Sunday, January 13, 2019

"उत्तरायणी-लोहड़ी" (चर्चा अंक-3215)

मित्रों! 
शनिवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  
देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।  
(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')
--
--

दोस्त - द्विपदी 

अनुराग शर्मा  
अपने नसीब में नहीं क्यों दोस्ती का नूर।  
मिलते नहीं क्यों रहते हो इतने दूर-दूर.. 
Smart Indian 
--
--
--
--

शीर्षकहीन 

shashi purwar 
--
--

गुजारिश 

पुरुषोत्तम कुमार सिन्हा - 
--
--

चुनावी समर 

इस चुनावी समर का हथियार नया है।  
खत्म करना था मगर विस्तार किया है... 
Vimal Shukla  
--

सब 

Anita Saini 
-- 
--
--

6 comments:

  1. लोहड़ी की शुभकामनाएं। सुन्दर चर्चा।

    ReplyDelete
  2. बहुत ही सुन्दर चर्चा प्रस्तुति 👌
    चर्चा परिवार और सभी रचनाकारों को लोहड़ी की हर्दिक शुभकामनाएं।
    सादर

    ReplyDelete
  3. सुन्दर चर्चा। मेरी कविता शामिल की. आभार।

    ReplyDelete
  4. उम्दा चर्चा। मेरा इंटरव्यू प्रकाशित करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद, आदरणीय शास्त्री जी।

    ReplyDelete
  5. लोहड़ी पर देश में सभी मित्रों को हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई

    ReplyDelete
  6. बहुत सुंदर सूत्र संयोजन
    सभी रचनाकारों को बधाई
    मुझे सम्मलित करने का आभार
    सादर

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।