समर्थक

Thursday, December 25, 2014

भारत के नए भारत रत्न { चर्चा - 1838 }

आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है 
भारत के पूर्व प्रधानमन्त्री श्री अटल बिहारी बाजपेयी और काशी हिंदी विश्वविद्यालय के संस्थापक मदन मोहन मालवीय जी को भारत रत्न देने की घोषणा की गई है । इन दोनों महानाभूतियों का जन्म दिन आज के बड़े दिन ही है । ये भारत रत्न तो थे ही अब विधिवत रूप से वे इस सम्मान से सम्मानित हो जाएंगे । 
चलते हैं चर्चा की ओर

अटल, महामना को भारत रत्न

ताजमहल का सच

जन्मदिवस
मेरा फोटो
श्री अटलबिहारी बाजपेयी के जन्मदिन 25 दिसंबर पर विशेष
 
बड़ा दिन 

क्रिसमस का त्यौहार
Baba Amte
24 दिसम्बर का दिन

नर्मदा यात्रा
मेरा फोटो
हिन्दी के मुक्त-पुरुष मुक्तजी
मेरा फोटो
बीते बरस को सलाम

सीखा होता अगर वक्त से कुछ
मेरा फोटो
तुम्हारी आँखों में हौसला चमकता बहुत है

माँ के माथे की बिन्दी
Use of iframe in blog post
आइफ्रेम का प्रयोग

RTI

My Photo
कालिया मर्दन

नारी सशक्तीकरण

बेमौसमी कमल 
लोकसंघर्ष पत्रिका के मुख्य सलाहाकार मोहम्मद शुऐब
क्या मुस्लिम पार्टियों से मुसलमानों का भला होगा ?
jammu kashmir, assembly elections 2014 cartoons, election cartoon, jharkhand, bjp cartoon, cartoons on politics, indian political cartoon
विकल्प
धन्यवाद 

11 comments:

  1. आज तो बहुत गौरवमय दिवस है।
    1-महामना मदनमोहन मालवीय और अटलबिहारी वाजपेयी का जन्मदिन।
    2-इन महान विभूतियों को भारतरत्न का सम्मान।
    और
    क्रिसमस (बड़ादिन)
    --
    सभी का समावेश है आज की चर्चा में।
    आपका आभार आदरणीय दिलबाग विर्क जी।

    ReplyDelete
  2. सुप्रभात
    आज बड़ा दिन है सभी को हार्दिक शुभ कामनाएं |
    मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |
    श्री अटल बिहारी बाजपेयी और श्री मदन मोहन मालवीय जी को सर्वोच्च सम्मान से नवाजा गया बहुत हर्ष का विषय है जन्म दिन पर हार्दिक शुभ कामनाएं |

    ReplyDelete
  3. आभार विर्क जी और क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  4. बड़े दिन के अनुकूल बहुत ही सुन्दर सार्थक सूत्र ! सभी पाठकों को क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनायें ! महामना मालवीय जी व अटल जी को भारत रत्न से सम्मानित किया जाने वाला है यह हर भारतीय के लिये गर्व का विषय है ! चर्चामंच के माध्यम से आदरणीय अटल जी को जन्मदिवस की अशेष शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  5. कल रात टीवी पर अटलजी के काव्य-पाठ का विडिओ देख रहा था पूरे मनोयोग से...अद्भुत ऊर्जा से भरे स्वर में देश का वंदन कर रहे थे अटलजी... उनके स्वर में झंकार थी, ललकार भी...! उनके शब्दों के सम्मोहन से बंधा रहा देर तक...! पिताजी के एक संस्मरण का शीर्षक ही है--'भिक्षुक-सम्राट मदनमोहन मालवीय'!
    इन दोनों विभूतियों को भारत-रत्न' से सम्मानित कर सम्मान स्वयं अलंकृत हुआ है.
    मेरी भूमिका और आचार्य श्रीरंजन सूरिदेव के संस्मरण का लिंक देने का शुक्रिया...!

    ReplyDelete
  6. बहुत रोचक सूत्र...क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
  7. सुंदर सूत्रों से सजी सुंदर चर्चा ।

    ReplyDelete
  8. सुंदर चर्चा ।बहुत रोचक सूत्र...क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनाएं!मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर संकलन के लिए बधाई तथा मेरी रचना को शामिल करने के लिए धन्यवाद !

    ReplyDelete
  10. सुन्दर चर्चा आभार आदरणीय-

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin