साहित्यकार समागम

मित्रों।
दिनांक 4 फरवरी, 2018 (रविवार) को खटीमा में मेरे निवास पर साहित्यकार समागम का आयोजन किया जा रहा है।

जिसमें हिन्दी साहित्य और ब्लॉग से जुड़े सभी महानुभावों का स्वागत है।

कार्यक्रम विवरण निम्नवत् है-
दिनांक 4 फरवरी, 2018 (रविवार)
प्रातः 8 से 9 बजे तक यज्ञ
प्रातः 9 से 9-30 बजे तक जलपान (अल्पाहार)
प्रातः 10 से अपराह्न 1 बजे तक - पुस्तक विमोचन, स्वागत-सम्मान, परिचर्चा (विषय-हिन्दी भाषा के उन्नयन में
ब्लॉग और मुखपोथी (फेसबुक) का योगदान।
अपराह्न 1 बजे से 2 बजे तक भोजन।
अपराह्न 2 बजे से 4 बजे तक कविगोष्ठी
अपराह्न 5 बजे चाय के साथ सूक्ष्म अल्पाहार तत्पश्चात कार्यक्रम का समापन।
(
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री का निवास, टनकपुर-रोड, खटीमा, जिला-ऊधमसिंहनगर (उत्तराखण्ड)
अपने आने की स्वीकृति अवश्य दें।
सम्पर्क-9368499921, 7906360576

roopchandrashastri@gmail.com

Followers

Wednesday, December 06, 2017

"पैंतालिसवीं वैवाहिक वर्षगाँठ पर शुभकामनायें " चर्चामंच 2809

मोहब्बत की कलिया 

Deepak Saini 
 Aarzoo 

सुप्रभातम्! जय भास्करः! ६३ ::  

सत्यनारायण पाण्डेय 

अनुपमा पाठक 

किस का कसूर 

दिनेशराय द्विवेदी 

अटलांटिक के उस पार - ८ 

(पुरुषोत्तम पाण्डेय) 

आज सारे गुबार दिल के...!!! 

Sushma Verma 

मेक्सीकन जरूरत भी हैं  

और चुनावी मुद्दा भी 

smt. Ajit Gupta 

कैसे-कैसे गिले याद आए.....  

ख़ुमार बाराबंकवी 

yashoda Agrawal 

Shri Ram Katha 

by Shri Avdheshanand Giri Ji -  

Day 3(Part lll ) 

Virendra Kumar Sharma 

बिटक्वाईन वाले करोड़पति  

(Millionaire by Bitcoin)

Vivek 

कार्टून :-  

PAN अाैर अाधार लिंक न कराने वाले ध्यान दें 

Kajal Kumar 

यादें.....  

Parul Kanani  

5 comments:

  1. शुभ पर्भात
    वर्षगाँठ की हार्दिक शुभकामनाएँ
    आभार
    सादर

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन चर्चा।
    आपका आभार आदरणीय रविकर जी।

    ReplyDelete
  3. पैंतालिसवीं वैवाहिक वर्षगाँठ पर शुभकामनायें आदरणीय शास्त्री जी के लिये । सुन्दर चर्चा।

    ReplyDelete
  4. पैंतालिसवीं वैवाहिक वर्षगाँठ पर बहुत-बहुत शुभकामनाएं आदरणीय शास्त्री जी!
    मेरी रचना शामिल करने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

    ReplyDelete
  5. बहुत अच्छी चर्चा प्रस्तुति ...

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"जीवित हुआ बसन्त" (चर्चा अंक-2857)

मित्रों! मंगलवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')   -- &...