समर्थक

Saturday, October 21, 2017

"भाईदूज के अवसर पर" (चर्चा अंक 2764)

मित्रों!
शनिवार की चर्चा में आपका स्वागत है। 
देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।

(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') 

--

चर्चा मंच पर प्रतिदिन अद्यतन लिंकों की चर्चा होती है।
आश्चर्य तो तब होता है जब वो लोग भी चर्चा मंच पर 
अपनी उपस्थिति का आभास नहीं कराते है, 
जिनके लिंक हम लोग परिश्रम के साथ मंच पर लगाते हैं।
अतः आज के बाद ऐसे धुरन्धर लोगों के ब्लॉग का लिंक 
चर्चा मंच पर नहीं लगाया जायेगा।
--
--
--
--
--
तीन पीढ़ी, तीन साल 
और तीन महिने का हिसाब 
परसों ९ अक्टूबर २०१७ को 
तोताराम ने हमसे प्रतिज्ञा करवाई थी कि 
जब तक चोर- लुटेरे और भ्रष्टाचारी 
मोदी जी के खिलाफ... 

--

जिधर तू नहीं .... 

हवा में घुटन है मगर क्या करें 
कि तूफ़ान में और घर क्या करें 
फ़क़त एक ही लफ़्ज़ है दर्द का ये: 
क़िस्सा-ए-ग़म मुख़्तसर क्या करें... 
Suresh Swapnil 
--
--
--
--

3 comments:

  1. शुभ प्रभात....
    भैय्या दूज की शुभ कामनाएँ
    आभार
    सादर

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर प्रस्तुति। मंगलकामनाएं भाई दूज की।

    ReplyDelete
  3. बढ़िया लिंक्स

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin