Followers

Thursday, August 26, 2021

चर्चा - 4168

आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है
धन्यवाद 
दिलबागसिंह विर्क 

8 comments:

  1. बहुत सुंदर प्रस्तुति।
    सभी को हार्दिक बधाई।
    सादर

    ReplyDelete
  2. सुप्रभात
    उम्दा अंक आज का |मेरी रचना को स्थान देने के लिए आभार सहित धन्यवाद दिलबाग जी |





    ReplyDelete
  3. सुप्रभात !
    विविधता से परिपूर्ण उत्कृष्ट अंक । बहुत शुभकामनाएं आपको आदरणीय 🙏🙏

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर और पठनीय सूत्र।
    आपका आभार आदरणीय दिलबाग सर।

    ReplyDelete
  5. प्रणाम द‍िलबाग जी, अरे वाह, आज तो हमें दो बार स्‍थान म‍िल गया आपके इस नायाब मंच पर। बहुत बहुत धन्‍यवाद आभार

    ReplyDelete
  6. bahut sundar hardik dhnyawad hamen shamil karne ke liye

    ReplyDelete
  7. हार्दिक आभार एवं शुभकामनाएँ सुन्दर एवं पठनीय प्रस्तुति के लिए ।

    ReplyDelete
  8. आदरणीय मेरी प्रविष्टि् को "बाँसुरी कान्हां की"(चर्चा अंक- 4171) पर स्थान देने के लिये सादर धन्यवाद ।
    सभी रचनाएँ सुंदर और बढ़िया , सभी आदरणीय को बहुत बधाइयाँ ।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।