Followers

Tuesday, January 16, 2018

"सारे भोंपू बेंच दे, यदि यह हिंदुस्तान" (चर्चामंच 2850)


सारे भोंपू बेंच दे, यदि यह हिंदुस्तान- 

मुल्क सुपर पावर बने, जनगणमन धनवान। 
सारे भोंपू बेंच दे, यदि यह हिंदुस्तान... 
"लिंक-लिक्खाड़"परर विकर  


किताबों की दुनिया -160 

नीरजपरनीरज गोस्वामी  


समय ... 

तपती रेत के टीलों से उठती आग 
समुन्दर का गहरा नीला पानी 
सांप सी बलखाती  
“शेख जायद रोड़”... 
Digamber Naswa 



कलरव 
कलरव सुबह सुबह रीमा की नींद 
सदा पंछियों की चहचहाहट के साथ खुला करती थी, 
लेकिन आज उसे उनका कलरव सुनाई नहीं दिया... 
Ocean of Bliss पर Rekha Joshi 


दरवाज़ा

Sunehra Ehsaas पर Nivedita Dinkar 

5 comments:

  1. शुभ प्रभात
    आभार
    सादर

    ReplyDelete
  2. विस्तृत चर्चा लिए चर्चा मंच ...
    आभार मेरी रचना को जगह देने के लिए ...

    ReplyDelete
  3. सुन्दर मंगलवारीय चर्चा अंक। आभार रविकर जी 'उलूक' के अलाव को जगह देने के लिये।

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छी चर्चा प्रस्तुति

    ReplyDelete
  5. आभार डाक्टर साहब,आपका आशीर्वाद हम सब पर बना रहे

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"आपस में मतभेद" (चर्चा अंक-3069)

मित्रों। सोमवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।  (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')   ...