समर्थक

Monday, January 16, 2012

त्यौहार एक रूप अनेक (सोमवारीय चर्चामंच-760)

दोस्तों आप सब चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ का अभिवादन स्वीकार करें सोमवारीय चर्चामंच पर। प्रस्तुत है आज की चर्चा का
 लिंक नं. 1- 
त्यौहार एक रूप अनेक... -पल्लवी सक्सेना
मेरा फोटो
बेसुरम्‌
_______________
2-
DSC00197
_______________
3-
मेरा फोटो
_______________
4-
My Photo
_______________
5-
_______________
6-
_______________
7-
बात ये अच्छी नहीं -श्यामल सुमन
My Photo
_______________
8-
ज़हरीली गैसें (दोहे) -कुँवर कुसुमेश
_______________
9-
हैया-हो... -Amrita Tanmay
My Photo
_______________
10-
चंद लाइनें- आड़ी-तिरछी -प्रतिभा सक्सेना
मेरा फोटो
_______________
11-
आज के दोहे...तिमिर-रश्मि -डॉ0 विजय कुमार शुक्ल ‘विजय’
मेरा फोटो
_______________
12-
दिल्ली... -Atul Kushwaha
मेरा फोटो
_______________
13-
My Photo
_______________
14-
सूरजप्रकाश जी, किताबें और रश्मि... -वन्दना अवस्थी दुबे सतना, म.प्र., भारत
मेरा फोटो
_______________
15-
_______________
16-
_______________
17-
लगा कर देख ले नादां... -अरुण कुमार निगम
मेरा फोटो
_______________
18-
_______________
19-
_______________
20-
1200वीं पोस्ट- कंकड़ और कबाड़ -डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'
उच्चारण
_______________
21-
रात भर जागता है इंदौर... -महेन्द्र श्रीवास्तव
_______________
22-
_______________
23-
________________
24-
हल्दी का उपयोग -Dr. JOGA SINGH KAIT "JOGI"
मेरा फोटो
________________
आज के लिए इतना ही, फिर मिलने तक नमस्कार!

18 comments:

  1. सोमवार की चर्चा बहुत बढ़िया रही!
    सभी लिंक विशेष हैं और पठनीय हैं।
    आभार!

    ReplyDelete
  2. वाह भई ग़ाफ़िल जी. धन्यवाद.

    ReplyDelete
  3. सभी लिंक्स उपयोगी एवं महत्वपूर्ण प्रतीत होते हैं ! मेरे आलेख को इसमें स्थान दिया आभारी हूँ !

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर चर्चा है.

    ReplyDelete
  5. बहुत अच्छी चर्चा है मिश्र जी ।
    आभार...!

    ReplyDelete
  6. अच्छे संकलन, अच्छी लिंक्स और रोचक प्रस्तुति. मेरी रचना को सम्मिलित करने हेतु बहुत - बहुत आभार.

    ReplyDelete
  7. बढिया लिंक्‍स।

    ReplyDelete
  8. वाह ..बहुत ही अच्‍छी प्रस्‍तुति ।

    ReplyDelete
  9. सुन्दर लिंक्स …………अच्छी चर्चा।

    ReplyDelete
  10. प्रस्तुति-सज्जा संक्षिप्त और आकर्षक है।

    ReplyDelete
  11. बहुत बढ़िया लिंक्स के साथ सुन्दर चर्चा प्रस्तुति..

    ReplyDelete
  12. गाफिल जी,मेरी रचना को मंच में स्थान देने के लिए बहुत२ आभार शुक्रिया,...
    welcome to new post--काव्यान्जलि --हमदर्द-

    ReplyDelete
  13. बहुत बेहतरीन और प्रशंसनीय.......
    मेरे ब्लॉग पर आपका स्वागत है।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin