Followers

Thursday, December 21, 2017

चर्चा - 2824

7 comments:

  1. पठनीय लिंकों के साथ सार्थक चर्चा।
    धन्यवाद भाई दिलबाग विर्क जी।।

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर चर्चा प्रस्तुति दिलबाग जी ।

    ReplyDelete
  3. बढ़िया चर्चा
    सादर

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छी चर्चा प्रस्तुति

    ReplyDelete
  5. बहुत अच्छी प्रस्तुति. मेरी रचना को शामिल करने के लिये आभार

    ReplyDelete
  6. आदरणीय विर्कजी,चर्चामंच पर अपनी रचना को पाकर मुझे सुखद आश्चर्य हुआ। ब्लॉग पर देखा तो वहाँ कोई सूचना नहीं दी गई थी। अपना ब्लॉग पर भी नहीं। किंतु मेरी साधारण सी रचना 'बालगीत'का आपने चयन किया, इसकी खुशी है। मैं चर्चामंच की रचनाएँ रोज पढ़ती हूँ। समयाभाव के कारण सब पर टिप्पणी नहीं कर पाती। बहुत अच्छी रचनाएँ पढ़ने को मिलती हैं यहाँ। आपका पुनः हार्दिक आभार । सादर !

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"चलना सीधी चाल।" (चर्चा अंक-2951)

सुधि पाठकों! बुधवार   की चर्चा में  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। राधा तिवारी (राधे गोपाल)  -- दोहे   "चलना सीधी चाल।&...