Followers

Tuesday, October 06, 2015

पढ़ें निमंत्रण-पत्र, पधारें पूज्य मान्यवर-रविकर; चर्चा मंच


ॐ 
श्री गणेशाय नम:
वक्रतुंड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ: ।
निर्विघ्नं कुरु में देव सर्वकार्येषु सर्वदा ।।
Image result for ganesh ji ki photo 
परम पिता की कृपा से, इसी दिसम्बर माह ।
  "मनु" बिटिया का "राम" से, हुआ सुनिश्चित ब्याह।
हुआ सुनिश्चित ब्याह, बजे ढोलक-शहनाई।  
 तिथि सोलह दिन सोम, नवम्बर माह सगाई । 
पढ़ें निमंत्रण-पत्र, पधारें पूज्य मान्यवर । 
"मनु" को दे आशीष, अनुग्रह करें "राम" पर ॥  



Priti Surana 











देवेन्द्र पाण्डेय 




सभी हारे हुए हैं आदतों से 

किसे फ़ुर्सत मिली अपने ग़मों से 
सभी हारे हुए हैं आदतों से 
हक़ीक़त है कि उल्फ़त ने सिखाया 
हमें दो चार होना हादिसों से... 
अंदाज़े ग़ाफ़िलपरचन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ 

Akanksha पर Asha Saxena 




नयन प्यारे 

होंठ कपते लाज मारे, 
किन्तु आँखों के सहारे, 
पूछती कुछ प्रश्न 
और अध्याय कहती प्रेम के..
न दैन्यं न पलायनम् पर प्रवीण पाण्डेय 




रूपचन्द्र शास्त्री मयंक 


No comments:

Post a Comment

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"स्मृति उपवन का अभिमत" (चर्चा अंक-2814)

मित्रों! सोमवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')   -- ...