Followers

Search This Blog

Wednesday, July 01, 2020

"चिट्टाकारी दिवस बनाम ब्लॉगिंग-डे" (चर्चा अंक-3749)

मित्रों!
     21 अप्रैल, 2003 को आलोक पुराणिक का हिन्दी का पहला ब्लॉग “नौ दो ग्यारह” सर्वप्रथम प्रकाश में आया था। उसके बाद तो अब तक बहुत सारे लोगों ने अपने ब्लॉग बना कर हिन्दी भाषा अभिवृद्धि में अपना योगदान दिया है।
     हिन्दी ब्लॉगिंग के हास्य-व्यंग्य के पुरोधा पी.सी मुद्गल बनाम “ताऊ रामपुरिया” ने आवाज बुलन्द की थी कि 1 जुलाई को ब्लॉगिंग-दिवस मनाया जाये। “देर आयद-दुरुस्त आयद” लेकिन उनकी इस पहल का मैं स्वागत करता हूँ।
     चाहे दुनिया इस ओर सकारात्मक कदम बढ़ाये या न बढ़ाये मगर हम हिन्दी ब्लॉगरों ने तो 1 जुलाई के दिन को “चिट्ठाकारी दिवस” की घोषणा कर ही दी है।
     मुझे आशा ही नहीं अपितु पूरा विश्वास है कि सभी चिट्ठाकारों का भरपूर समर्थन इस मुहिम को प्राप्त होगा।

******

"चिट्टाकारी दिवस बनाम ब्लॉगिंग-डे" 

(डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

चिट्ठाकारी ने किया, जाग्रत देश-समाज।
लेकिन ब्लॉगिंग का नहीं, दिवस जगत में आज।।
--
खोजे अन्तरजाल पर, सारे ही आलेख।
लेकिन चिट्ठा-दिवस का, कहीं नहीं उल्लेख।।
--
व्यापक चिट्ठे बहुत हैं, व्यापक अन्तरजाल।
ब्लॉगिंग-डे घोषित नहीं, इसका बहुत मलाल।।

******


हिंदी के प्रसार में ब्लॉग का योगदान....  

वाया यूके हिंदी समिति 

निज भाषा उन्नति अहै, सब उन्नति को मूल
बिन निज भाषा-ज्ञान के, मिटत न हिय को सूल।।

अंग्रेज़ी पढ़ि के जदपि, सब गुन होत प्रवीन
पै निज भाषाज्ञान बिन, रहत हीन के हीन।।
ज्ञानवाणी पर वाणी गीत 

******

आशा सक्सेना
चर्चा मंच आज  हिन्दी ब्लॉगिंग दिवस पर 
सबसे अधिक सक्रिय श्रीमती आशा सक्सेना जी का 
अभिनन्दन करते हुए गर्व का अनुभव कर रहा है।
२ मई १९४३को जन्मीं श्रीमती आशा लता सक्सेना,  उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उज्जैन से सेवा निवृत्त हैं आपके पिता स्वर्गीय श्री बृज भूषण लाल सक्सेना (अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश मध्य प्रदेश) और माता स्वर्गीया डॉ. श्रीमती ज्ञानवती सक्सेना ‘किरण’ थीं। आपके पतिदेव श्री हरेश कुमार जी सक्सेना सेवा निवृत्त प्रधानाचार्य हैं। श्रीमती आशा लता सक्सेना ने  बी. एस. सी., एम. ए. अर्थशास्त्र, एम. ए. अंग्रेज़ी. तथा बी. एड. तक की शिक्षा प्राप्त की है। आपके अब तक ग्यारह काव्य संग्रह अनकहा सच, अंत:प्रवाह, प्रारब्ध, शब्द प्रपात, सुनहरी धूप, सिमटते स्वप्न, काव्य सुधा, युगांतर, यायावर, पलाशऔर आकांक्षा प्रकाशित हो चुके हैं।
आप अपने ब्लॉग Akanksha -Asha Lata Saxena पर प्रतिदिन एकाधिक पोस्ट लगाती हैं। ! 
इसके अलावा अंगेरेजी का भी एक ब्लॉग साईप्रस के नाम से चलाती हैं, जिसमें अंग्रेज़ी की कवितायें भी लिखती हैं।  चर्चामंच  परिवार आपके दीर्घ जीवन की कामना करता है।

******


भोर की किरणें 

कहें ये भोर की किरणें,निराशा छोड़ के जागे।  
उजाले आस से लेकर,नहीं रण छोड़ के भागे।  
कहाँ देखी बिना श्रम के,मिली खुशियाँ जमाने से।  
भरोसा रख करो हिम्मत,बढ़ो सब छोड़ के आगे... 
Anuradha chauhan 

******

सरहदें 

विश्व पूरा बटा है अनगिनत देशों में  
सरहदों ने अलग किया है एक दूसरे से सब को |  
अधिकाँश देशों में है तनातनी  
कहीं नहीं है शान्ति  
बैठे है सब दहकते अंगारों पर ... 

******

अंजाम 

 मन के भाव
नक़ाब जब हटता है
और सच सामने आता है

मुखौटे में शैतान देख
रुदन तब मुस्कुराता है...

******

चन्द यादों के कुछ करेले हैं ... 

गम के किस्से, ख़ुशी के ठेले हैं
ज़िन्दगी में बहुत झमेले हैं

वक़्त का भी अजीब आलम है
कल थी तन्हाई आज मेले हैं... 
स्वप्न मेरे पर दिगंबर नासवा  

******

सुमधुर परिणय 

नेह के बंधन हृदय में, संग सजनी पथ खड़ी
मुझको तो ऐसा लगे, बस यही विदा की घड़ी

माँग पर टीका तुम्हारे, रात तारों से सजी
कह दो के तुमको भी, थी प्रतीक्षा मेरी
नभ झुका है सामने, हमको ये आशीष देने
मेरे लिए प्रमाण हो तुम हर साक्ष्य से बड़ी... 

Roli Abhilasha  

******

******

लिखे जो खत तुझे 

हाथ से लिखे शब्द 
मात्र शब्द नहीं होते 
उनमें हृदय की संवेदना भी छिपी होती है 
मस्तिष्क की सूक्ष्म तंत्रिकाओं का कम्पन भी 
गहरा हो जाता है कभी कोई शब्द
कभी कोई हल्का 
कभी व्यक्त हो जाती है उनमें 
लिखने वाले की ख़ुशी 
कभी दर्द...  

******

कोरोना वारियर्स को समर्पित दोहे  

आपका ब्लॉग
कोरोना योद्धा सभी,भूल गए घर-द्वार।
ऐसे वीरों के लिए,शब्द कहूँ मैं चार।।

कोरोना के काल में,वीर बने चट्टान।
श्वेद-रक्त टीका लगा,रखें हथेली जान।। 
आपका ब्लॉग पर Abhilasha  

******

लघुकथा :  

माँ 

..."अवि !क्या हो गया बेटा ?" "माँ ! सारी माएँ अपने बच्चे की सुरक्षा के लिये सतर्क रहती हैं ,फिर ये शेरनी अपने बच्चे को इस हाथी की सूँड़ में कैसे छोड़ कर आराम से टहलती चल रही है और उसको देख भी नहीं रही है ",नन्हा अवि शेर के नन्हे के लिये चिंतित था । "बेटा ! माँ कोई भी हो वह सिर्फ माँ होती है " 
झरोख़ा पर निवेदिता श्रीवास्तव  

******

दशमूलक्वाथ :  

समस्याएँ अनेक उपाय सिर्फ एक. 

ग्रामीण क्षेत्रों में प्रथम औषधि के रुप में प्रचलित दस विभिन्न जडी-बूटियों के मेल से निर्मित दशमूलक्वाथ शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता का विकास करने के साथ ही अनेकों छोटी-बडी समस्याओं के निवारण में निर्विवाद रुप से उपयोगी होता है । दशमूलक्वाथ दशमूल में मिश्रीत औषधियां *बेल**, श्योनाक, गंभारी, पाढ़ल, अरलू, सरिवन, पिठवन, बड़ी कटेरी, **छोटी कटेरी *और*गिलोय* के मिश्रण से बनती हैं और प्रायः इसका उपयोग पसिद्ध आयुर्वेदिक कम्पनियों द्वारा निर्मित काढे (क्वाथ) के रुप में अधिक किया जाता है... 
स्वास्थ्य - सुख पर Sushil Bakliwal - 

******

एकाकी होता जाता इंसान 

चीनी वायरस कोरोना के कारण जन-जीवन अस्तव्यस्त होता नजर आ रहा है. लॉकडाउन के चार चरणों के बाद जब देश में अनलॉक की प्रक्रिया आरम्भ हुई तो भी लोगों में एक तरह का डर बैठा हुआ है. ये और बात है कि बहुत से लोग इस डर का प्रदर्शन कर दे रहे हैं और बहुत से इसे छिपाने में सफल हो जा रहे हैं. कोरोना संकट के इन दिनों में व्यक्ति अपने परिजनों के साथ बना हुआ है... 
राजा कुमारेन्द्र सिंह सेंगर  

******

अर्धचंद्र ! 

याद है इक दिन युहीं बैठे-बैठे
मेरी दाहिनी बाज़ू के पीछे 
तुमने इक अर्धचंद्र बनाया था 
सालों हुए 
चाँद तो कबका अस्त हो चुका ! 
पर काली अमावस अब भी 
क्रमबद्ध 
हर पंद्रह दिन बाद आ ही जाती है !
VenuS "ज़ोया" 

******

गर्मी की छुट्टियां 

nature
हर बार गर्मियों की छुट्टियों में मजा आता था 
थोड़ा कम,थोड़ा ज्यादा मगर मजा आता था
थोड़ा अल्हड़ थोड़ा चितकबरा सा  मेरा गांव
थोड़ा अनगढ़ थोड़ा अनपढ़ प्यारा सा मेरा गांव... 
hindiguru  

******

******

******

गाँव 

सोंधी माटी गाँव की, वो खेतों की मेड़ ।  
रचा बसा है याद में, वो बरगद का पेड़।।  
अथक परिश्रम खेत में, कृषक हुआ जब क्लांत।  
हरियाली तब गाँव की, करे चित्त को शांत... 
काव्य कूची पर anita _sudhir 

******

गो कोरोना गो 

दुनिया से हो गयी हूँ आइसोलेट 
हूँ रसोई में कवारंटीन 
पैर पडूँ तुम्हारे कोरोना 
जाओ तुम वापिस अपने चीन। 
कुमाउँनी चेली पर शेफाली पाण्डे  

******

******

शब्द-सृजन-28  का विषय है-

'सीमा/ सरहद' 

आप इस विषय पर अपनी रचना
 (किसी भी विधा में) आगामी शनिवार
 (सायं बजे)   तक चर्चा-मंच के ब्लॉगर संपर्क फ़ॉर्म
 (Contact Form )  के ज़रिये हमें भेज सकते हैं।
******
आज की चर्चा में हस इतना ही...। 
अगले सप्ताह फिर कुछ ब्लॉगरों के 
परिचय के साथ उपस्थित हो जाऊँगा। 
******

29 comments:

  1. शास्त्री जी ,
    सदर नमन
    बहुत ही अच्छी प्रस्तुति। बहुत अच्छा संयोजन किया है रचनाओं का। आज की भूमिका बहुत अच्छी लगी। आप सब को चिट्टाकारी दिवस बनाम ब्लॉगिंग-डे" की बाहत शुभकामनायें। चर्चामर्च एक सचालन करने वाले सभी साथियों का अभिनन्दन और धनयवाद भी। आप सब बहुत ही निष्ठां के साथ बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे हैं.
    आज की सभी चयनित लरचनाये एक से बढ़ कर एक हैं , बहुत ही अच्छा चयन किया है , देशप्रेम से ले कर है रास की रचना सम्मलित है
    सभी रचनाकारों को शुभकामनाएं
    मेरी रचना को स्थान देने किये ह्रदय से आभार

    ReplyDelete
  2. सुन्दर जानकारी हे युक्त आज का अंक सभी कलमकारों के लिए सुखद अनुभूति का विषय है।
    बधाई व शुभकामनाएँ ।

    ReplyDelete
  3. गुरुजी ,प्रणाम।

    और चिट्ठाकारी दिवस की सभी को शुभकामनाएँ।

    ब्लॉगिंग के प्रति आपका समर्पण, निष्पक्ष भाव और यह अभियान प्रेरणास्पद है। ईश्वर आपको सदैव इसी प्रकार कर्मपथ पर रखे और आप शतायु हो। मेरी ऐसी कामना है।
    ब्लॉग पर मेरा आना अचानक ही हुआ। रेणु दीदी ने मेरे ब्लॉग को ठीक कर दिया और मैं सफ़र पर आगे बढ़ गया। साहित्य जगत से जुड़ा न होकर भी आपसभी का संग पाकर लेखनी में कुछ सुधार होता चला जा रहा है। मैं अपने मन के भाव लिख पा रहा हूँ, यह मेरे लिए बड़ी उपलब्धि है।
    आज के इस विशेष अंक में जहाँ मंच अनेक रंगों से सराबोर है, उन्हीं के मध्य मेरी रचना " अंजाम " को भी आपने स्थान दिया है। यह मेरा सौभाग्य है।

    ReplyDelete
  4. ब्लॉग जगत के सभी विद्वजनों को "चिठ्ठाकारी दिवस" की हार्दिक शुभकामनाएं । आज की चर्चा में आदरणीया आशालता सक्सेना जी के व्यक्तित्व और कृतित्व के बारे पढ़ कर बेहद अच्छा लगा।उनकी अनवरत साधना और विनम्रता अतुलनीय है ।विविध भावों से सजी प्रस्तुति में चयनित सभी रचनाकारों को बहुत बहुत बधाई ।

    ReplyDelete
  5. सभी चिट्ठाकारों और ब्लॉगर्स चिट्टाकारी दिवस या ब्लॉगर्स डे की असीम शुभकामनाएं:-
    आदरणीय शास्त्री जी प्रणाम आप के मार्गदर्शन से ही में ब्लॉगिंग सक्रिय हू आप काफी लंबे समय से युवा एवम् वरिष्ठ ब्लॉगर्स को प्रेरित कर रहे है आशा लता सक्सेना जी को भी प्रणाम । मेरी रचना को शामिल करने के लिए साधुवाद , आज का अंक संग्रहणीय एवम् पठनीय हे

    ReplyDelete
  6. सभी विद्वजन ब्लॉगर्स को हार्दिक शुभकामनाएं
    और इस दिवस पर मेरी रचना को स्थान देने के लिये
    हार्दिक आभार

    ReplyDelete
  7. ब्लॉगिंग दिवस की सभी सम्माननीय ब्लॉगर्स को हार्दिक बधाइयाँ एवं अनंत अशेष शुभकामनाएं ! चर्चामंच का आज का अंक बहुत ही सार्थक एवं सुन्दर है ! मेरे यह इसलिए और अति विशिष्ट एवं संग्रहणीय हो गया है क्योंकि आज इस अंक में ब्लॉगिंग डे पर मेरी अग्रजा आशा दीदी के कार्यों की सराहना कर उनका अभिनन्दन किया गया है ! उनकी रचनाधर्मिता एवं साधना निश्चित रूप से अनन्य है और वे हम सबके लिए प्रेरणा का बहुत ही सुदृढ़ आधार हैं ! उन्हें मेरी बहुत बहुत बधाई एवं ढेर सारी शुभकामनाएं ! सभी रचनाएं अनुपम ! सभी रचनाकारों का हार्दिक अभिनन्दन और शास्त्री जी आपको मेरा सादर वन्दे !

    ReplyDelete
  8. ब्लोगार्स् दे पर आज का अंक पढ़ा |उम्दा लिंक्स का समुच्चय | सर आपने जो सम्मान आज मुझे दिया है मुझे अपार प्रसन्नता है | मुझे अनवरत लिखने की प्रेरणा आप और मेरी छोटी बहन साधना वैद से ही मिली है |प्रेरणास्रोत मेरी माताजी ज्ञानवती जी और जीवन साथी हरेश कुमार जी हैं |मैं तो आज तक नहीं जान पाई कि क्या मैं इस सम्मान की हकदार भी हूँ या नहीं |आभार सहित धन्यवाद शास्त्री जी |

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपकी साहित्य साधना को नमन।
      हम सभी को आपसे इसी प्रकार ऊर्जा मिलती रहे।

      Delete
  9. सभी साहित्य-सेवकों को साधुवाद और बधाई। आज की इस विहंगाम प्रस्तुति का आदरणीय मयंक जी को विशेष आभार!

    ReplyDelete
  10. ब्लॉगिंग दिवस पर सभी रचनाकारों व पाठकों को हार्दिक बधाई, ब्लॉग जगत में चर्चा मंच का भी बहुत बड़ा योगदान है, इसके लिए हृदय से आभार शास्त्री जी व सभी चर्चाकारों को !

    ReplyDelete
  11. ब्लॉगिंग दिवस की सभी सम्माननीय ब्लॉगर्स को हार्दिक बधाइयाँ एवं शुभकामनाएं...
    आशा दीदी को बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं।
    सुंदर भूमिका के साथ उम्दा लिंक्स। मेरी रचना को शामिल करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद, आदरणीय शास्त्री जी।

    ReplyDelete
  12. ब्लॉगिंग दिवस की शुभकामनाएं, बहुत खूबसूरत चर्चा प्रस्तुति

    ReplyDelete
  13. ब्लॉगिंग दिवस पर सभी समर्पित साथियों को अनेक शुभकामनाएँ... चर्चामंच की इस विशिष्ट प्रस्तुति में मेरी पोस्ट को भी स्थान देने हेतु आभार सहित.

    ReplyDelete
  14. आप सभी रचनाकारों व पाठकों को ब्लॉगिंग दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं,
    आदरणीय शास्त्री सर को सादर नमन, ब्लॉग जगत में उनका योगदान अतुलनीय है जो हमें भी प्रोत्साहित करता रहता हैं।
    आदरणीया आशा दी को भी सादर नमन एवं शुभकामनाएं,उनकी लेखनी यूँ ही चलती रहें यही कामना हैं

    ReplyDelete
  15. ब्लॉगिंग दिवस की शुभकामनाएं,सराहनीय प्रस्तुति आदरणीय शास्त्री के द्वारा.सभी रचनाकारों को बहुत बहुत बधाई .
    सादर

    ReplyDelete
  16. बहुत ही उत्तम चयन एवं प्रस्तुति, आप सभी को ब्लॉगिंग दिवस की शुभकामनाएं।
    सादर आभार

    ReplyDelete
  17. ब्लॉगिंग दिवस की बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं सभी मित्रों को

    ReplyDelete
  18. आदरणीय शास्त्री जी आप हमेशा ही ब्लॉगरों का मनोबल बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं ब्लॉगिंग दिवस के मौके पर मेरी पोस्ट को शामिल करने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद मैं आपसे काफी कुछ सीख रहा हूं अभी इस क्षेत्र में बिल्कुल नया हूं और आपका प्यार और आशीर्वाद मुझे ऐसे ही मिलता रहेगा ऐसी मैं आशा करता हूं एक बार फिर से आपका बहुत-बहुत धन्यवाद सभी ब्लॉगर मित्रों को भी बहुत-बहुत धन्यवाद आपके सहयोग के लिए

    ReplyDelete
  19. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  20. आदरणीय सर, क्षमा चाहती हूँ देर से आई। ब्लॉगर् दिवस पर विशेष प्रस्तुतिबहुत मनभावन है।आलोक पौराणिक जी का लगाया एक पौधा आज रचनात्मकता का हरियाला जंगल बन
    चुका है। सभी को बधाई और शुभकामनायें। ब्लॉग हगत की अत्यंत सरल, शालीन और विद्वान सदस्या आशा जी के बारे में जान कर बहुत खुशी हुई। वे निष्काम भाव से सृजन करती हैं और समस्त ब्लॉग जगत में अपना अहम स्थान सुरक्षित है। उन्हें बहुत बहुत बधाई और शुभकामनायें ।सादर🙏🙏🙏

    ReplyDelete
  21. ब्लोगेर दिवस की शुन्ह्कम्नाएं सभी को ... लाजवाब संकलन ...
    आभार मेरी रचना को जगह देने के लिए ...

    ReplyDelete
  22. its really very amazing to read this article, thanks for sharing. seo dubai

    ReplyDelete
  23. We are well established IT and outsourcing firm working in the market since 2013. We are providing training to the people ,
    like- Web Design , Graphics Design , SEO, CPA Marketing & YouTube Marketing.Call us Now whatsapp: +(88) 01537587949
    : Freelance training
    good post Mobile XPRESS
    Free bangla sex video:Delivery Companies in UK
    good post Mobile XPRESS

    ReplyDelete
  24. Really it is a very informative and helpful post,Thank you so much for sharing this post,dehumidifier supplier in Bangladesh

    ReplyDelete
  25. Wow very nice blog site .Really it is a one of the best blog site I am very impressed to your post. Thank you so much for sharing this post.Best Software Company in Bangladesh

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।