चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Thursday, February 21, 2013

चर्चा - 1162

आज की चर्चा में आप सबका हार्दिक स्वागत है 
हमारे यहाँ वायरल का प्रकोप जारी है , मैं भी पूरी तरह से स्वस्थ महसूस नहीं कर रहा हूँ , इसीलिए जल्दी-जल्दी में एक संक्षिप्त चर्चा लगा रहा हूँ 
चलते हैं चर्चा की ओर
उच्चारण 
पंजाबी लघुकथा
My Photo
My Photo
मेरा फोटो
My Photo
मेरा फोटो
जाले
आज की चर्चा में बस इतना ही 
धन्यवाद 
दिलबाग विर्क 
आगे है रविकर का कोना

19 comments:

  1. वायरल प्रकोप चिंता का विषय है |आप अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखिये |संक्षिप्त चर्चा का यह आलम है तो वृहद चर्चा कैसी होगी विचारणीय है |
    उम्दा लिंक्स संयोजन किया है |
    मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |
    आशा

    ReplyDelete
  2. मैं पहली बार शामिल हुआ. मुझे चर्चा बहुत अच्छी और रुचिकर लगी.

    ReplyDelete
  3. बहुत ही सुन्दर सूत्रों से सजी चर्चा।

    ReplyDelete
  4. सुन्दर एवं सार्थक चर्चा !

    ReplyDelete
  5. बढ़िया चर्चा सभी पठनीय सूत्र बहुत बहुत बधाई दिलबाग जी

    ReplyDelete
  6. संक्षिप्त ही सही पर बहुत ही सुन्दर एवं सार्थक लिंकों से सजी है आज की चर्चा.

    ReplyDelete
  7. बढिया चर्चा
    मुझे शामिल करने के लिए आभार..


    ( उन्ही ब्लागर्स के चित्र आप मंच पर लगाएं, जिससे मित्रता है, इससे मुझे कोई एतरात नहीं है। पर इतना तो बनता है कि दूसरे ब्लागर का नाम शामिल कर दें, चलिए नाम ना सही तो कम से कम ब्लाग का नाम लिख दीजिए। इतना तो बनता है। इससे सभी लिंक्स के साथ बराबर का ना सही पर एक हद तक तो न्याय हो ही जाएगा। )

    ReplyDelete

  8. आभार आदरणीय दिलबाग जी ||

    ReplyDelete
  9. आप शीघ्र स्वस्थ हों तो चर्चा का आनंद कई गुना बढ़ जाएगा..

    ReplyDelete
  10. बेहतरीन लिंक्‍स ... आभार

    ReplyDelete
  11. Behtarin sankalan ek bar fir, bahot bahot dhanyawad From Bad Day

    ReplyDelete
  12. सुन्दर लिंक संयोजन

    ReplyDelete
  13. बहुत बढ़िया चर्चा प्रस्तुति हेतु आभार...

    ReplyDelete
  14. आदरणीय महेंद्र जी वैसे सोच सोच अपनी अपनी होती है गिलास को आधा भरा कहो या आधा खाली
    चित्र सिर्फ उन ब्लॉगर के लगाए हैं जिनकी पोस्ट पर कोई चित्र नहीं

    ReplyDelete
    Replies
    1. हाहाहहाहहाहाहा..... ये तो मेरी शिकायत भी नहीं है।

      आपको नहीं लगता कि कोई लिंक शामिल करें तो कम से कम गरीब ब्लागर का नाम या फिर उसका नाम शामिल कर दें। मेरा तो ये सुझाव है।

      रही बात चित्र की तो मै मान लेता हूं कि मुझे आधा भरा गिलास नहीं दिखाई देता, खाली ही दिखाई देता है।

      Delete
  15. बढ़िया लिंक्स प्रस्तुति हेतु आभार..दिलबाग जी....

    Recent post: गरीबी रेखा की खोज

    ReplyDelete
  16. बहुत अच्छे लिंक.....आभार...

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin