Followers


Search This Blog

Thursday, August 01, 2013

२९ वां राज्य ( चर्चा -1324 )

आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है
 
नए राज्य के गठन की तैयारी हो चुकी है, तेलंगाना भारतीय गणतन्त्र का २९ वां राज्य बनने जा रहा है, लेकिन हैदराबाद को लेकर राजनैतिक रोटियाँ उसी तरह सिकेंगी जैसे चंडीगढ़ को लेकर आज तक सिंकती आ रही हैं,  तैयार रहिए राजनेताओं के नए प्रपंच के लिए  
चलते हैं चर्चा की ओर
Premchand02.jpg
Albela Khatri
जाले
 
"कुछ कहना है"
आपका ब्लॉग
Shashi Purwar
आज की चर्चा में बस इतना ही 
धन्यवाद 
"मयंक का कोना" कुछ अद्यतन लिंक
(1)
ये यादे ना आया करे …….प्रियंका सिंह

यूँ ही कभी यादों के सायें 
जब सोच पर भरमा जाते है ये 
दिल फिर उन लम्हों को ढुंढता हुआ पुराने ज़ख्मो को फिर से हवा देता है ये
 बेमौसम की बरसात जो मुझ को अच्छी नहीं लगती 
जो मन को भिगोती है ....
मेरी धरोहर पर yashoda agrawal 
(2)
पासपोर्ट बनवाने का आसान तरीका !

Computer Tips & Tricks पर Rinku Siwan

(3)
बचत-खाता रहा हूँ...........
कमाई का फकत जरिया रहा हूँ तेरी खातिर बचत खाता रहा हूँ || 
पिलाता ही रहा मैं जाम बन कर कसम तोड़ी नहीं प्यासा रहा हूँ...
अरुण कुमार निगम (हिंदी कवितायेँ)

(4)
किन्नर

आपका ब्लॉग पर DrRaaj saksena 

--
दो अगीत .... डा श्याम गुप्ता
आपका ब्लॉग
आपका ब्लॉग पर shyam gupta
--
शर्ते प्रिया की

मैं कश्ती तू पतवार प्रिये|

तू मांझी  मैं मंझधार प्रिये...
--
जान
ये जान जान कर जान गया ,ये जान तो मेरी जान नहीं जिस जान के खातिर  जान है ये, इसमें उस जैसी शान नहीं
जब जान बो मेरी चलती   है ,रुक जाते हैं चलने बालेजिस जगह पर उनकी नजर पड़े ,थम जाते हैं  मय के प्याले
मदन मोहन सक्सेना
--
(5)
कार्टून :- ये है सर्वश्रेष्‍ठ पत्रकारि‍ता अवार्ड

काजल कुमार के कार्टून

25 comments:

  1. समसामयिक लिंक्स दी हैं आज आपने |मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |

    ReplyDelete
  2. शुभ प्रभात
    तात्कालिक सूचना तो आप दे ही देते हैं ...साधुवाद
    सुन्दर सूचना परक लिंक्स
    सादर

    ReplyDelete
  3. वाह इससे ताज़ा चर्चा क्‍या हो सकती है, कि‍ इतना नवीन कार्टून भी आपने सम्‍मि‍लि‍त कि‍या. आभार.

    ReplyDelete
  4. सुंदर विविध रंगों के लिंक्स........

    ReplyDelete
  5. प्रचुर मात्रा में पठनीय व रोचक सूत्र..आराम से बैठकर पढ़ते हैं, आभार।

    ReplyDelete
  6. बहुत ही अभिनव चर्चा।
    आज मेरे सभी सहयोगियों के श्रम, लगन और निष्ठा के कारण
    चर्चा मंच नम्बर एक पर है।
    आभार...!

    ReplyDelete
  7. श्रीमती यशोदा दिग्विडय अग्रवाल 9 अगस्त से हर शुक्रवार को अपनी चर्चा लगायेंगी।
    सूचनार्थ!
    --
    चर्चा मंच परिवार आपका स्वागत और अभिनन्दन करता है।

    ReplyDelete
    Replies
    1. गुरुदेव
      वन्दन
      कृपया नाम सुधारें
      यशोदा दिग्विजय अग्रवाल लिखती हूँ मैं
      सादर

      Delete
  8. बढ़िया चर्चा-
    बधाई भाई दिलबाग जी-

    बना तिलंगाना मधुर, गाओ प्यारे गीत |
    आन्दोलन होता सफल, जाते दुर्दिन बीत |
    जाते दुर्दिन बीत, जगा जाए आन्दोलन |
    विदर्भ गोरखालैंड, पचासों का अनुमोदन |
    करो बाँट के राज, पड़े पर भारी पंगा |
    उड़ा रही सरकार, देश को बना *तिलंगा |

    *बड़ी पतंग

    ReplyDelete
  9. बहुत बढ़िया चर्चा..... शामिल करने का आभार

    ReplyDelete
  10. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।। त्वरित टिप्पणियों का ब्लॉग ॥

    ReplyDelete
  11. बहुत सुन्दर चर्चा प्रस्तुति ..आभार

    ReplyDelete
  12. आदरणीय दिलबाग सर बहुत ही सुन्दर चर्चा लगाई है आपने आदरणीया यशोदा दी का हार्दिक स्वागत है.

    ReplyDelete
  13. सुप्रभात.बहुत सुन्दर......
    watch & join
    www.sriramroy.blogspot.in
    जबसे निगाहों के सामने,
    तू आई ….
    अँधेरे में भी रौशनी,
    नजर आई …. ।।

    ReplyDelete
  14. सटीक व सार्थक पठनीय सूत्र .....

    ReplyDelete
  15. मेरी रचना शामिल करने के लिए आपका आभार ……
    सुंदर प्रस्तुति ब्लाग्स की ……
    धन्यवाद् !

    ReplyDelete
  16. बहुत सुंदर लिंक्स, आभार.

    रामराम.

    ReplyDelete
  17. बहुत सुंदर लिंक्स, आभार.

    ReplyDelete
  18. बहुत सुंदर प्रस्तुति...

    ReplyDelete
  19. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  20. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  21. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  22. सटीक व सार्थक पठनीय सूत्र .....मेरी रचना शामि‍ल करने के लि‍ए धन्‍यवाद

    ReplyDelete
  23. आपके ब्लॉग को "ब्लॉग - चिठ्ठा" में शामिल किया गया है। सादर …. आभार।।

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।