समर्थक

Thursday, June 23, 2011

चर्चामंच - 554


आज की चर्चा में आप सबका हार्दिक स्वागत है 

                         झाँसी की रानी का दुर्लभ चित्र 

18 जून अमर वीरांगना लक्ष्मी बाई का शहीदी दिवस था. उन्होंने अंग्रेजों से टक्कर लेकर वह जज्बा पैदा किया जो आज़ादी की लड़ाई में काम आया , सबसे पहले उन्हें नमन. साथ ही देखते हैं सुभद्रा कुमारी चौहान की कालजयी रचना शब्दों के दंगल ब्लॉग पर.

अब चलते हैं चर्चा की और 

सबसे पहले पद्य रचनाएं 

अब देखते हैं गद्य रचनाएं 
  • सबसे पहले मिलते हैं बौने कद्द के बड़े कलाकार से जो गुमनामी में जी रहा है , मिलवा रहे हैं अतुल श्रीवास्तव
  • एक व्यंग्य समीर लाल जी का , जो डॉ. प्रेम जन्मेजय जी की पत्रिका व्यंग्य यात्रा में प्रकाशित हो चुका है ,पढिए उनके ब्लॉग उडन तश्तरी पर .
  • आजकल चमचों का दौर है लेकिन सावधान ...चमचों के साथ छुरी कांटे भी होते हैं , आगाह करना था, कर दिया मिसफिट ब्लॉग ने ,आगे आपकी मर्जी .
  • बारिशें शुरू हो चुकी हैं ,ऐसे में सर्द हवाएं यूं कहने लगी -------
  • वाणी जी से मिलवा रही हैं रश्मि प्रभा जी ब्लॉग शख्स -मेरी कलम से पर .
  • ब्लॉग जगत की शख्सियत पाबला जी से मिलवा रहे हैं जाकिर अली रजनीश.
  • अगर आप गोल्ड लोन लेने की सोच रहे है तो नीलम जी की बात जरूर सुनिएगा .
  • ब्लोगरों को मोक्ष कैसे मिलेगा , पुनर्जन्म का होना जैसे विषयों पर चर्चा - परिचर्चा के लिए पधारिए डॉ. दिव्या  के ब्लॉग पर .
  • कलयुग के साधुओं - महाराजों से मिलवा रहे हैं संदीप शर्मा जी .
  • अब कीजिए सैर विक्टोरिया फाल्स की , वीडियो के साथ.
  • सूफी फकीर बुल्लेशाह को कौन नहीं जानता , उनका संदेश है दुनाली ब्लॉग पर , जरूर पढिएगा , मानवता के लिए इसकी निहायत जरूरत है .


    अंत में प्रस्तुत है मेरी कविता , जिसे साहित्य सुरभि ब्लॉग पर चार किश्तों में प्रस्तुत किया गया था , हो सकता है आप इसे इकट्ठा पढना चाहें . 

                             महत्वाकांक्षा { भाग - 1 }
 आज के लिए बस इतना ही . आपके सुझावों और प्रतिक्रियाओं का इंतज़ार रहेगा .
                 धन्यवाद 
                        दिलबाग विर्क 

37 comments:

  1. अच्छे लिंक्स संजोये हैं ...!

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर चर्चा!
    आज आपने पढ़ने के लिए काफी अच्छे लिंक दिये हैं!
    आभार!

    ReplyDelete
  3. सुन्दर-सुन्दर-सुन्दर भाई|

    उत्तम-उत्तम-उत्तम भाई ||

    सुन्दर भाई -उत्तम भाई-

    मस्त बनाई -मस्त लिखाई||

    खूब बताई खूब बधाई ||

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर चर्चा !

    http://www.ashokbajaj.com/2011/06/blog-post_23.html

    ReplyDelete
  5. bahut accha blog hai yah toh
    par kabhi mere blog par bhi aaye my blog link- "samrat bundelkhand"

    ReplyDelete
  6. मनोरम परिचर्चा ,खुबसूरत प्रयास सराहनीय है .शुक्रिया जी

    ReplyDelete
  7. दिलबाग जी , आभार इस बेहतरीन चर्चा के लिए।

    ReplyDelete
  8. अच्छे लिंक्स संजोये हैं ...!

    ReplyDelete
  9. सुन्दर लिंक्स से सुसज्जित शानदार चर्चा रहा!

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्दर चर्चा ... आभार!

    ReplyDelete
  11. बहुत अच्छी लिंक्स |बधाई
    आशा

    ReplyDelete
  12. अच्छे लिंक्स ....बहुत सुन्दर चर्चा ...

    ReplyDelete
  13. बहुत ही सुन्दर लिंक्स से सुसज्जित शानदार चर्चा के लिये बधाई स्वीकारें।

    ReplyDelete
  14. दिलबाग जी, बहुत ही अच्‍छे लिंक्‍स दिये हैं आपने आज की चर्चा में ...आभार इस प्रस्‍तुति के लिये ।

    ReplyDelete
  15. सुंदर और सारगर्भिक चर्चा...शानदार।

    ReplyDelete
  16. इस सुंदर चर्चा के लिये बधाई व मुझे भी शामिल करने के लिये आभार !

    ReplyDelete
  17. बेहतरीन चर्चा के लिए आभार.

    ReplyDelete
  18. Dilbag ji bahut sarthak charcha prastut ki hai aapne .meri rachnaon ko charcha me sthan dene hetu hardik dhanyvad .aabhar

    ReplyDelete
  19. अच्छे लिंक्स संजोये हैं ...आपना कीमती टाइम निकल कर मेरे ब्लॉग पर आए !
    डाउनलोड म्यूजिक
    डाउनलोड मूवी

    ReplyDelete
  20. Virk sir, Meri kavita "KITAB" charcha munch per leyney ki leyey app ka dil sey abbhar prakat kertey hai saat mai apka sukirya adda kertey hai ki charca ko apney itney acchay terh sey sajaya. dhaynbaad.

    ReplyDelete
  21. अच्‍छे लिंक।

    शुक्रिया

    ReplyDelete
  22. दिलबाग जी,खुबसूरत परिचर्चा,सराहनीय प्रयास में मुझे भी शामिल करने के लिये आभार. लिंक्स उत्तम हैं.बधाई.

    ReplyDelete
  23. आज आपने बहुत अच्छे लिंक दिये हैं धन्यवाद और बधाई

    ReplyDelete
  24. धन्यवाद विर्क जी...काफी कुछ पढने को मिला ...आभार ...

    ReplyDelete
  25. चर्चा का तरीक़ा बेहद रुचिकर है.
    आभार सहित

    ReplyDelete
  26. बहुत सुन्दर और रोचक चर्चा...

    ReplyDelete
  27. काफी वक्त गुजर गया मेरा ब्लाग kishordiwase.blogspot.com देखा नहीं गया है. क्या पोस्ट सीधे भेजनी होती है?

    ReplyDelete
  28. सुन्दर लिंक संजोये ..उत्तम चर्चा ....

    ReplyDelete
  29. आपकी "चर्चा" के अंदाज निराले हैं.

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin