समर्थक

Thursday, August 25, 2016

आंतकवाद कट्टरता का मुरब्बा है { चर्चा - 2445 }

 आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है
व्हाट्स अप ग्रुप पर आंतकवाद पर चर्चा करते हुए अचानक ख्याल आया की " आंतकवाद कट्टरता का आचार या मुरब्बा है | "- निस्संदेह इस उक्ति के आने का कारण आ. रामचन्द्र शुक्ल की इस उक्ति का पढ़ा होना था " वैर क्रोध का आचार या मुरब्बा है |" कट्टरता का जहर फैलाकर हम सब देश का बहुत अहित कर रहे हैं |
सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई 
चलते हैं चर्चा की ओर

लाल यशोदा का
My photo
मेरा फोटो
मेरा फोटो
मेरा फोटो
धन्यवाद 
दिलबाग विर्क 

No comments:

Post a Comment

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin