समर्थक

Sunday, March 24, 2013

"होली का हुड़दंग" : चर्चा मंच 1193


चर्चा मंच परिवार की ओर से सभी मित्रों एवं पाठकों को होली की अग्रिम शुभकामनाएं. शुभ होली शगुन के पूरे १०१ शुभ लिंक्स के साथ
(डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')
होली का हुड़दंग मचा है,
गाँव-गली, घर-द्वारों में।
ठण्डाई और भंग घुट रही,
आंगन और चौबारों में।
प्रेम-गीत और ढोल नगाड़े,
साज सुरीले बजते हैं,
रंग-बिरंगी पिचकारी की,
धूम मची बाजारों में।
सुमित प्रताप सिंह
निहार रंजन
Anita
Virendra Kumar Sharma
Rajendra Kumar
Archana
Yashoda Agrawal
ताऊ रामपुरिया
Kshitij Ranjan
वाणी गीत
कल मोहल्ले के मंदिर में फाग उत्सव था . दोपहर के दो तीन घंटे हम भी समर्पित कर आये कृष्ण कन्हैया के नाम . रंगों और धूल - मिटटी एलर्जी मुझे फाग जैसे कार्यक्रमों से दूर रखती है , मगर सहेलियों ने आश्वस्त किया
Chetan Ramkishan "Dev"
संध्या आर्य
Aditi Poonam
Soniya Bahukhandi Gaur
Anupama Tripathi
Neeraj Kumar
Rekha Joshi
Dr. Shefalika Verma
डॉ टी एस दराल
कविता रावत
सखि! घर आयो कान्हा मेरे, खुशी से होली मनाओ री ।
झूमती हूँ खुशी के मारे, तुम संग-संग मेरे झूमो री ।।
उछलती कूदती मचलती, कभी खुशी से झूम उठती,
भूलकर अपना बिच्छोह, पल-पल प्रिय गले लगती ।
कभी प्रिय गले लगती, कभी खुशी के आसूं बहाती,
कभी झूम-झूम, घूम-घूम कर गली-गली घूम आती ।।
HARSHVARDHAN
पूरण खण्डेलवाल
Praveen Malik
बतकुचनी
संगीता तोमर
Chaitanyaa Sharma
प्रीति टेलर
आनंद कुमार द्विवेदी
Vandana Gupta
Akshitaa (Pakhi)
Chetan Ramkishan "Cev"
Ravishankar Shrivastava
सुमित प्रताप सिंह
Rekha Joshi
तुषार राज रस्तोगी
Pankhuri Goel
KK Yadav
Dr (Miss) Sharad Singh
Asha Saxena
पंकज सुबीर
दिनेशराय द्विवेदी
Kalipad "Prasad"
नित्या शेफ़ाली
सदा
Tripurari Kumar Sharma
बृजेश नीरज
Rajendra Tela
HARSHVARDHAN
'रंजना' रंजू भाटिया
सरिता भाटिया
 
Ragini
सुमन कपूर 'मीत'
MANU PRAKASH TYAGI
Rajesh Kumari
अनु
रविकर
भरत तिवारी 'शजर'
प्रतीक माहेश्वरी
Udaya Veer Singh
Priti Surana
Devdutta Prasoon
ज्योति खरे
Dr.NISHA MAHARANA
Pratibha Verma
Drneeraj Baba
दीपक भारतदीप
NAVIN C. CHATURVEDI
Abhishek Shukla
Mridula Pradhan
मन्टू कुमार
शारदा अरोरा
Shekhar Suman
Madhu Singh
Sonal Rastogi
Akanksha Yadav
Suman
अजित गुप्ता
Aamir Dubai
Shikha Gupta
पुरुषोत्तम पाण्डेय
Rashmi Ravija
सुधीर मौर्य
Siddheshwar Singh
Aziz Jaunpuri
प्रवीण पाण्डेय
रेखा श्रीवास्तव
आलोकिता
डॉ. वर्षा सिंह
पी.सी.गोदियाल "परचेत"
जयकृष्ण राय तुषार
Ashok Kumar Pandey
Vandana
Prritiy----Sneh
Munkir
शिवनाथ कुमार
Ghotoo
राजेश उत्साही
अरुन शर्मा 'अनन्त'
रश्मि प्रभा
Anita (अनिता)
ना वास्ता कोई
ना ही कोई बंधन
बीती बातों से ,
फिर भी ना जाने क्यूँ
जब चलती
ये बयार फाल्गुनी,
पूनम चाँद
खिले आसमान में,
महक उठे...
इसी के साथ आप सबको शुभविदा मिलते हैं अगले रविवार को . आप सब चर्चामंच पर गुरुजनों एवं मित्रों के साथ बने रहें. आपका दिन मंगलमय हो
जारी है ..... "मयंक का कोना"
(1)
 "नाच मेरी बुलबुल" 
की पहली सेमीफानलिस्ट "सुश्री रूपा बाई"

साथियों...अब देखिये सुश्री रूपा कुमारी का फ़ाईनल परफ़ार्मेंस....जिसमे वो दिखा रही हैं..अपना प्रसिद्ध "मटका फ़ोड -कमर मत तोड".....  डांस.... दिल खोल कर वोट किजियेगा...आईये ....
सुश्री रूपा बाई.....

(2)
इटली के ही पास गिरवीं है भारत की नाक
"मेहमाँ जो हमारा होता है वह जान से प्यारा होता है" और फिर मेहमान इटली का हो तो फिर बात ही क्या सरकार लाल कालीन बिछाएगी उनके स्वागत में पलकों पे बिठाए फिरेगी .आखिर सारा प्रबंध इटली का ही तो है यहाँ .
(3)
"बुरा न मानो आयी होली"

(4)
इबादत ...मेरा मन पंछी सा

(5)
बेशरम उल्लूक है तू नहीं !
My Photo

44 comments:

  1. अरे वाह इतनी सारी लिंक्स|होली के लिए अग्रिम शुभकामनाएं |
    मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |
    आशा

    ReplyDelete
  2. अरून भाई, होली के मौके पर बहुत सुंदर चर्चा सजाई। कृपया स्‍वीकार कीजिए, इस नाचीज की भी बधाई।
    ............
    11 लाख का हो गया यश भारती...

    ReplyDelete
  3. होली की अग्रिम बधायी हो अरुण जी!
    आज की चर्चा लगाने में आपने बहुत परिश्रम किया है!
    आभार!

    ReplyDelete
  4. शुभ प्रभात
    नई सुबह
    ढेर सारा आलस
    सब हो गया दूर
    दिखाई पड़ी..
    जब
    मेरी पसंदीदा रचना
    यहाँ
    अरुण भाई ने
    छुट्टियों का ..
    उत्तम प्रबंध कर दिया
    साधुवाद


    सादर

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर और विस्तृत चर्चा।

    ReplyDelete
  6. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  7. कई सारे लिनक्स मिले ..... सुंदर चर्चा

    चैतन्य को शामिल करने का आभार

    ReplyDelete
  8. बहुत सुंदर चर्चा लायें हैं
    101 लिंक्स की रेल बनाये हैं
    होली की बरस रही फुहार है
    बेशरम उल्लूक का आभार है !

    ReplyDelete
  9. आज की चर्चा ब्लॉग एग्रीगेटर का काम भी कर रही है !
    बहुत आभार !

    ReplyDelete
  10. इतने सारे सुन्दर लिंक्स! अनन्त भाई ने बहुत श्रम किया है! उनका आभार!
    अनन्त भाई होली की अग्रिम शुभकामनाओं के साथ मेरी रचना को स्थान देने के लिए आभार!

    ReplyDelete
  11. आज की चर्चा तो बहुत ही खास है,बहत परिश्रम से १०१ लिंकों का उपहार दिए हैं होली के सगुन के तौर पर,बहुत बहुत बधाइयाँ और होली की अग्रिम शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  12. ग़ज़ब !
    सारा ब्लॉग ब्रह्माण्ड समायोजित है।
    होली की शुभकामनायें भाई।

    ReplyDelete
  13. आज की चर्चा तो आपनें शानदार तरीके से सजाई है जिसमें ढेर सारे लिंकों का समावेश किया है !
    होली कि हार्दिक शुभकामनायें !!
    आभार !!

    ReplyDelete
  14. बहुत बहुत आभार अरुन जी,
    मुझे स्थान देने के लिए ...सभी सुन्दर लिंक्स दिए है
    जरुर पढने की कोशिश करुँगी ! होली की हार्दिक शुभकामनायें ...आभार !

    ReplyDelete
  15. भाई अरुण जी आभार सुन्दर लिंक्स |चर्चा मंच के सभी संपादकों और पाठकों को होली की रंग बिरंगी शुभकामनायें |

    ReplyDelete
  16. बड़े लिंक्स जमा कर दिए भाई। इनके साथ मास्टर्स टैक की पोस्ट शामिल करने का आभार।

    ReplyDelete
  17. सुन्दर लिंक्स से सजी विस्तृत चर्चा

    ReplyDelete
  18. बहुत म्हणत से सजी गई .....बहुत बढ़िया चर्चा ....
    मुझे स्थान दिया ....बहुत बहुत आभार ....!!

    ReplyDelete
  19. वाह! इतने सारे लिंक्स...वो भी होली के ! मज़ेदार! मगर टाइम लगेगा सबको पढ़ने में....आराम-आराम से पढ़ेंगे... :-)
    मेरी रचना को स्थान देने का आभार अरुण जी!
    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  20. बहुत ही विस्तृत चर्चा ... लिंक्स ही लिकन्स आज तो ...

    ReplyDelete
  21. पढ़ डालूँ मैं सारे लिंक
    एक एक चुन चुन के
    खुद को मैं बधाईयाँ दूँ
    आभार रखूं श्री अरुण जी के |

    ReplyDelete
  22. सुन्दर लिंक्स और बढिया चर्चा,आभार, श्री अरुण जी ,होली की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  23. आभार अरुन जी,बहुत बढिया चर्चा !

    ReplyDelete
  24. सुन्दर लिंक्स सुन्दर चर्चा,आभार,होली की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  25. वाह ,इतने ढेर सारे लिनक्स...
    बढ़िया चर्चा .....अरुण जी....
    मेरी रचना शामिल करने के लिए हार्दिक धन्यवाद...
    साभार.....

    ReplyDelete
  26. बहुत सुन्दर रंगारंग चर्चा प्रस्तुति...
    मेरी ब्लॉग पोस्ट शामिल करने हेतु आभार..

    ReplyDelete
  27. बहुत - बहुत शुक्रिया अरुण जी ... मेरी रचना को शामिल करने के लिए ...

    ReplyDelete
  28. बढ़िया चर्चा मंच फाग पे .मुबारक फाग फाग की रीत ,फाग की प्रीत ,फाग के लठ्ठ फाग . की भंग ,राग और रंग .शुक्रिया ज़नाब की सौद्देश्य टिपण्णी का .चर्चा मंच में हमें शोभने का .सभी ब्लोगर्स को फाग मुबारक .

    अनंत भाई तबीयत खुश हो गई कार्टून कौना चित्र व्यंग्य देख के .यह सब मोर्फिंग कहाँ से सीखी हमने लासवेगास में देखीं थी इसकी करामातें गत अमरीकी प्रवास के दौरान .

    ReplyDelete
  29. waah .....holi ...bhi rang birangi ...charcha manch bhi rang biranga ....thanks nd aabhar ....

    ReplyDelete
  30. प्रिय अरुण बहुत ही शानदार चर्चा लगाई है आज सूत्र ही सूत्र ,बहुत विस्तृत चर्चा, मेरी रचना को शामिल करने के लिए हार्दिक आभार|

    ReplyDelete
  31. अच्छी रविवारीय चर्चा। मेरे दोनों लेखों को शामिल करने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

    नये लेख : भगत सिंह, 20 रुपये के नये नोट और महिला कुली।
    विश्व जल दिवस (World Water Day)
    विश्व वानिकी दिवस
    "विश्व गौरैया दिवस" पर विशेष।

    ReplyDelete
  32. वाह ...इतने सारे लिंक ...पढने में समय लगेगा .
    'स्याही के बूटे' की भोर तक की यात्रा का साथ देने के लिए बहुत-बहुत आभार

    ReplyDelete
  33. Sundar charcha...
    Mujhe shamil karne k lie aabhar.

    ReplyDelete
  34. जबदरस्त चर्चा सजाई अरुण भाई आपने. बहुत बहुत धन्यवाद.

    ReplyDelete
  35. बहुत सुन्दर लिनक्स अरुण भाई | मेरी कविता सम्मलित करने के लिए आभार | सभी ब्लॉगर मित्रगण को होली की शुभकामनायें |

    ReplyDelete
  36. अरुण होली कि शुभकामनाएं
    एक सौ एक लिंक जोड़के,गुजिया मीठी खाएं
    फुलों कि मटकी फोड़के ,होली सभी मनाए

    ReplyDelete
  37. achhe links ke sankalan ke liye badhai.

    meri panktiyon ko sthan dene ke liye abhaar.

    shubhkamnayen

    ReplyDelete
  38. Sabhi ko Holi ki hardik Shubhkamnayen

    ReplyDelete
  39. अरुण जी, देर से आने के लिए खेद है..इतने सारे लिंक्स..बधाई इस सुंदर चर्चा के लिए..आभार!

    ReplyDelete
  40. मनभावन लिंक्स,होली की हार्दिक बधाई और शुभकामनाये !तहे दिल से शुक्रिया और आभार आपका !

    ReplyDelete
  41. ओह्होहः .. इत्ते इत्ते लिंक ..! शुक्रिया अरुण भाई.

    ReplyDelete
  42. bahot maza aaya.....aur mujhe shamil karne ke liye shukriya.

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin