चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Thursday, January 24, 2013

याद आए नेता जी ( चर्चा - 1034 )


आज की चर्चा में आप सबका हार्दिक स्वागत है 
शुरुआत एक खबर से । विश्व हिंदी सचिवालय मारीशस द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय कहानी प्रतियोगिता का परिणाम घोषित कर दिया गया है , और  काफी सारे भारतीय इसमें हैं  ( जिनमें मैं भी एक हूँ ) । ब्लॉगर साथी विजय कुमार सप्पाती जी भी हैं । 

अब चलते हैं चर्चा की ओर 
My Photo
जाले 
Chintanpal. चिन्तनपल
My Photo 
takniki gyan
मेरा फोटो
मेरा फोटो
आज के लिए बस इतना ही 
धन्यवाद 
*********

22 comments:

  1. बहुत अच्छे लिनक्स मिले .... सुंदर सधी हुयी चर्चा ,

    चैतन्य को शामिल करने का आभार

    ReplyDelete
  2. उपयोगी लिंकों के साथ बेहतरीन चर्चा!
    आभार भाई दिलबाग विर्क जी!

    ReplyDelete
  3. सादर नमन |
    सुन्दर चर्चा --
    आदरणीय दिलबाग जी |

    ReplyDelete
  4. बेहतरीन ,पठनीय लिंक्स के साथ चर्चा हेतु हार्दिक बधाई दिलबाग विर्क जी

    ReplyDelete
  5. आदरणीय दिलबाग सर, गुरुजनों एवं चर्चा मंच के पाठकों को मेरी ओर से सुप्रभात,दिलबाग सर लिंक्स के फूलों की सुन्दर माला गूंथी है, मेरी रचना को स्थान देने हेतु ह्रदय के अन्तःस्थल से अनेक-अनेक धन्यवाद. सादर

    ReplyDelete
  6. दोस्तों मेरे ब्लॉग पर एक विज्ञापन (80% free) कहाँ से आने लगा उसको हटा नहीं पा रही हूँ कुछ सुझाव दें please

    ReplyDelete
  7. चर्चा के लिए उम्दा लिंक संयोजन !!

    ReplyDelete
  8. बढिया चर्चा
    अच्छे लिंक्स

    ReplyDelete
  9. बहुत बढ़िया चर्चा प्रस्तुति ..
    मेरी ब्लॉग पोस्ट शामिल करने के लिए आभार..

    ReplyDelete
  10. उम्दा लिंक संयोजन ......दिलबाग जी !!

    ReplyDelete
  11. मेरी गज़ल चर्चा-मंच पर लाने पर दिलबाग जी को धन्यवाद. सभी अतिथि-जन का भी आभार.

    ReplyDelete
  12. धधके हुवे सीनों में अहले-करम लेकर..,
    निकले फिर दीवाने लौहे-कलम लेकर.....

    ReplyDelete
  13. बहुत उम्दा लिंक संयोजन ......दिलबाग जी !!

    ReplyDelete
  14. सभी लिंक्स बहुत ही अच्छे लगे सर ! आज नेटवर्क में कुछ समस्या आ रही है... इसलिए बहुत देर लगी ...
    मेरी रचना को स्थान देने का आभार !
    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  15. इन दि‍नों मेरा प्रयास रहता है कि इतनी मेहनत से एकत्र की गई सारी चर्चाओं को पढ़ डालूं...पर एक दो रह ही जाते हैं। सुंदर चर्चा सजाई आपने। रूप-अरूप को शामि‍ल करने के लि‍ए आभार

    ReplyDelete
  16. सुंदर चर्चा | सभी लिंक्स बेहतर |

    ReplyDelete
  17. rachanaon ko jyade se kyade logon tak pahunchane ke liye charcha manch ka sahridaya aabhar

    ReplyDelete
  18. बहुत बढ़िया चर्चा

    ReplyDelete
  19. विर्क सहाब मजा आ गया वड़ा ही सुन्दर संयोजन किया आपने हर प्रकार के लिंक मिले यहाँ
    गजव की जानकारी भरे लिंक वाकी 26 जनवरी आने में कुछ ही समय बाकी है
    आजादी के इस परम पर्व पर आप सभी भारत वासियों को ही नही अपितु सभी अप्रवासी भारतीय व प्रवासी भारतीयों को द लाइट आफ आयुर्वेद की ओर से हार्दिक शुभकामनाऐं ।
    http://ayurvedlight.blogspot.in

    ReplyDelete
  20. बहुत ही सुन्दर सूत्र सजाये हैं, आभार..

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin