Followers

Saturday, June 22, 2013

नहीं दिख रही लाशें……डर लगता है…मुझे धूप चाहिए

 उत्तराखंड की त्रासदी से व्यथित ह्रदय हैं सबके और ना जाने कितना समय लगेगा सब कुछ सामान्य होने में ………ईश्वर सबको सकुशल रखे और जिन पर ये विपदा आयी है उन्हें सहने का हौसला प्रदान करे आइये इसी प्रार्थना के साथ चलते हैं चर्चा मंच की ओर 


अब पोस्ट को बनाये और दिलचस्प

जानिये कैसे 


कैसे कहूं सखी मन मीरा होता तो श्याम को रिझा लेता

मीरा होना आसान कहाँ 






कहीं हैकिंग का अगला शिकार आप तो नहीं....(hakers and hacking)

जानना जरूरी है 



अनुज कुमार



मिलिये एक शख्सियत से 






काश हम समझ पाते 





चलो गायें कोई तराना हैं



पढ सको तो पढ लेना 



चलो आज संवारें आखर



सत्यानाशी सिगरेट...

 


इसमें क्या शक है







और दिल लहुलुहान है



अपनी ही सच्चाइयों से 





बधाइयाँ जी



तो बाहर निकलना होगा


मटक कर चलती है....!!!
 तो किसी का क्या लेती है



आग-एक लघु कथा


सब जल जाता है




आना भी नहीं चाहिये


कहाँ कहाँ से जाओगे


उफ़ ये क्या हो गया 


सत्य वचन 


कैसे




ऐसा क्या 





ओह ! बुरा हुआ




सबको पता है 



इसके सिवा बचा क्या है



माँ तो माँ होती है



आज की चर्चा को यहीं विराम देती हूँ ………फिर मिलते हैं ………सबके लिये सब दिन शुभ हों

21 comments:

  1. पठनीय सूत्रों से सजी सुन्दर चर्चा !!

    ReplyDelete
  2. acche link he or meri post ko samil karne ke liye aapka aabhar

    ReplyDelete
  3. बहुत ही सुन्दर लिंक्स सजाए हैं

    ReplyDelete
  4. वंदना जी बहुत ही सुन्दर लिंक्स संयोजन लाजवाब प्रस्तुतिकरण हार्दिक आभार आपका.

    ReplyDelete
  5. बहुत सुिन्दर और सामयिक चर्चा!
    आभार!
    --
    नेट की समस्या बनी हुई है मेरे यहाँ इसलिए कहीं पर भी जाना नहीं हो पा रहा है!

    ReplyDelete
  6. बहुत ही सुन्दर लिंक्स चर्चा!

    ReplyDelete
  7. बहुत ही सुन्दर, सामयिक चर्चा!हार्दिक आभार आपका

    ReplyDelete
  8. सुन्दर चर्चा

    ReplyDelete
  9. .सार्थक व् सराहनीय लिंक्स संयोजन .मेरी पोस्ट को स्थान देने के लिए आभार गरजकर ऐसे आदिल ने ,हमें गुस्सा दिखाया है . आप भी जानें संपत्ति का अधिकार -४.नारी ब्लोगर्स के लिए एक नयी शुरुआत आप भी जुड़ें WOMAN ABOUT MAN

    ReplyDelete
  10. उपयोगी लिंक्स, आभार.

    रामराम.

    ReplyDelete
  11. sundar links ..shamil karne ka shukriya ..

    ReplyDelete
  12. sundar links sanjoyen hain aapne .meri post ko yahan sthan dene hetu hardik aabhar

    ReplyDelete
  13. बहुत बढ़िया चर्चा प्रस्तुति

    ReplyDelete
  14. सारगर्भित पोस्टों का चुनिन्दा संकलन. आभार सहित...

    ReplyDelete
  15. .सार्थक व् सराहनीय लिंक्स संयोजन .मेरी पोस्ट को स्थान देने के लिए आभार!

    ReplyDelete
  16. .
    .
    .
    अच्छा संकलन...

    आपका आभारी हूँ...


    ...

    ReplyDelete
  17. सुन्दर चर्चा उम्दा पाठ्य सामग्री

    ReplyDelete
  18. soochna mili per apni rachna kaheennazar nahi aaye :)

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"समय के आगोश में" (चर्चा अंक-3036)

सुधि पाठकों! बुधवार   की चर्चा में  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। राधा तिवारी (राधे गोपाल) -- रपट   "पत्रिका एवं पुस्...