Followers

Search This Blog

Tuesday, August 21, 2018

"सीख सिखाते ज्येष्ठ" (चर्चा अंक-3070)

मित्रों।
मंगलवार की चर्चा में आपका स्वागत है। 
देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। 
--
--

गीत  

"बरसात मांगती है " 

( राधा तिवारी "राधेगोपाल " ) 

सावन के महीने में क्यों ये ताप बढ़ रहा हैl
 आकर के मेघ जाते संताप चढ़ रहा है .. 
--
--
--
--
--

जग को छोड़ चले अटल 

मन सबका करके विकल
उर का स्पंदन टूट गया
बंधन सारे छूट गया.
शोकाकुल है देश का घर-घर
रो उठा धरती और अंबर
वे थे ओजस्वी कवि प्रखर
जननायक वक्ता मुखर... 
--
--

191 
नीरज पर 
नीरज गोस्वामी 

--
--
--

डिजिटल होते स्वर्ग 

कोई आपको फोलो करने को कहे और एक के बाद एक आदेश दे कि अब यह करे और अब यह करें! आप क्या करेंगे? मेरी दो राय है, यदि महिला है तो फोलो आसानी से करेगी, फिर चाहे वह किसी भी आयु की क्यों ना हो लेकिन यदि पुरुष है और उम्रदराज हो गया है तो किसी का आदेश कभी नहीं मानेगा... 
smt. Ajit Gupta  
--
--
--

5 comments:

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।