Followers

Search This Blog

Friday, December 28, 2018

"नव वर्ष कैसा हो " (चर्चा अंक-3199)

मित्रों! 
शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  
देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।  
(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')
--

दोहे  

"अपने वीर जवान"  

अभिनन्दन-वन्दन करेंआओ मन से आज।
आज किसान-जवान सेजीवित सकल समाज।।
--

जय कपीश तिहूँ लोक उजागर--- 

डा श्याम गुप्त 

--
--
--
--
--
--
--
--

कृषि प्रधान यह देश किन्तु..... 

"कृषक पर एक गीत"
कृषक रूप में हर प्राणी को, धरती का भगवान मिला। 

कृषि-प्रधान यह देश किन्तु क्या,कृषकों को सम्मान मिला... 
--
--

5 comments:

  1. सुप्रभात |चर्चा मंच पर्याप्त लिंक्स देता है पढ़ने के लिए |मेरी रचना शामिल करने के लिए
    धन्यवाद |

    ReplyDelete
  2. उम्दा चर्चा। मेरी रचना को चर्चा मंच में स्थान देने हेतु बहुत बहुत धन्यवाद, आदरणीय शास्त्री जी।

    ReplyDelete
  3. शुभ प्रभात
    आभार...
    सादर...

    ReplyDelete
  4. पूरे चर्चा मंच परिवार को नव वर्ष की अशेष शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  5. बहुत सुंदर चर्चा

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।