Followers

Search This Blog

Sunday, March 03, 2019

"वीर अभिनन्दन ! हार्दिक अभिनन्दन" (चर्चा अंक-3263)

रविवार की चर्चा में आपका स्वागत है। 
देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।

(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') 

--
--
--

अभिनंदन 

Ocean of Bliss पर 
Rekha Joshi 
--

प्रिय ''अभि '' 

Sunehra Ehsaas पर 
Nivedita Dinkar  
--
--
--

ऐ मेरे उदास मन.. 

अभिशापित व्यक्ति के जीवन में भला खुशियाँ आ भी कहाँ सकती है। उसे तो भयावह शाप, बददुआ और लांछन  को सहते हुये ही अपना जीवन चक्र पूरा करना है।एक तरह उदासी उसके मुखमंडल पर सदैव छायी रहती है।***************************
ऐ मेरे उदास मनचल दोनों कहीं दूर चलेमेरे हमदम तेरी मंज़िलये नहीं ये नहीं कोई और है.... 

--

अभिवादन 

अभिनंदन के साथ हो ,

मोदी जी का अभिनंदन ।
मोदी जी गर होते नहीं तो 
कैसे होता अभिनंदन।।

गूंज रही है शहनाई आज

हिमालय के आंगन।।
आया अपना वीर बांकुड़ा
माथे से लगा विजय चंदन... 
Lovely life पर 
lovely edu  
--

हार्दिक अभिनन्दन ! 

Image result for विंग कमांडर अभिनन्दन चित्र
वीर अभिनन्दन !    हार्दिक अभिनन्दन  ! 
 तुम्हारे   शौर्य  को  कोटि  वन्दन !

 पुलकित , गर्वित  माँ  भारती -
 तुम्हारे   निर्भीक   पराक्रम से ,
 मृत्यु -  भय से हुए ना विचलित -
  ना चूके संयम से ;
सिंह पुत्र  तुम जननी के  
 सहमा शत्रु नराधम... 
क्षितिज पर रेणु 
--
--
--
--

रुबरु 

पुरुषोत्तम कुमार सिन्हा 
--

पूर्णाहुति 

Akanksha पर Asha Saxena 

6 comments:

  1. मंगलमय प्रभात, बेहतरीन चर्चा प्रस्तुति

    ReplyDelete
  2. सुप्रभात, भारत माता की जय

    ReplyDelete
  3. सुप्रभात, भारत माता की जय

    ReplyDelete
  4. सुप्रभात
    मेरी रचना शामिल करने के लिए धन्यवाद सर |

    ReplyDelete
  5. सुन्दर चर्चा। मेरी कविता शामिल करने के लिए आभार।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।