Followers

Thursday, January 03, 2013

नव वर्ष - आक्रोश और निराशा ( चर्चा - 1113 )

आज की चर्चा में आप सबका हार्दिक स्वागत है 
वर्ष 2013 के लिए चर्चा मंच के सभी पाठकों को हार्दिक शुभकामनाएं 
चलते हैं चर्चा की ओर 
धान के देश में!
 My Photo
My Photo
मेरा फोटो
नुक्कड़
1
delhi gang rape, crime against women, police cartoon, hindi cartoon, daily Humor, eve teasing cartoon


14 comments:

  1. उपयोगी लिंकों के साथ बहुत सुन्दर चर्चा!
    --
    ♥(¯`'•.¸(¯`•*♥♥*•¯)¸.•'´¯)♥
    ♥♥HAPPY NEW YEAR...नव वर्ष मंगलमय हो !♥♥
    ♥(_¸.•'´(_•*♥♥*•_)`'• .¸_)♥

    ReplyDelete
  2. बढ़िया लिंक्स दी है आज पढने के लिए |
    आशा

    ReplyDelete
  3. उपयोगी लिंकों के साथ बहुत सुन्दर चर्चा!,

    meri post ko charchamanc par laane ke liye aapka aabhar

    ReplyDelete
  4. प्रभावी चर्चा |
    शुभकामनायें
    आदरणीय दिलबाग जी ||

    ReplyDelete
  5. बहुत ही बढ़िया लिंक दिए गए है, मेरी पोस्ट photo-scape को शामिल करने के लिए धन्यवाद जी...

    ReplyDelete
  6. अनुपम लिंक्‍स संयोजन
    आभार

    ReplyDelete
  7. वेल्डन दिलबाग जी। बहुत सुन्दर चर्चा सजाई है। ख़ास कर आपका चर्चा में लिंक्स सजाने का अंदाज़ काफी जुदा है।

    ReplyDelete
  8. बहुत प्यारे लिंक्स संजोये हैं।

    ReplyDelete
  9. बहुत सार्थक लिंक्स संजोये हैं हार्दिक आभार हम हिंदी चिट्ठाकार हैं

    ReplyDelete
  10. बहुत बढ़िया सामयिक चिंतन के साथ सामयिक चर्चा प्रस्तुति ...आभार

    ReplyDelete
  11. मानव जीवन की सभ्यता के संचालन का आधुनिक तंत्र है
      लोकतंत्र, हमारे आधुनिक भारत के नेता-मंत्री जाने कौन से
     पौराणिक युग में जी रहे हैं कोई स्वयं को 'राजा' समझता है 
     तो कोई 'युवराज'.....
     

    ReplyDelete
  12. बड़े ही सुन्दर सूत्र एकत्र किये हैं। आभार।

    ReplyDelete
  13. बहुत ही सुंदर चर्चा सजाई है आपने...मेरी कवि‍ता शामि‍ल करने के लि‍ए धन्‍यवाद..

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"सब कुछ अभी ही लिख देगा क्या" (चर्चा अंक-2819)

मित्रों! शनिवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')   -- ...