चर्चा मंच पर सप्ताह में तीन दिन (रविवार,मंगलवार और बृहस्पतिवार)

को ही चर्चा होगी।

रविवार के चर्चाकार डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक,

मंगलवार के चर्चाकार

श्री दिनेश चन्द्र गुप्ता रविकर

और बृहस्पतिवार के चर्चाकार श्री दिलबाग विर्क होंगे।

समर्थक

Saturday, July 03, 2010

"चर्चा बच्चों के ब्लॉगों की!" (चर्चा मंच-203)



फनेरियम गया था... और वहाँ बनाया ये झंडा... है न मस्तकलंदर.....

------------------

मैं सरस पायस पर - Friday, June 25, 2010 चुलबुल द्वारा बनाए गए अनूठे चित्रों की झाँकी आज "सरस पायस" आपको एक और नन्ही प्रतिभा से मिलवा रहा है!

------------------

स्कूल शुरू ... - अब हमारी मस्तियो पर थोडा सा विराम लग गया है, क्यों की अब मेरा स्कूल शुरू हो गया / पहले दिन से ही मुझे अपना नया स्कूल बहुत अच्छा लगा, ये मेरे पहले वाले स्क...

------------------

जू जू वाला नया टी शर्ट - जू जू को तो आप जानते ही होंगे , वोडाफोन वाला जू जू . मेरी एक नयी टी शर्ट पर भी जू जू है . मम्मी ने ये जू जू वाला नया टी शर्ट कमला नगर मार्केट से खरीदा है. ...

------------------

कविता जब आयेगा तूफान - जब आयेगा तूफान एक दिन आया एक तूफान , कर दिया सबको आनन फेन.... तूफान एतान्री जोर से आया था, पेड़ पत्ती भी डगमगाया था.... तभी एक चिड़िया आयी, उसने एक कहानी सुना...

------------------

बरसात हो रही है : रावेंद्रकुमार रवि का नया बालगीत - ♥♥ बरसात हो रही है! ♥♥ बूँदों की फूलों से बात हो रही है! बरसात हो रही है! घटता है उजियारा, बढ़ता है अँधियारा! लगता ज्यों धीरे से रात हो रही है! बरसात हो र...

------------------
हुआ सवेरा ... ... . : सलोनी राजपूत का नया शिशुगीत - हुआ सवेरा ... ... . हुआ सवेरा चिड़िया चहकी, फूल खिल उठे, बगिया महकी! झूला झूल रहा है बंदर, चूहा खाए लाल चुकंदर! फोड़ रही अखरोट गिलहरी, आसमान में लाली ठहरी!...
------------------

नट्खट कान्हा - 2 - हैलो फ़्रैण्ड्स मैने पहले आपको कान्हा की एक कहानी सुनाई न । आज कनुआ की एक और कहानी सुनाऊंगा । २. नॊटी ब्वाय कनुआ बहुत ही नाटी ब्वाय था । वह अपनी मम्...


काबुलीवाला - जेब में जादू का दीया और बाती मिन्नी की मटकती आँखें और काबुलीवाले का जादू... गलती से बड़ी हुई मिन्नी काबुलीवाले ने घुमाई छडी छोटी बन गई मिन्नी चंदामामा...

------------------
डॉक्‍टर्स डे पर आज आपने अपने डॉक्‍टर को थैंक्‍यू कहा क्‍या। - पता है आज एक बहुत ख़ास दिन है। आज से नया महीना तो शुरू हो ही रहा है। पापा कहते हैं कि जुलाई के महीने की शुरूआत उन्‍हें स्‍कू...

------------------

“स्वरावली पढ़िए और सुनिए”  *"अ" * *‘‘अ‘’ से अल्पज्ञ सब, ओम् सर्वज्ञ है। * *ओम् का जाप, सबसे बड़ा यज्ञ है।। * *‘‘आ’’ * *‘‘आ’’ से आदि न जिसका, कोई अन्त है। * *सारी दुनिया का आराध्य, वह ...

बालकविता को अर्चना चाव जी ने अपनी आवाज़ भी दे रखी है!


------------------
------------------

खुल गया स्कूल... - गर्मी की छुट्टियाँ ख़त्म. आज से मेरा स्कूल खुल गया. अब घुमाई कम, पढाई की बातें ज्यादा. वैसे मैंने तो इन दो महीनों में खूब इंजॉय किया. ढेर सारे आइलैंड्स की ...
------------------

फुपी – फुपा की सिल्वर जुबली मैरिज एनिवर्सरी और एक खास अपडेट - 24 जून को दिलशाद फुपी और रज्ज़ाक फुपा जी की शादी की पच्चीसवीं सालगिरह थी. वैसे तो वो सेलेब्रेट नहीं करते पर ज़ेबा बाजी ने चुपके से छोटी सी पार्टी प्ल...
------------------

मम्मी ने थी खीर बनाई - यह बाल कविता हमे अनिल सवेरा जी ने भेजी है, आप के पास भी कोई सुंदर सी बाल कविता तो तो हमे भेजे, कोई चित्र, या कुछ भी जो बच्चो से समबंधित हो हमे भेजे, हम उसे...

------------------

बाल-संसारBAL SANSAR
माचिस की तीली जलती कैसे है? - बच्चो, जब भी हमें कभी कोई चीज जलानी होती है तो अकसर हम माचिस का प्रयोग करते हैं। माचिस की डिबिया से हम एक तीली निकालते हैं और उसे माचिस की कम चौडाई...


------------------

तेरी अदा

मोटी मोटी आँखें
रंग आँखों का काला
नागिन सी जुल्फें काली
घटा सी भारी भारी
लहराती है कमर पर
जब चलती है तू इठलाकर..

------------------
अब आज की चर्चा को देता हूँ विराम!
 
------------------

17 comments:

  1. बच्चों के ब्लोग्स की बहुत सुन्दर चर्चा....इअतने सुन्दर लिंक्स देने के लिए शास्त्री जी का आभार

    ReplyDelete
  2. very comprehensive elaboration of child blogs

    thanx

    ReplyDelete
  3. इस चर्चा की बात ही अलग है ......

    ReplyDelete
  4. बहुत ही मेहनत से की गयी सुन्दर चर्चा।

    ReplyDelete
  5. मस्त कलंदर....

    ReplyDelete
  6. बहुत सुन्दर चर्चा|

    ReplyDelete
  7. is tarah ki charcha sirf aapke hi blog par hoti hai...aur kahi nahi dekhti hun..
    bahut khushi hoti hai
    dhnywaad...

    ReplyDelete
  8. "सरस पायस" से सलोनी राजपूत
    और
    "नन्हा मन" से मेरे गीत को
    चर्चा में लाने के लिए आभारी हूँ!

    ReplyDelete
  9. बहुत सुंदर जी, धन्यवाद

    ReplyDelete
  10. स्कूल प्रारम्भ हो गए है |नई नई यूनीफोर्म में बस्ता
    उठाए बच्चे बहुत जोश से शाला आ रहे है |पर यह जोश कब तक बरकरार रहेगा सोचने की बात है |आज के चर्चा मंच के लिए चुनी गई रचनाएँ पढ़ने में बहुत आनंद आ रहा है |बधाई
    आशा

    ReplyDelete
  11. आज सरे लिंक्स पढ़े...बहुत मजा आया.
    सुंदर चर्चा.

    ReplyDelete
  12. Aabhar...sare bacchon ko ek sath dekhkar accha laga...

    ReplyDelete
  13. बहुत सुन्दर चर्चा हम बच्चों की. एक जगह ही सभी से मुलाकात हो गई.

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin