समर्थक

Thursday, December 01, 2011

चर्चा मंच - 715

           आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है
                सुप्रसिद्ध लेखिका ममोनी रेसोम-इंदिरा  गोस्वामी का निधन
        सबसे पहले श्रद्धांजली सुप्रसिद्ध लेखिका इंदिरा गोस्वामी जो को.
                      आज की चर्चा 
गद्य रचनाएं 


पद्य रचनाएं 

अंत में ओशो प्रेमियों के लिए प्रवचन सुनने हेतु रेडियो का लिंक 
                                    और 
इसके अतिरिक्त देखिए प्रो. पवन कुमार और डॉ. पंकज जी द्वारा लवकुश आश्रम में बिताया एक दिन चित्रों के साथ. 


                            आज की चर्चा में इतना ही 
                                                    धन्यवाद 
                                        दिलबाग विर्क 

25 comments:

  1. .



    प्रिय बंधुवर दिलबाग विर्क जी
    सस्नेहाभिवादन ! आभार !

    अच्छी चर्चा के साथ अच्छे लिंक उपलब्ध कराए हैं



    बधाई और मंगलकामनाओं सहित…


    - राजेन्द्र स्वर्णकार

    ReplyDelete
  2. सर्वप्रथम आदरणीया इंदिरा गोस्वामी जी को विनम्र श्रद्धांजली...

    सुसज्जित चर्चामंच...मेरी दो रचनाओं-पाँच लघुकथाएँ एवं सब्जियों की बहार को स्थान देने के लिए हार्दिक आभार|

    ReplyDelete
  3. विनम्र श्रद्धांजलि ...
    बढ़िया चर्चा ..आभार.

    ReplyDelete
  4. mere link ko shamil karne ke liye shukriya

    ReplyDelete
  5. indira goswami ji ko meri vinmra shridhanjli .
    sarthak v bahut achchhe links se saji charcha prastut karne hetu hardik shubhkamnayen .

    ReplyDelete
  6. Uttam charchakar kee uttam prastuti.

    ReplyDelete
  7. अच्छी चर्चा दिलबाग भाई

    ReplyDelete
  8. अच्छे लिंक्स, बहुत सुंदर चर्चा

    ReplyDelete
  9. बहुत ही अच्‍छे लिंक्‍स दिए हैं आपने ... आभार ।

    ReplyDelete
  10. जीवन मरण के चक्र की याद दिलाने के साथ ही अच्छे लिंक्स का चयन !

    धन्यवाद !!!

    ReplyDelete
  11. बहुत सुन्दर लिंक संकलन………आभार्।

    ReplyDelete
  12. काफी अच्छे लिंक्स मिले आभार .

    ReplyDelete
  13. आपने इन्दीरा गोस्वामी की श्रद्धांजलि को विशेष महत्त्व दिया.... रश्मि प्रभा जी की अदभूत कविता के साथ बहुत सारी रचनाओं को पाठकों के लिए एक साथ दे दे.. जैसे किसी गुलदस्ते में बहुत सारे फूल... बधाई

    मेरा एक नम्र निवेदन हैं कि "चर्चा मंच" में सभी रचनाओं के बारे में अगर ज़रूरत के अनुसार दो-चार-छह लाईने लिखाकर सक्षिप्त में परिचय भी हो तो अच्छा.......

    ReplyDelete
  14. सुन्दर और संक्षिप्त चर्चा के लिए आभार!

    ReplyDelete
  15. बहुत अच्छे और नये सूत्र।

    ReplyDelete
  16. अच्छी चर्चा... सुन्दर लिंक्स...
    सादर आभार....

    ReplyDelete
  17. अच्छी चर्चा... सुन्दर लिंक्स...
    सादर आभार....

    ReplyDelete
  18. इंदिरा जी को श्रध्‍दांजलि...

    सुंदर चर्चा।

    ReplyDelete
  19. बहुत सुंदर चर्चा...
    इंदिरा गोस्वामी जी को विनम्र श्रद्धांजली...

    ReplyDelete
  20. शुक्रिया विर्क साब!

    ReplyDelete
  21. सुंदर प्रस्तुति। इंदिरा गोस्वामी जी को हार्दिक श्रद्धांजलि।

    ReplyDelete
  22. सुन्दर गुलदस्ते की तरह सजा हुआ ये मंच मनभावन रहा साधुबाद.इसमें मेरे नाम को छापने में स्पेलिग़ अशुद्धि रही है ये टाइपिग की गलती रही होगी.मै आपको बताना भूल गया कि कविता'का प्रथम सोपान भी मैंने अपने अगस्त माह के किसी अंक में प्रकाशित किया था.

    ReplyDelete
  23. priy bhai Dilbag jee bahut shukriya charchamanch par ana sukhad hota hai.

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin