Friday, March 22, 2019

"होली तो होली हुई" (चर्चा अंक-3282)

मित्रों!
शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है। 
देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।
--
--
--
--
--
--
--

होली 2019 

पुरुषोत्तम कुमार सिन्हा  
--

सोया चौकीदार 

जोगीरा सारा रा रा रा-1 [होली के कुछ रंग, हास्य-व्यंग के संग] 1. घर-घर मोदी की जगह, मैं भी चौकीदार नारा लाया फिर नया, जुमलों का सरदार जोगीरा सारा रा रा रा 2. राफेल डील केस में, उलझी है सरकार फाइल चोरी हो गई, सोया चौकीदार जोगीरा सारा रा रा रा 3. हाथी सहचर साइकिल, लालटेन का हाथ तीर- कमल साथी बने, झाड़ू हुआ अनाथ जोगीरा सारा रा रा रा 4.... 
Himkar Shyam  
--

----- ॥पद्म-पद ३२ ॥ -----  

------|| फाग || -----   
मोपे भरी भरी के पिचकार न असोइ रंग डारौ पिया |  
होरिया के दिन देइ के द्वार न ऐसोइ पट ढारौ प्रिया ... 
NEET-NEET पर 
Neetu Singhal 
--

आई होली धूम मचाता 

तरुण तान गलियों में गाता  
आई होली धूम मचाता  
हाथ बढ़ाकर द्वेष भुलाता  
प्रेम प्रीत का रंग लगाता... 
--
--

शीर्षकहीन 

क्या कल आपने किसी मीडिया चैनल पर या किसी समाचार पत्र में छतिसिंहपोरा नरसंहार के विषय में एक शब्द भी सुना या पढ़ा? क्या किसी ह्यूमन-राइट्स वाले को इस नरसंहार की बात करते सुना? वह लोग जो आज़ादी के नारे लगाते है या वह नेता जो उनके समर्थन में खड़े हो जाते हैं या वह जो आये दिन नक्सालियों के लिए आवाज़ उठाते हैं या वह जो फर्जी मुठभेड़ों के लेकर न्यायालयों और ह्यूमन-राइट्स कमीशन के दरवाज़े बार-बार खटखटाते हैं, इनमें से किसी को भी आपने इस नरसंहार में मारे गये लोगों के और उनके अभागे परिवारों के लिए अपने संवेदना प्रकट करते सुना? किसी ने दिखावटी संवेदना भी प्रकट नहीं की... 
आपका ब्लॉग पर i b arora  
--

10 comments:

  1. इस प्रतिष्ठित मंच पर मेरे विचारों और होली के कार्टून को स्थान देने के लिये धन्यवाद।

    ReplyDelete
  2. बिना किसी भेदभाव के, सकारात्मक हो या फिर नकारात्मक, रचनाएँ जैसी भी हो ,चर्चा मंच में उसे स्थान मिला है, इसके लिये मैं हृदय से आभारी हूँ,शास्त्री सर।

    ReplyDelete
  3. सुप्रभात आदरणीय,बहुत ही सार्थक प्रतुति एक से बढ़कर एक रचनाये और रंग।
    सादर आभार

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर होली चर्चा। होली की शुभकामनाएं। आभार आदरणीय 'उलूक' को भी जगह देने के लिये।

    ReplyDelete
  5. आपका हार्दिक धन्यवाद आपको और आपके पूरे परिवार होली के पावन पर्व व रंगो उत्सव की हार्दिक शुभकामनाएँ 💐💐🌹🙏

    ReplyDelete
  6. इस बार लगभग सारी रचनाएं होली के रंग से सराबोर ! कभी कभी ऐसा भी अच्छा लगता है.संयोग वश कल विश्व कविता दिवस भी था. तो शास्त्रीजी ने ये रंग भी मिला दिया. हार्दिक आभार. वैसे भी कविता, संगीत और रंगों को होली से अटूट रिश्ता है.

    ReplyDelete
  7. खूबसूरत चर्चा, होली की हार्दिक शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  8. रंगमय चर्चा। आभार मेरी रचना शामिल करने के लिए। होली मुबारक।

    ReplyDelete
  9. सुन्दर चर्चा प्रस्तुति
    सादर

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।