Followers

Monday, April 16, 2012

सोमवारीय चर्चामंच-851

चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ का नमस्कार! सोमवारीय चर्चामंच पर पेशे-ख़िदमत है आज की चर्चा का-
 लिंक नं. 1-
क्षणिकाएँ-
मेरा फोटो
_______________
2-
आई बैसाखी  
बेसुरम्‌
_______________
3-
मेरा फोटो
_______________
4-
_______________
5-
मेरा फोटो
_______________
6-
मेरा फोटो
_______________
7-
My Photo
_______________
8-
IMG_3713
_______________
9-
clip_image002
gandhi (10)
_______________
10-
मेरा फोटो
_______________
11-
_______________
12-
My Photo
_______________
13-
My Photo
My Photo
_______________
15-
राम राम भाई! नुश्खे सेहत के 
मेरा फोटो
_______________
16-
_______________
17-
दीपक राग... -डा श्याम गुप्त
मेरा फोटो
_______________
18-
_______________
19-
_______________
20-
_______________
21-
_______________
22-
_______________
23-
_______________
24-
________________
25-

________________
26-
रविकर की रसीली जलेबियाँ : अंत उफ़ आसान थोड़ा 
My Photo
________________
27-

"हिन्दी ग़ज़ल-यार भी जरूरी है"  -डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

  
________________
28-
बादलों के पार कोई है जो बुलाता है मुझे 
My Photo
________________
29-
काव्य-धारा 
My Photo
________________
और अन्त में
30-
ग़ाफ़िल की अमानत
________________
आज के लिए इतना ही, फिर मिलने तक नमस्कार!

24 comments:

  1. सुंदर चर्चा............
    आभार

    ReplyDelete
  2. बहुरंगी लिंक्स लिए चर्चा है चन्द्र जी जी

    ReplyDelete
  3. कि सब कुछ
    लागे नया नया
    बेहतरीन लग रही है चर्चा
    शहर से बाहर जाना है
    आकर पढे़गें फिर भरेंगे पर्चा ।

    ReplyDelete
  4. अच्छे लिंकों के साथ बढ़िया स्तरीय चर्चा करने के लिए धन्यवाद!

    ReplyDelete
  5. चर्चा का अंदाज यह, मन को भाए खूब |
    गाफिल जी मन से करें, पाठक पढ़ते डूब ||

    ReplyDelete
  6. जी गुरु जी |

    चर्चा का अंदाज तो, मन को भाए खूब |
    गाफिल जी मन से करें, पाठक पढ़ते डूब ||

    पाठक पढ़ते डूब, लिंक पाते मन भावन |
    तरह तरह के रंग, बरसता रिम-झिम सावन |

    भींगे पाठक मस्त, पढ़ें सब पूरा पर्चा |
    होता श्रम आश्वस्त, लगा के बढ़िया चर्चा ||

    ReplyDelete
  7. बहुरंगी लिंक्स लिए सुन्दर चर्चा .....आभार

    ReplyDelete
  8. कुछ नये और अच्छे ब्लॉग मिले, आभार..

    ReplyDelete
  9. सुन्दर चर्चा .

    ReplyDelete
  10. शानदार चर्चा।
    अच्छे लिंक्स।

    ReplyDelete
  11. बहुरंगी चर्चा के लिए आपका शुक्रिया गाफिल साहब....

    अब लिंक्स देखती हूँ धीरेधीरे.....
    आभार.

    ReplyDelete
  12. सुन्दर लिन्क्स.....
    --रविकर फ़ैज़ाबादी में तो आजकल..काव्य-त्वरा..प्रविशित है...

    ReplyDelete
  13. आपकी ताज़ा चर्चा का ताज़ा लुत्फ़ हिंदी ब्लॉगर्स फ़ोरम की वीकली मीट 39 में भी उठाया जा रहा है।
    See

    ReplyDelete
  14. बेहतरीन लिंक्‍स का संयोजन किया है आपने ।

    ReplyDelete
  15. आभार मेरी पोस्‍ट ''जन सरोकारों की लडाई लडेंगे हम... '' को शामिल करने के लिए।

    ReplyDelete
  16. बेहतरीन सतरंगी लिंकों की प्रस्तुति,के लिए बधाई,..

    ReplyDelete
  17. बेहतरीन लिंक्‍स..सुन्दर चर्चा..आभार

    ReplyDelete
  18. बहुत सुन्दर लिंक्स संयोजन के साथ सार्थक चर्चा प्रस्तुति हेतु आभार!

    ReplyDelete
  19. bahut achchhe links...mujhe bhi shamil karne ke liye aapka aabhari hoon. Shubhkamnyen....

    ReplyDelete
  20. विविध विषयों पर भरपूर सामग्री दे कर आपने हमें उपकृत किया .
    पांचाली को चुना -आभार !

    ReplyDelete
  21. भाई सा ! जान डाल दी आपने चर्चा में .काबिल और हुनर मंद लोगों से मिलवाया .आभार .

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

"सब कुछ अभी ही लिख देगा क्या" (चर्चा अंक-2819)

मित्रों! शनिवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')   -- ...