Followers

Tuesday, February 16, 2016

सोओ मत सरकार, बनाओ नहीं बहाना; चर्चा मंच 2254




रविकर 

(1)
नहीं बहाना है हमें, निर्दोषों का रक्त।
किन्तु बचे गद्दार क्यूँ, बिता रहे क्यूँ वक्त।
बिता रहे क्यूँ वक्त, पकड़ कर इनको लाओ।
विधि विधान जब शख्त, मुक़दमे झट निपटाओ।
बचें नहीं गद्दार, समर्थक इनके नाना।
सोओ मत सरकार, बनाओ नहीं बहाना।।

नीरज गोस्वामी 


No comments:

Post a Comment

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"धारण त्रिशूल कर दुर्गा बन" (चर्चा अंक-2893)

सुधि पाठकों! सोमवार की चर्चा में  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। राधा तिवारी (राधे गोपाल)  -- सबसे पहले गुरु जी के ब्लॉग की ...