Followers

Monday, February 19, 2018

"सौतेला व्यवहार" (चर्चा अंक-2885)

सुधि पाठकों!
सोमवार की चर्चा में 
देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।
--
--
--
--
--
--
--
--

किला रायपुर (KILA RAIPUR) 


राकेश कुमार श्रीवास्तव राही  at  
--
--
--

क्षणिकाएं 

१-खेतों में आई बहार 
पौधों ने किया नव श्रंगार 
रंगों की देखी विविधता
उसने मन मेरा जीता... 
Akanksha पर Asha Saxena  
--
--

विचार 

purushottam कविता  
--

साझा संकल्प लिया था  

अपन दोनों ने 

तुम्हारे मेंहदी रचे हाथों में
रख दी थी अपनी भट्ट पड़ी हथेली
महावर लगे तुम्हारे पांव
चलने लगे थे 
मेरे खुरदुरे आँगन में 
साझा संकल्प लिया था हम दोनों ने
कि,बढेंगे मंजिल की तरफ एक साथ...
 
Jyoti Khare  
--

9 comments:

  1. शुभ प्रभात
    आभार
    सादर

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन रचनाओं का अनूठा संकलन प्रस्तुत करने हेतु बधाई....

    ReplyDelete
  3. बहुत सुन्दर प्रस्तुति राधा जी।

    ReplyDelete
  4. राधा जी, आभार,सुन्दर प्रस्तुति,इस चर्चा में सम्मलित सभी रचनाकारों को बधाई।

    ReplyDelete
  5. सार्थक चर्चा।
    आपका आभार बहन राधा तिवारी।

    ReplyDelete
  6. चर्चा मंच की सुगंध ,करती मोहित मेरा मन










    राधा जी उम्दा लिंक्स |


    ReplyDelete
  7. सुन्दर
    सुन्दर चर्चा ,

    ReplyDelete
  8. सुंदर,बेहतरीन रचनाओं को हम तक पहुँचाने के लिए हृदयपूर्वक आभार चर्चामंच का... मेरी रचना को सम्मान देने हेतु विशेष आभार ।

    ReplyDelete
  9. सुंदर और प्रभावी संयोजन के लिए साधुवाद
    सभी रचनाकारों को बधाई
    मुझे समल्लित करने का आभार
    सादर

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"उफ यह मौसम गर्मीं का" (चर्चा अंक-2982)

मित्रों!  शनिवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।  (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')   -- ...