साहित्यकार समागम

मित्रों।
दिनांक 4 फरवरी, 2018 (रविवार) को खटीमा में मेरे निवास पर साहित्यकार समागम का आयोजन किया जा रहा है।

जिसमें हिन्दी साहित्य और ब्लॉग से जुड़े सभी महानुभावों का स्वागत है।

कार्यक्रम विवरण निम्नवत् है-
दिनांक 4 फरवरी, 2018 (रविवार)
प्रातः 8 से 9 बजे तक यज्ञ
प्रातः 9 से 9-30 बजे तक जलपान (अल्पाहार)
प्रातः 10 से अपराह्न 1 बजे तक - पुस्तक विमोचन, स्वागत-सम्मान, परिचर्चा (विषय-हिन्दी भाषा के उन्नयन में
ब्लॉग और मुखपोथी (फेसबुक) का योगदान।
अपराह्न 1 बजे से 2 बजे तक भोजन।
अपराह्न 2 बजे से 4 बजे तक कविगोष्ठी
अपराह्न 5 बजे चाय के साथ सूक्ष्म अल्पाहार तत्पश्चात कार्यक्रम का समापन।
(
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री का निवास, टनकपुर-रोड, खटीमा, जिला-ऊधमसिंहनगर (उत्तराखण्ड)
अपने आने की स्वीकृति अवश्य दें।
सम्पर्क-9368499921, 7906360576

roopchandrashastri@gmail.com

Followers

Tuesday, November 11, 2014

सुर्ख़ियों में न कभी खबर में आ सके ...; चर्चा मंच-1794



डा0 हेमंत कुमार ♠ Dr Hemant Kumar 


8 comments:

  1. waah sabhi links bahut umda hardik badhai ravivar ji
    abhaar hamen shamil karne hetu

    ReplyDelete
  2. sundar charcha ...
    Shukriya meri gazal ko ooncha sthan dene ka ... Bahut abhar ...

    ReplyDelete
  3. badhiya .......mauka ..nikalti hoon ......

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर और अद्यतन लिंको के साथ की गयी उपयोगी चर्चा।
    आपका आभार आदरणीय रविकर जी।

    ReplyDelete
  5. सुन्दर प्रस्तुति...
    आभार।

    ReplyDelete
  6. बहुत बढ़िया चर्चा प्रस्तुति!
    आभार!

    ReplyDelete
  7. दिगम्बर नासवा
    --
    पड़ी बेड़ियाँ पाँव में, हाथों में जंजीर।
    सच्चाई की हो गयी, अब खोटी तकदीर।।
    --
    उम्दा गज़ल।

    ReplyDelete
  8. गीत ओ गीत
    ----
    पीड़ा के संगीत में, दबे गीत के बोल।
    देश-वेश-परिवेश में, कौन रहा विष घोल।।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

(चर्चा अंक-2853)

मित्रों! मेरा स्वास्थ्य आजकल खराब है इसलिए अपनी सुविधानुसार ही  यदा कदा लिंक लगाऊँगा। शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  ...