चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Tuesday, October 21, 2014

"हिन्दी ब्ल़गिंग-अपार सम्भावनाएँ" : चर्चा मंच 1773

1
रविकर 

2
Neeraj Dwivedi 

3
Anita 

4
Prabodh Kumar Govil 

5
Ravishankar Shrivastava

6
Anusha Mishra 

7
kuldeep thakur

8
Dr (Miss) Sharad Singh 

9
पंकज सुबीर 



10
कालीपद "प्रसाद" 

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक 

13 comments:

  1. बहुत सुन्दर चर्चा प्रस्तुति.।
    --
    आप सबको सुप्रभात...।
    धनवन्तरि जयन्ती अर्थात
    धनतेरस की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
  2. बहुत सुंदर प्रस्तुति रविकर जी ।

    ReplyDelete
  3. बहुत बढ़िया चर्चा प्रस्तुति हेतु आभार!

    ReplyDelete
  4. बहुत सुंदर प्रस्तुति

    ReplyDelete
  5. सुन्दर चर्चा।।।
    मेरी रचना को शामिल करने के लिए आभार

    ReplyDelete
  6. मुझे अपनी पोस्ट तो यहाँ दिखी नहीं। आपने मेरे ब्लॉग पर सूचित किया था कि :-

    रविकरOctober 20, 2014 at 11:22 PM
    आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति मंगलवार के - चर्चा मंच पर ।।

    कोई बात नहीं। हो सकता है कोई चूक हो गई हो। धनतेरस की आपको बधाई।

    ReplyDelete
  7. Bahut sundar charcha....deepawali ki agrim shubhkamnayen

    ReplyDelete
  8. आज धनतेरस पर धन बरसे ऐसी कामना है
    |उम्दा सजा आज का चर्चा मंच
    इस मंच पर स्थान पा कर
    मन मेरा हुआ अनंग|

    ReplyDelete
  9. मित्रों !आप को धन तेरस और दीवाली के अन्य पञ्च-पर्व की वधाई ! सुन्दर संयोजन !!

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्दर चर्चा दीवाली पंचमहोत्सव की बधाई

    ReplyDelete
  11. Sunder sanklan...sunder charcha...aapki dhanteras va deepawli ki shubhkamnaayein !b

    ReplyDelete
  12. मेरी रचना को चर्चामंच में शामिल करने के लिए अत्यंत आभार रविकर जी....

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin