समर्थक

Thursday, December 29, 2011

आईए स्वागत करें 2012 का (चर्चा मंच - 743)

       आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है 
                 HAPPY NEW YEAR   
                      आज की चर्चा 

गद्य रचनाएं 
पद्य रचनाएं
           अंत में देखिए कार्टून धमाका 
  आज की चर्चा में बस इतना ही, मिलते हैं नए वर्ष में 
                                     धन्यवाद 
                                 दिलबाग विर्क 
                      * * * * *
   

25 comments:

  1. बढिया लिंक्‍स।
    बेहतर चर्चा।

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर, निराला अंदाज है आपका !

    ReplyDelete
  3. आपके चर्चा मंच से मुझे नए पाठक गण मिले ,व विशाल कवी व लेखक समूह से जानपहचान हुई ,मैं ब्लॉग्गिंग के क्षेत्र में अभी आई हूँ आपके मंच से मुझे ऊर्जा प्राप्त हुई..
    आपका बहुत बहुत धन्यवाद ,आभार ,
    आपकी सभी चर्चाएँ पठनशील हैं ,रोचक चर्चा संजो कर मंच को मनमोहक बनाने का कार्य कर रहे हैं आप सभी ..
    धन्यवाद
    ऋतू बंसल
    कलमदान.ब्लागस्पाट.कॉम

    ReplyDelete
  4. बहुत ही बढि़या लिंक्‍स संयोजन ।

    ReplyDelete
  5. बहुत बढ़िया चर्चा दिलबाग जी ........ हार्दिक आभार ...:)

    ReplyDelete
  6. आज चर्चा मंच आम पाठकों के लिए चुनिंदा लिंक्स सहेज़ कर ला रहे हैं । श्रम को नमन और आभार

    ReplyDelete
  7. बढिया लिंक्‍स।

    ReplyDelete
  8. aapke sanyojan me dhoondna nahi padta ek najar me hi sare prayas dikh jaate hai
    mere lekh ko shamil karne ke liye dhanywad

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर लिंक संयोजन ……नव वर्ष की शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  10. पसंदित रचनाओं का संकलन करके एक साथ पढने का मज़ा ही अलग है ! बधाई

    ReplyDelete
  11. Naw Warsh Mubarak ho apko aur sabko .

    बहार हो कि खिज़ां मुस्कुराए जाते हैं,
    हयात हम तेरा एहसाँ उठाए जाते हैं |
    सुलगती रेत हो बारिश हो या हवाएं हों,
    ये बच्चे फिर भ़ी घरौंदे बनाए जाते हैं |
    ये एहतमाम मुहब्बत है या कोई साज़िश,
    जो फूल राहों में मेरी बिछाए जाते हैं |

    http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/12/blog-post_28.html

    ReplyDelete
  12. अच्छी प्रस्तुति बेहतरीन संयोजन और चयन .आपकी अपनी प्रस्तुति सुभानाल्लाह .

    ReplyDelete
  13. बेहतरीन,अच्छी प्रस्तुति,सुन्दर संयोजन ……नव वर्ष की शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  14. विर्क साहब धन्यवाद ! आपके दिए लिंक देख रहा हूं !

    ReplyDelete
  15. चर्चा मंच के सभी साथियों को नववर्ष की शुभकामनाएं। बढिया लिंक देने के लिए भाई विर्क जी का आभार॥

    ReplyDelete
  16. चर्चा मंच के सभी साथियों को नववर्ष की शुभकामनाएं। बढिया लिंक देने के लिए भाई विर्क जी का आभार॥

    ReplyDelete
  17. behtarin links ka samayoja..naye varsh kee hardik shubhkamnaon ke sath ek baar punah meri rachna ko shamil karne ke liye dhnywad ke sath

    ReplyDelete
  18. रचना शामिल करने के लिए आभार और शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  19. बहुत बहुत शुक्रिया .. मेरी रचना को आज के चर्चा मंच का हिस्सा बनाने के लिए
    आपके मंच का सबसे बेहतरीन हिस्सा मुझे गद्य और पद्य को अलग अलग रखना लगा
    अपनी रूचि के हिसाब से चुनने और पढने दोनों में आसानी ..

    ReplyDelete
  20. सुन्दर और सार्थक चर्चा।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin