चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Wednesday, May 25, 2016

"बादल घने हैं....." चर्चा मंच 2353


udaya veer singh 


डॉ. अपर्णा त्रिपाठी 


Manoj Nautiyal 


आनन्द विश्वास 


Ravishankar Shrivastava 


pramod joshi 


सुशील कुमार जोशी 


noreply@blogger.com (सतीश पंचम) 


ऋता शेखर मधु 

yashoda Agrawal 


Sushil Bakliwal 


चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ 

Kumar Shiva 
लखनऊ में अपनी पैदाइश हुई ..
फिर मोहल्ले भर में नुमाइश हुई |

साईकिल तक टाँगे पहुँचने लगी,
फिर फेहरिस्त बनी, फरमाइश हुई |

जब बड़े हुए, और सियाने हुए , 
फिर दिल में जवान ख्वाहिश हुई |

कॉलेज से पढ़ लिख के निकले ,
फिर खुद की शुरू आजमाइश हुई |

कुछ यादों-इरादों के साथ आज ,
“कुश” की उमर अटठाइस हुई |
रूपचन्द्र शास्त्री मयंक 

No comments:

Post a Comment

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin