चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Tuesday, August 26, 2014

तारा रानी फँस गईं, समझी लव जेहाद -चर्चा मंच 1717

तारा रानी फँस गईं, समझी लव जेहाद । 
दिया मियाँ रंजीत ने, अंग-अंग में दाद । 

अंग-अंग में दाद, कहे इस्लाम कबूलो । 
समझो पढ़ो क़ुरान, हिन्दु गौ गंगा भूलो । 

कहे  रकीबुल हसन, नाम अब तेरा सारा । 
धोखे का वह व्याह, टूट के गिरा सितारा ॥ 
Ghotoo

मीनाक्षी 


 
Mamta Bajpai
Asha Joglekar 

सुशील कुमार जोशी

Prabodh Kumar Govil 

Vinay Prajapati (Nazar)
shashi purwar
sapne(सपने)

सरिता भाटिया 



जल में मयंक प्रतिविम्बित था,
अरुणोदय होने वाला था।
कली-कली पर झूम रहा,
एक चंचरीक मतवाला था।।

गुंजन कर रहाप्रतीक्षा में,
कब पुष्प बने कोई कलिका।
मकरन्द-पान को मचल रहा,
मन मोर नाच करता अलि का।।
Asha Saxena 

14 comments:

  1. सुप्रभात
    उम्दा सूत्र और संयोजन |
    मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |

    ReplyDelete
  2. बहुत सुंदर चर्चा । 'उलूक' के सूत्र 'आईने के पीछे भी होता है बहुत कुछ सामने वाले जिसे नहीं देख पाते हैं' को स्थान देने के लिये आभार ।

    ReplyDelete
  3. बहुत ही सुन्दर लिंक्स रविकर जी
    ब्लॉग को को स्थान देने के लिये बहुत - बहुत आभार !!

    @ संजय भास्कर

    ReplyDelete
  4. अरे क्या बता है रविकर भाई .लानत है इन नालायकों पर यहीं खाते हैं यहीं गुर्राते हैं .बदमाशियां करते हैं हद दर्ज़े की और राहुल गांधी मंदिर जाने वालों, माँ बहिन का सम्बोधन करने वालों को लड़कियों के साथ अनाचार करने वाला बतलाते हैं .पूछा जाए इनसे ये रक़ीबुल हसन कौन हैं ?

    ReplyDelete
  5. बहुत खूब.

    "कार्टूनिस्ट अनिल भार्गव का कार्टून"
    (डॉ. रूपचंद्र शास्त्री 'मयंक')
    कार्टूनिस्ट-मयंक खटीमा
    (CARTOONIST-MAYANK)

    ReplyDelete
  6. बहुत बढ़िया लिंक्स कविवर जी,
    आभार मुझे स्थान देने के लिए !

    ReplyDelete
  7. बहुत अच्छी कड़ियाँ मिलीं। मुझे शामिल करने के लिए आभार

    ReplyDelete
  8. बहुत बढ़िया चर्चा प्रस्तुति ...आभार!

    ReplyDelete
  9. आज की सुंदर चर्चा व लिंक्स , आ. रविकर सर , शास्त्री जी व मंच को धन्यवाद !
    Information and solutions in Hindi ( हिंदी में समस्त प्रकार की जानकारियाँ )

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्दर चर्चा प्रस्तुति।
    आदरणीय रविकर जी आपका आभार।

    ReplyDelete
  11. Kharee baat to ye hai ki chayan behad sadhaa hua hai,aur khoti ye ki saree rachnayen padh daaleen.

    ReplyDelete
  12. इस तरह हिंदू लडकियों को फंसा कर अपना और देश का नाम ही खराब कर रहे हैं। पर नाम की फिक्र होती तब ना ।
    जाती हऊं लिंक्स पर मेरी रचना को स्थान देने का शुक्रिया रविकर जी।

    ReplyDelete
  13. बहुत ही बढियाँ सूत्र सजाये हैं ,अति सुन्दर

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin