उन अर्थों के आधार पर मैंने यह कहा है । प्यार वासना नहीं है और न ही यह एक भाषण है जो हम उठते बैठते देते हैं । शुरुआत इन्हीं विषयों पर अपनी दो पुरानी कविताओं से ।
यह दिन मनाया जाना चाहिए या नहीं इस बहस में न पड़ते हुए 
चलते हैं चर्चा की ओर 

"हैप्पी वैलेंटाइन डे"
My Photo
My Photo
              अपने ही संबंधों  का दर्द सालता है


                               
                      एप्स तो हिसाब रखने के लिये हैं,
                               
                         आपका ब्लड़ ग्रुप कौन सा है

My Photo
2
अंत में एक यू ट्यूब का लिंक यदि आप पंजाबी समझते हैं तो 
वैसे यदि आपको लगे कि आज की चर्चा को मैंने निजी ही बना लिया है तो आप गलत नहीं होंगे और मैं इस हेतु क्षमाप्रार्थी हूँ ।
आज के लिए बस इतना ही 
धन्यवाद 



24 comments:

  1. HAPPY VALENTINE DAY to all...
    प्रणयदिवस पर बहुत सुन्दर चर्चा की है आपने भाई दिलबाग विर्क जी!
    आभार!

    ReplyDelete
  2. कई रचनाएं और उम्दा चर्चा |मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |
    आशा

    ReplyDelete
  3. धन्यवाद दिलबाग जी आज के इस सुसज्जित मंच पर आपने मेरी रचना को भी स्थान दिया ! सभी सूत्र आकर्षक एवं पठनीय हैं ! मेरी ओर से सभी पाठकों वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  4. वैलेंटाइन डे की हार्दिक शुभकामनायें !
    बढ़िया लिक्स के साथ सुंदर चर्चा मुझे स्थान देने के लिए
    बहुत बहुत आभार दिलबाग जी,

    ReplyDelete
  5. बहुत बढ़िया चर्चा प्रस्तुत की... आभार

    ReplyDelete
  6. बड़े ही रोचक सूत्र आपने संजोये हैं..पठनीय।

    ReplyDelete
  7. बहुत सुन्दर चर्चा.आभार विर्क जी!

    ReplyDelete
  8. प्रणय दिवस पर सुंदर चर्चा की है दिल बाग जी मेरी रचना को शामिल किया हृदय से आभारी हूँ

    ReplyDelete
  9. सुन्दर चर्चा
    आदरणीय दिलबाग जी-
    आभार

    ReplyDelete
  10. बढिया लिंक्स, बहुत बढिया चर्चा

    ReplyDelete
  11. आदरणीय दिलबाग सर बहुत ही सुन्दर चर्चा है, चर्चा मंच की ओर से सभी पाठकों एवं मित्रों को वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनायें, आप सभी का दिन मंगलमय हो. सादर

    ReplyDelete
  12. सुंदर चर्चा की है दिलबाग जी मेरी पोस्ट को शामिल किया हृदय से आभारी हूँ.

    ReplyDelete
  13. बहुत बढ़िया लिंको का संकलन..बढ़िया चर्चा ! काफी अच्छे लिंक मिले मुझे...आपका आभार...!

    ReplyDelete
  14. बहुत ही बेहतरीन चर्चा,वसंती रंगो से सराबोर।

    ReplyDelete
  15. बेहद आकर्षक चर्चा...मेरी रचना शामि‍ल करने के लि‍ए आभार आपका..

    ReplyDelete
  16. प्रणय दिवस पर सुन्दर चर्चा ,,,दिलबाग विर्क जी,,,बधाई,,,

    RECENT POST... नवगीत,

    ReplyDelete
  17. अलग ही मिजाज की चर्चा बहुत अच्छी लगी .

    ReplyDelete
  18. बहुत बढ़िया चर्चा | पूर्णतः प्रेममय |
    आने वाले बसंत पंचमी और माँ सरस्वती पुजा के लिए आप सभी को बधाई |

    ReplyDelete
  19. आकर्षक चर्चा...मेरी रचना शामि‍ल करने के लि‍ए आभार आपका..

    ReplyDelete
  20. दिलबाग विर्क जी, शास्त्री जी हार्दिक आभार …………आपके स्नेह से अभिभूत हुई।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin