साहित्यकार समागम

मित्रों।
दिनांक 4 फरवरी, 2018 (रविवार) को खटीमा में मेरे निवास पर साहित्यकार समागम का आयोजन किया जा रहा है।

जिसमें हिन्दी साहित्य और ब्लॉग से जुड़े सभी महानुभावों का स्वागत है।

कार्यक्रम विवरण निम्नवत् है-
दिनांक 4 फरवरी, 2018 (रविवार)
प्रातः 8 से 9 बजे तक यज्ञ
प्रातः 9 से 9-30 बजे तक जलपान (अल्पाहार)
प्रातः 10 से अपराह्न 1 बजे तक - पुस्तक विमोचन, स्वागत-सम्मान, परिचर्चा (विषय-हिन्दी भाषा के उन्नयन में
ब्लॉग और मुखपोथी (फेसबुक) का योगदान।
अपराह्न 1 बजे से 2 बजे तक भोजन।
अपराह्न 2 बजे से 4 बजे तक कविगोष्ठी
अपराह्न 5 बजे चाय के साथ सूक्ष्म अल्पाहार तत्पश्चात कार्यक्रम का समापन।
(
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री का निवास, टनकपुर-रोड, खटीमा, जिला-ऊधमसिंहनगर (उत्तराखण्ड)
अपने आने की स्वीकृति अवश्य दें।
सम्पर्क-9368499921, 7906360576

roopchandrashastri@gmail.com

Followers

Tuesday, February 03, 2015

बेटियों को मुखर होना होगा; चर्चा मंच 1878


किताबों की दुनिया - 103 /1 
नीरज गोस्वामी 


satish sharma 'yashomad'  

रजनीश तिवारी  

Prabodh Kumar Govil 

shashi purwar 


सुशील कुमार जोशी 

ऋता शेखर मधु 

निर्दोष दीक्षित 

8 comments:

  1. उपयोगी लिंकों के साथ स्तरीय चर्चा।
    आपका आभार रविकर जी।

    ReplyDelete
    Replies
    1. गुरूजी-
      चर्चा मंच की सूचना देने वाली टिप्पणी मेरे लिए बना दीजिये-आजकल मैं सूचना नहीं दे प् रहा हूँ ब्लॉग्स पर-सादर

      Delete
  2. बहुत अच्छा संकलन हमेशा की तरह्

    ReplyDelete
  3. बहुत बढ़िया लिंक्स दिए है, बहुत बहुत आभार आपका
    मुझे शामिल करने के लिए !

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छा संकलन...

    ReplyDelete
  5. सुंदर मंगलवारीय प्रस्तुति । 'उलूक' के सूत्र 'किसी दिन ना सही किसी शाम को ही सही कुछ ऐसा भी कर दीजिये' को भी चर्चा में स्थान देने के लिये आभार रविकर जी ।

    ReplyDelete
  6. सुंदर लिंक्‍स...चर्चा मंच बहुत बढ़ि‍या सजाया आपने। मेरी रचना को शामि‍ल करने के लि‍ए धन्‍यवाद और आभार।

    ReplyDelete
  7. Nice Article sir, Keep Going on... I am really impressed by read this. Thanks for sharing with us.. Happy Independence Day 2015, Latest Government Jobs.

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

चर्चा - 2852

आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है  चलते हैं चर्चा की ओर   पर्व संक्रान्ति परदेशियों ने डेरा, डाला हुआ चमन में यह बसंत भ...