चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Saturday, February 26, 2011

तुम क्या जानो‍-"स्पेशल काव्यमयी चर्चा":-(शनिवासरीय चर्चा)....Er. सत्यम शिवम


*ॐ साई राम*
 लेकिन "ज़रा ठहरो"
       जो "मौन" और "उलझन" मुझे मिली हैं, 
     "सोचती हूँ" मेरी "अंतर्व्यथा" सुनने के लिये, 
  -----सत्यम शिवम-----
"स्पेशल काव्यमयी चर्चा"

ब्लागः- "सुधिनामा" 
ब्लागरः- साधना वैध जी

नमस्कार दोस्तों.....सत्यम शिवम फिर आज पेश है आपकी खिदमत में।
मुझे पता है आप सबों को इस शनिवासरीय चर्चा का बेसब्री के साथ इंतजार होता है...
और अब तो "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" भी होने लगी है,आज की "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" है ब्लाग "सुधिनामा" के खुबसुरत काव्य मोतियों को,जिन्हे बहुत ही सुंदरता से पिरो कर भेजा है "साधना वैध जी" ने.......

"स्पेशल काव्यमयी चर्चा" के बारे में अधिक जानकारी हेतु इस लिंक पर जाये...
आप भी अपनी काव्यमयी प्रस्तुति आज ही मुझे भेज दे....
मेरा ईमेल है :-satyamshivam95@gmail.com

चर्चा शुरु करने से पहले "बधाई हो बधाई"......
वंदना गुप्ता जी को पूरे "चर्चा मंच" के टीम की ओर से ढ़ेरों बधाईयाँ और शुभकामनाएँ.......
  वंदना जी बन गई है  "ऑल इंडिया ब्लॉगर्स एसोसिएसन" की अध्यक्षा।
  हम सब आपके उज्जवल भविष्य की कामना करते है।

चलिए अब प्रशन्नचित मन से शुरु करे आज की चर्चा....
सबसे पहले कविताओं की सरिता में लगा ले डुबकी....
*काव्य-रस*
   1.)पुनम जी "झरोखा" से दिखा रही है 
 2.)कुश्वंश जी ने "अनुभूतिओं का आकाश" पर
3.)ॐ कश्यप जी की "यादें सदा के लिए" कहती है
  4.)गिरिश मुकुल जी के "इश्क-प्रीत-लव" बयां करते है
5.)अजय यादव जी के "साहित्य शिल्पी" पर

6.)प्रीति टेलर जी "वटवृक्ष" में हुई
       अजनबी

                    












7.)वर्षा सिंह जी की "वर्षा" पर छायी है
 8.)आशा जी की "अकांक्षा" में दबी है एक
9.)वंदना जी के "जख्म...जो फूलों ने दिये!" ने सीखाया
  10.)मिनाक्षी पंत जी की दुनिया रंग रंगीली" में
        11.)डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक जी के "उच्चारण" पर देखिए
12.)MANVINDER BHIMBER जी अब "मेरे आस-पास" पूछती है
13.)वंदना सिंह जी के "कागज मेरा मीत,कलम मेरी सहेली..." के संग














14.)रेखा श्रीवास्तव जी के "HINDIGEN" पर

15.)मेरी "काव्य कल्पना" पर
         16.)जेन्नी शबनम जी के "लम्हों का सफर" ने बनाया
17.)अनीता जी के "श्रद्धा सुमन" से एक खुबसुरत
18.)यशवंत माथुर जी का "जो मेरा मन कहे" वो
  19.)निवेदीता जी के "संकलन" पर पढ़िए "साहिर लुधियानवी साहब" की एक रचना
      20.)रजनीश जी "रजनीश का ब्लाग" पर दे रहे है अपनी काव्यनुमा 
 21.)अभिषेक जी की "कविता‍ एक कोशिश" पर
      22.)sagebob जी के "दिल की कलम से" 
 23.)उदगार जी के "मन की उलझन या सुलझन" से 
24.)प्रियंका जैन जी के "प्रियंकाभिलाषी" से
अब कुछ बेहतरीन लेखों की बारी......
*गद्य-रस*
      25.)श्याम कोरी "उदय" जी का "कड़ुवा सच"
   26.)मनोज जी के "मनोज" पर आचार्य परशुराम राय जी का एक ज्ञानवर्धक लेख
      27.)"चला बिहारी ब्लागर बनने" जी ले के आये है
      28.)राजीव कुमार कुलश्रेष्ठ जी के "उफ़! ये ब्लागिंग BLOGGERS-PROBLEM" पर सुशील जी की एक अच्छी जानकारी
       29.)श्रीमती पूनम माथुर जी के "क्रांति स्वर..." से उदगार
30.)दिव्या श्रीवास्तव जी के "ZEAL" से  
31.)दिनेशराय द्विवेदी जी के "तीसरा खंबा" की व्यथा

32.)संजय जी के "मो सम कौन कुटिल खल......?" पर

          33.)डा अशोक कुमार "अन्जान" जी के "Mind and body researches" से
  34.)कविता जी से "कैसे कहूँ?"
35.)पी.सी.गोदियाल"परचेत"जी के "अंधड़" पर
   36.)सुशील बाकलीवाल जी के "जिन्दगी के रंग" पर देखिए
37.)सुनील कुमार जी की "दिल की बातें" कर रही है
38.)सोनल रस्तोगी जी के "कुछ कहानियाँ,कुछ नज्में" से 
39.)जगदीश्वर चतुर्वेदी जी के "नया जमाना" पर


40.)krati जी के "TRUTH
the reality of earth" पर उन्हे
41.)प्रेम रस में सराबोर मेरी रचना "गद्य सर्जना" पर
   42.)बी एस पाबला जी के "ब्लाग बुखार" पर डराने वाली खबर 
हँसने और खिलखिलाने की बारी......
*हास्य-रस*
 43.)रवि रत्लामी जी के "रचनाकार" पर
44.)Kirtish Bhatt  जी के "बामुलाहिजा" पर 
   45.)सुरेश शर्मा (कार्टूनिस्ट) के "कार्टूनिस्ट सुरेश की पेशकश" से
अब थोड़ा लौट आये बचपन में.......
*बाल-रस*
       46.)Patali-The-Village जी द्वारा "Dadi maa ki kahaniyan" बच्चों
      47.)रावेंद्रकुमार रवि जी के "सरस पायस" पर
48.)"माधव" कहता है 

*हमारी ओर से भी उन्हें सत् सत् नमन*
अब हो जाइये तैयार,क्योंकि आपके जीभ अब ना रहेंगे बस में.......
*स्वाद-रस*
49.)निवेदीता जी के "जायका" में आज स्वादिष्ट
 50.)होली आने वाली है.....
मोनिका भट्ट जी के "कुछ रसोई से"
 भी चख लीजिए
पेट तो भर गया,अब थोड़ा दिमाग के ज्ञान को भी दे खुराक......
*तकनीक-रस*
 51.)वर्ल्ड कप की खुमारी छायी हुई है.....
 नवीन प्रकाश जी के "Hindi Tech - तकनीक हिंदी में" से
   52.)मयंक भारद्वाज जी के "Computer Duniya" से
53.)दीपेश गौतम जी के साफ्टवेयर से करे
अवसान जो चर्चा का निकट आया,
हम अध्यात्म रस की ओर चल पड़े......

*अध्यात्म-रस*
54.)सदा जी के "सदविचार" पर 
55.)राज शिवम जी के "ॐ शिव माँ" पर जाने गुढ़ रहस्य
56.)वाणी गीत जी के "ज्ञानवाणी" से
57.)ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ जी के "तस्लीम" पे छाये हुए है
58.)परमजीत बाली जी की "साधना" में समाये
कबीर के श्लोक ५८

59.)वें पुष्प के रूप में देखिए
एक नया ब्लॉग
देवभूमि चिट्ठाकार समिति
आजकल संगठन का युग है
आप भी इस संगठन में
अपनी भागीदारी कीजिए न!
इस पर श्रीमती वन्दना गुप्ता की
बहुत सुन्दर पोस्ट लगी है-

"श्रीमद भगवद्गीता से ..............."

देवभूमि ..........जैसा नाम वैसी ही पोस्ट भी होनी चाहिए 

कम से कम पहली पोस्ट तो ऐसी ही होनी चाहिए ..........

इसलिए देवभूमि को नमन करते हुए पहली पोस्ट लगा रही हूँ.


अब चलते है हम अपने सफर पर,आप मजा लीजिए आज की चर्चा का....
हाँ और भूलियेगा मत अपनी "स्पेशल काव्यमयी चर्चा" के लिए पोस्ट भेजना....


अपने विचारों से अवगत कराते रहे,साथ ही मेरा हौसला बढ़ाते रहे...
फिर मिलेंगे अगले शनिवार को.........धन्यवाद।
 -------सत्यम शिवम---------

47 comments:

  1. चर्चा में शामिल करने के लिये धन्यवाद। अच्छे लिंक्स देखने को मिले, आभार।

    ReplyDelete
  2. अच्छे लिनक्स लिए सुंदर चर्चा...... आभार

    ReplyDelete
  3. बहुत ही खूबसूरत चर्चा हैँ । सभी प्रकार के लिँको का समावेश अच्छा लग रहा है । मेरे लेख को भी चर्चा मेँ शामिल किया आपका बहुत बहुत आभार ।

    ReplyDelete
  4. आज की काव्यमयी चर्चा में आनंद आ गया |आपनें
    बहुत सी लिंक दे कर दोपहर के लिए बहुत व्यस्त कर दिया आभार |मुझे आज चर्चा मंच में शामिल करने के लिए बहुत बहुत आभार |
    आशा

    ReplyDelete
  5. बेहतारीन लिंको से सजी अति सुन्दर सार्थक चर्चा के लिये आपको
    धन्यवाद धन्यवाद

    ReplyDelete
  6. achchhe links sanjoye bahut sundar charcha.aabhar....

    ReplyDelete
  7. काव्यमयी चर्चा के लिये आपने मेरी रचनाओं का चयन किया आपका बहुत बहुत धन्यवाद एवं आभार ! बाकी लिंक्स भी बेहद आकर्षक प्रतीत होते हैं ! चर्चा मंच सजाने में आपकी मेहनत और लगन परिलक्षित होती है ! बधाई एवं शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  8. prya satyam ji,

    sadar sneh ,

    bahut sundar sanyojan, behatar prayas
    bahut achhe kavya -dhan padhane ko mile.
    dhanyavad .

    ReplyDelete
  9. बहुत ही उपयोगी चर्चा!
    बहुत परिश्रम करते हैं आप!

    ReplyDelete
  10. चर्चा में शामिल करने के लिये धन्यवाद। अच्छे लिंक्स देखने को मिले, आभार

    ReplyDelete
  11. चर्चा में शामिल करने के लिये धन्यवाद। अच्छे लिंक्स देखने को मिले, आभार

    ReplyDelete
  12. बहुत मेहनत से सजाई है आपने चर्चा मंच की बगिया.
    मेरी रचना शामिल करने के लिए शुक्रिया.
    सलाम.

    ReplyDelete
  13. चर्चा में शामिल करने के लिये धन्यवाद। अच्छे लिंक्स देखने को मिले, आभार।

    ReplyDelete
  14. अच्छे लिंक्स सुंदर चर्चा
    "यादें सदा के लिए" कहती है
    ऐ मेरे दिल मुझे ऐसी जगह लेकर चल
    चुनने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद
    चर्चा मंच हे ब्लोगरो की सरकार
    आप सभी का शुक्रिया
    आप सभी का आभार ...

    ReplyDelete
  15. बहुत ही खूबसूरत चर्चा हैँ

    margdarshan ka aankankshi rahunga....
    mere prayas ko charcha me rakhne ke liye ...

    good wishes 2 cm

    ReplyDelete
  16. चर्चा मंच पर आ कर -
    आज का दिन सार्थक हो गया...
    सभी लिंक्स दिलचस्प हैं...
    आपको हार्दिक शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  17. सुंदर व सार्थक चर्चा के लिए आभार शिवम जी.

    ReplyDelete
  18. चर्चा मंच सुन्दर पुष्पों से महकाया है ...उम्दा चर्चा ...

    ReplyDelete
  19. सबसे पहले तो सत्यम जी आपका हार्दिक आभार जो एक छोटी सी खबर को इतनी प्रमुखता दी आपने………मै तो किसी काबिल नही सब आप सबका स्नेह है ।
    आज की काव्यमयी चर्चा में आनंद आ गया …………बहुत मेहनत और दिल से चर्चा करते हैं ………आज तो सारा दिन आराम से पढेंगे लिंक्स को और मेरी दो रचनाओ को स्थान देने के लिये आपका हार्दिक आभार्।

    ReplyDelete
  20. बहुत ही खूबसूरत चर्चा ,शिवम जी !और साथ ही वन्दना गुप्ता जी को हमारी भी बधाई !

    ReplyDelete
  21. "सुधियों का क्या" यह "तुम क्या जानो"
    लेकिन "ज़रा ठहरो"
    "कल रात ख्वाब में" ''विरासत" में,
    जो "मौन" और "उलझन" मुझे मिली हैं,
    "सोचती हूँ" मेरी "अंतर्व्यथा" सुनने के लिये,
    "तुम्हें आना ही होगा"
    "तुम आओगे ना?"
    -----सत्यम शिवम-----
    भिन्न-भिन्न रचनाओं से ये लाईने जो आपने सजाई , वो काबिले तारीफ़ है !

    ReplyDelete
  22. चर्चा में शामिल करने के लिये धन्यवाद। लिंक्स भी बेहद आकर्षक hain

    ReplyDelete
  23. चर्चा के लिए किये गए परिश्रम के लिए आप सबसे पहले बधाई के पात्र है और इस लिए भी कि हम जैसे लोगों को चुने हुए लिंक थोड़े समय में बहुत कुछ डे जाते हैं. सब तक पहुँचने का कम आप जो कर रहे हैं. मेरी रचाना को शामिल करने के लिए धन्यवाद.

    ReplyDelete
  24. बहुत खुशखबरी सुनाई है आपने ..वंदना जी के बारे में ... मिठाई कहाँ है..??.. :))
    वंदना जी को बधाई..
    और सत्यम जी आपने बहुत सुन्दर चर्चा की है... आपको भी बधाई.. और आभार

    ReplyDelete
  25. हर रुप, रंग और स्वाद से परिपूर्ण इस जानकारीवर्द्धक चर्चा के लिये आभार । सुश्री वन्दनाजी को बधाई और मेरी पोस्ट को भी स्थान देने के लिये बहुत-बहुत धन्यवाद श्री सत्यम् शिवमजी को.

    ReplyDelete
  26. 'क्रन्तिस्वर' तथा 'जो मेरा मन कहे' को इस चर्चा में शामिल करने हेतु धन्यवाद.अन्य अच्छे लिनक्स से भी परिचय हुआ.

    ReplyDelete
  27. ye safar bahut suhana laga ,aapki mehnat ubhar aai ,jindagi ka saaz aur ek naya andaz .sach satyam shivam sa .

    ReplyDelete
  28. मेरी रचना शामिल करने के लिए शुक्रिया.

    ReplyDelete
  29. बहुत बहुत धन्यवाद मेरी रचना को चर्चा मंच में शामिल करने के लिए...
    सभी लिंक्स काफ़ी अच्छे हैं.
    आपका आभार...

    ReplyDelete
  30. सय्तम जी ,चर्चा में सम्मिलित करने के लिये धन्यवाद । अच्छे लिन्क्स भी मिले ,आभार !

    ReplyDelete
  31. चर्चा में शामिल करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद, ये ब्लॉग भाव के सभी रंगों से परिपूर्ण है, कृपया मार्गदर्शन करते रहें
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  32. 23.)उदगार जी के "मन की उलझन या सुलझन" से
    क्या लिखूं?......
    सत्यम जी ,
    This link have been not found.
    When I go to this blog link... a massage seen there ....
    ...."Blog has been removed
    Sorry, the blog at wwwharshitajoshi.blogspot.com has been removed. This address is not available for new blogs."

    Any Error? OR Some Querious ?

    ReplyDelete
  33. @वर्षा सिंह जी.....मैने तो पूरी तरह लिंक चेक कर लिया था...लेकिन सच में अभी उनका लिंक नहीं खुल रहा है........

    ReplyDelete
  34. @उदगार जी....आपका ब्लाग लिंक क्यों नहीं खुल रहा है,मैने पूरे अच्छे से चेक कर लिया है,पर क्या पता क्या दिक्कत आ रही है...........आपका ब्लाग लिंक है http://wwwharshitajoshi.blogspot.com/2011/02/blog-post_24.html

    ReplyDelete
  35. @वर्षा जी...अब आप देख ले....लिंक मिल रहा है।
    http://harshitajoshi.blogspot.com/2011/02/blog-post_24.html

    ReplyDelete
  36. satyam ji
    aapko bahut -bahut dhanyvaad apne charcha-manch par mujhe bhi jagah dene ke liye .aapne meri gazal ko is yogy samjha ,iske liye dil se aapki aabhari hun.yahan aakr sach bahut hi achcha laga. aapki chacha-manch par aakar sabhi tarah ki vidhao se paripurn aur bhaut hi achhe logo se aapke dwara mulaqat bhi hui.sadhna vaidhy -v-vandna gupta ji ko bhi bahut bahut hardik badhai.aur is mahtvpurn jankari ko dene ke liyeaapjyada hi badhai ke pattra hain.
    yahan aakar badi khushi hui.
    dhanyvaad
    poonam

    ReplyDelete
  37. सत्यम शिवम जी,

    उदगार जी के "मन की उलझन या सुलझन" का लिंक अभी भी नहीं मिल रहा है।

    ReplyDelete
  38. @वर्षा सिंह जी.......अब लिंक मिल रहा है,कृपया आप एक बार फिर से चर्चा मंच का टैब रीलोड कर देख ले........धन्यवाद।
    http://harshitajoshi.blogspot.com/2011/02/blog-post_24.html

    ReplyDelete
  39. " सबकुछ छुपाऊं,
    और हंस कर अपना नाम सार्थक करूँ !!
    -हर्षिता "

    सत्यम शिवम जी,
    उदगार जी के "मन की उलझन या सुलझन" का लिंक आखिर मिल ही गय़ा . हर्षिता जी की प्रस्तुति देखने को मिली..., आभार।
    सचमुच आपने बहुत मेहनत की है....आपका प्रयास बधाई योग्य है।
    आपको हार्दिक धन्यवाद एवं शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  40. आप भी बहुत बढ़िया चर्चा करते हैं!
    मेरी कहानी को स्थान देने के लिए आभार!

    ReplyDelete
  41. 50 से अधिक बेहतरीन लिंक्स से सुसज्जित है ये चर्चा ! धन्यवाद !बहुत परिश्रम किया है आपने ! मेरी कविता को भी स्थान मिला , आभारी हूँ ! वंदना जी को भी बधाई एवं शुभकामनाएँ !

    ReplyDelete
  42. आप सभी का बहुत बहुत आभार...नये ब्लागरों को प्रेत्साहीत करना ही तो हमारा प्रथम कर्तव्य है...आप सब यूँही साहित्य के उपवन में अपने काव्य रुपी पुष्पों से हरदम खुशबु फैलाते रहे......

    ReplyDelete
  43. @साधना वैध जी को बहुत बहुत बधाई......"स्पेशल काव्यमयी चर्चा" हेतु..
    @वंदना जी..आपको आज के इस "शनिवासरीय चर्चा" पर सम्मानित करते हुए अब अभिभूत हो गये.................
    @वर्षा सिंह जी....लिंक्स के सही ढ़ंग से ना काम कर पाने के कारण आपको लिंक तक पहुँचने में थोड़ी दिक्कते आयी...यूँही आप हमे अवगत कराते रहे.........धन्यवाद।

    ReplyDelete
  44. लिंक्स ही लिंक्स...
    खूबसूरत विस्तृत चर्चा ...
    चर्चा में शामिल करने के लिए बहुत आभार !

    ReplyDelete
  45. बेहतरीन लिंक्स से सजी इस चर्चा के लिए तथा आपके अथक परिश्रम के लिए आपको नमन ।

    ReplyDelete
  46. चर्चा मंच पर स्थान और सम्मान देने केलिए बहुत बहुत आभार आपका| हर रंग से भरी हुई चर्चाएँ, बहुत अच्छी लगी, शुभकामनाएं!

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin