समर्थक

Monday, January 30, 2012

तू भी है आदमजात क्या? : सोमवारीय चर्चामंच-774

दोस्तों ! सोमवारीय चर्चामंच पर चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ का आदाब क़ुबूल फ़रमाएं! पेशे-ख़िदमत है आज की चर्चा का-
 लिंक नं. 1- 
_______________
2-
मेरा फोटो
_______________
3-
सख़्त मना है गीत अंतरात्मा के -अवन्ती सिंह
My Photo
_______________
4-
_______________
5-
कला यात्रा -सुनील दीपक
Bologna art fair and art first - S. Deepak, 2012
_______________
6-
मेरा फोटो
_______________
7-
उसने कहा था...किला जो कहता है चार सदियों की दास्तां -माधवी शर्मा गुलेरी
_______________
8-
रूप बसन्ती प्यारा-प्यारा -डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'
उच्चारण
_______________
9-
मेरा फोटो
_______________
10-
कुछ लोग फिर मंदी आने की बात कर रहे हैं -हास्य-व्यंग्य का रंग गोपाल तिवारी के संग
मेरा फोटो
_______________
11-
My Photo
_______________
12-
मेरा फोटो
_______________
13-
मेरा फोटो
_______________
14-
मेरा फोटो
_______________
15-
माँ शारदे से प्रश्न डॉ. जे.पी. तिवारी का
_______________
16-
पतझर जैसा मधुमास हुआ भाई अरुण कुमार निगम की निगाहों में
My Photo
_______________
17-
प्रेरक प्रसंग...हर काम भगवान की पूजा -मनोज कुमार
mahatma-gandhi_1
_______________
18-
शाश्वत शिल्प...गीत बसंत का -महेन्द्र वर्मा
My Photo
_______________
19-
चाँदनी भी कहर सा ढाती है -डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
डा. रूपचंद शास्त्री 'मयंक' जी
_______________
20-
_______________
21-
नहीं चल रहा युवराज का जादू... -महेन्द्र श्रीवास्तव
_______________
22-
_______________
23-
हे महान पूर्वजों गर्ब करो -डॉ. आशुतोष मिश्र ‘आशू’
My Photo
________________
24-
झा जी कहिन 'सतियानासी मोबाइलवा' -अजय कुमार झा
कहने के लिए झाजी तैयार होते हुए
________________
25-
तो कुछ बात बने -आदित्य
My Photo
________________
26-
एक नदी का जख़्म बयाँ कर रही हैं डॉ. अलका सिंह जी
रूपरेखा चित्र
________________
27-
आखिर क्यूँ और कब तक... -पल्लवी सक्सेना

________________
28-
बाक़ी है हर तहजीब पुरानी अभी तक गाँव में -रजनी मल्होत्रा
मेरा फोटो
________________
29-
हमको भी तडपागें -धीरेन्द्र
Friends18.com Orkut Scraps
________________
और अन्त में
30-
________________
आज के लिए इतना ही, फिर मिलने तक नमस्कार!

26 comments:

  1. बेहतरीन चर्चा,
    मुझे स्थान दिया,आभार.

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर चर्चा।
    आज उत्तराखण्ड में विधानसभा का चुनाव हो रहा है। दिन में आराम से बैठकर सभी लिंकों को पढ़ूँगा।

    ReplyDelete
  3. कुछ अनुभूतियाँ इतनी गहन होती है कि उनके लिए शब्द कम ही होते हैं !
    बहुत बेहतरीन और प्रशंसनीय.......
    मेरे ब्लॉग पर आपका स्वागत है।

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर चर्चा ||

    ReplyDelete
  5. आराम से बैठ कर पढ़ते हैं..

    ReplyDelete
  6. बेहतरीन चर्चा,
    आभार !!

    See :
    ब्लॉगर्स मीट वीकली (28) God in Ved & Quran
    http://hbfint.blogspot.com/2012/01/28-god-in-ved-quran.html

    ReplyDelete
  7. सुंदर चर्चा, रात को ही पढ़ने का समय मिल पाएगा, मिलते हैं फिर......

    ReplyDelete
  8. उत्कृष्ट लिंक्स लाये ,सभी मन को भाये .

    ReplyDelete
  9. सुन्दर लिंक संयोजन्।

    ReplyDelete
  10. मुझे स्थान देने के लिए आभार,....
    अच्छे लिंक्स,बढ़िया चर्चा,..

    ReplyDelete
  11. बहुत कुछ रह गया है पढ़ने से।

    ReplyDelete
  12. बहुत ही बढि़या लिंक्‍स संयोजन ।

    ReplyDelete
  13. बहुत ही खुबसूरत लिनक्स दिए है आपने....मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |

    ReplyDelete
  14. सुन्दर चर्चा!
    आभार!

    ReplyDelete
  15. बढ़िया लिंक्स,सुन्दर चर्चा.

    ReplyDelete
  16. चर्चा मंच पर स्थान देने के लिए दिल से आप का शुक्रिया,सब ही लिंक्स बहुत उम्दा है पर समय अभाव में ठीक से पढ़ नहीं पाई हूँ इसका खेद भी है ....नए ब्लॉग पर सब सादर आमंत्रित है ....

    गौ वंश रक्षा मंच gauvanshrakshamanch.blogspot.com

    ReplyDelete
  17. sundar liks...mehnat nahi karni parti he,,...sabhi mere pasand ke..

    ReplyDelete
  18. Bahut hi achhe links hai sir.. :)
    Mujhe shaamil karne ke liye bahut bahut shukriye..

    ReplyDelete
  19. सजी-धजी सुंदर चर्चा।
    आभार आपका।

    ReplyDelete
  20. बहुत ही विस्तृत और सुंदर चर्चा चंद्र जी । मेरी पोस्ट को स्थान देने के लिए आभार और शुक्रिया आपका ।

    ReplyDelete
  21. बहुत सुंदर एवं सार्थक सार्थक प्रस्तुति ।
    welcome to my new post on Taslima Nasarin.
    धन्यवाद ।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin